नासिक लोकसभा क्षेत्र

महाराष्ट्र का नासिक शहर हिन्दू श्रद्धालुओं की आस्था का एक प्रमुख केन्द्र है। यह पवित्र गोदावरी नदी के तट पर स्थित है। देश के प्रसिद्ध 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक त्र्यंबकेश्वर ज्योतिर्लंग यहीं पर स्थित और यहां 12 साल में महाकुभं का आयोजन होता है, जिसमें देश-विेदेश के श्रद्धालु शामिल होते हैं। यहां प्रमुख दर्शनीय स्‍थल पंचवटी है। कहा जाता है कि श्रीराम, लक्ष्मण और सीता ने वनवासकाल में यहां काफी समय बिताया। इसे 'दक्षिण काशी' भी कहा जाता है।

जनसंख्‍या : जनगणना 2011 के अनुसार नासिक शहर की कुल जनसंख्‍या 14 लाख 86 हजार 53 है, जिसमें 7 लाख 82 हजार 517 पुरुष और 7 लाख 3 हजार 536 महिलाएं हैं।
 
अर्थव्यवस्था : बुनाई और चीनी व तेल प्रसंस्करण यहां के प्रमुख उद्योग हैं। इंडिया सिक्युरिटी प्रेस और करेंसी नोट मुद्रणालय जैसी औद्योगिक इकाइयां भी यहां स्थित हैं। यहां हवाई जहाज बनाने का एक कारखाना भी है। यह शहर अंगूरों के लिए भी विख्यात है।
 
मतदाताओं की संख्‍या : लोकसभा चुनाव 2014 के अनुसार इस संसदीय क्षेत्र में मतदाताओं की कुल संख्‍या 15 लाख 93 हजार 237 है, जिसमें 8 लाख 50 हजार 457 पुरुष और 7 लाख 42 हजार 780 महिलाएं हैं।
 
भौगोलिक स्थिति : यह महाराष्ट्र के उत्तर पश्चिम में मुंबई से 150 किलोमीटर की दूरी पर स्थित गोदावरी नदी के किनारे बसा हुआ है। कहा जाता है कि यह 9 टेकरियों पर स्थित है। समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 565 मीटर है।
 
16वीं लोकसभा में स्थिति : शिवसेना के हेमंत तुकाराम गोडसे यहां सांसद हैं। हेमंत ने एनसीपी के दिग्गज नेता छगन भुजबल को करीब 1 लाख 87 हजार मतों से पराजित किया था। यहां से महाराष्ट्र के दिग्गज नेता रहे यशवंतराव चव्हाण भी सांसद रह चुके हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख पुणे लोकसभा क्षेत्र