वर्ष 2012 में संतुलित रहेगी ग्रह-चाल

2012 में नहीं होगा विशेष राजनीतिक परिवर्तन

- ज्योतिर्विद् डॉ. रामकृष्ण डी. तिवारी
ND

नहीं होगा विशेष राजनीतिक परिवर्तन : शनि की संतुलन की स्थिति के कारण वर्ष में कोई विशेष राजनीतिक परिवर्तन की आशा नहीं है। बसपा के प्रभाव में वृद्धि के योग बनेंगे। संसदीय चुनाव समय से पूर्व होने की संभावना बनती है। राहुल गांधी के इस वर्ष में प्रधानमंत्री बनने के कोई योग नहीं हैं। पूर्वी प्रदेश में कई नेताओं को विपरीत स्थिति का सामना करना पड़ेगा। लोकपाल कानून बनने की प्रबल संभावना है। जनहित, किसानों तथा निवेश के हित में नीति बनने के योग हैं।

यूपीए सरकार को विपरीत स्थिति का सामना कई बार करना पड़ेगा, परंतु उसका राजयोग कायम रहेगा। कांग्रेस अपनी पूर्ववत स्थिति कायम रखने में सफल रहेगी। सोनिया गांधी की सेहत उत्तम रहेगी। मनमोहनसिंह के स्वास्थ्य में जून से अगस्त में स्थिति नाजुक बनने का योग है। आडवाणीजी के योग में कोई विशेष प्रभाव नहीं पड़ रहा है। भाजपा का प्रभाव राज्य सरकारों पर बढ़ेगा। अन्य विपक्ष की अपेक्षा भाजपा की स्थिति प्रबल होगी।

अनुकूल रहेगा मौसम : वर्षपर्यंत मौसम अनुकूल रहेगा। वर्षा पर्याप्त होगी। ग्रीष्म ऋतु में तेज कम रहने के योग हैं। वर्षा में क्रमशः वर्षा तो नहीं होगी, लेकिन रुक-रुक कर पूर्ण बरसात होगी। पूर्व एवं पश्चिम में बारिश अधिक होगी। शीत का प्रभाव अधिक मात्रा में होने से समुद्री किनारों पर भी शीत का प्रभाव पड़ेगा। फसल के लिए मौसम अच्छा है, लेकिन फसल पर कीट-पतंग या किसी प्रकार के रोग लगने की आशंका बनती है। इन सभी योगों के पश्चात भी कृषि उत्पादन, दुग्ध उत्पादन में वृद्धि होगी।

सामाजिक स्तर में वृद्धि का योग : जन सामान्य के आर्थिक एवं सामाजिक स्तर में वृद्धि का योग है। व्यक्ति का सोच सेवा कार्यों की ओर बढ़ेगा। रिश्तों में तनाव के कारण तलाक तथा पारिवारिक विवाद के वादों की संख्या बढ़ेगी। परिवार के स्थान पर व्यापारिक मित्रता व दोस्ती पर व्यक्ति का समय अधिक गुजरेगा।

ND
कार्य में लापरवाही के साथ नशीले पदार्थों के चलन में बढ़ोतरी होगी। दुर्घटनाओं में जनहानि के कारण पारिवारिक संबंधों में तनावकारी योग बनेंगे। संपत्ति के विवाद अधिक होंगे। वृद्धजनों को राजकीय सहायता तथा पारिवारिक तिरस्कार का योग बनेगा।

आर्थिक क्षेत्र में होगा सुधार : आर्थिक क्षेत्र में सुधार। देश के व्यापारिक प्रतिष्ठानों द्वारा मिलकर कार्य करने एवं नए अधिग्रहण के योग प्रबल हैं। बैंकिंग क्षेत्र में कानून सख्त होंगे। व्यापार में निर्यात के बढ़ने की संभावना बनेगी। शेयर बाजार में तेजी-मंदी का योग है, लेकिन बड़ी तेजी की संभावना नहीं है। प्रॉपर्टी क्षेत्र में विशेष लाभ नहीं होगा। चिकित्सा व शिक्षा में अच्छी संभावना है।

पर्यटन क्षेत्र में पिछले वर्ष से दोगुना व्यापार होगा। कृषि उत्पादन, दुग्ध उत्पादन, औषधि उत्पादन में सफलता के लिए मानक बनेंगे। संचार संधान में न्यूनता आएगी। रुपए का मूल्य अधिक कम होने की संभावना मई तक नहीं है। फिल्म उद्योग के लिए वर्ष आशाजनक रहेगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें