वृश्चिक राशि और वर्ष 2013

वृश्चिक राशि और वर्ष 2013 का भविष्यफल

FILE


वृश्चिक- इस राशि व लग्न वाले सौम्य प्रकृति के होते हैं। इस राशि का स्वामी मंगल है। जलतत्व की राशि में होने से जातक तुनक मिजाजी, स्पष्टवक्ता, मुंहफट भी होते हैं। मंगल की स्थिति इनके जीवन में विशेष रहती है। जन्म के समय मंगल की स्थितिनुसार फल रहता है।

शुभ रत्न- मूंगा, शुभ रंग- नारंगी।

सेहत- स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष काफी लाभदायी रहेगा। पिछली परेशानियों से राहत मिलेगी। उत्साह बरकरार रहने से स्वस्थ रहेंगे।

दांपत्य जीवन- पारिवारिक मामलों में समय सुखद होने के साथ-साथ प्रसन्नतादायक व्यतीत होगा। दांपत्य जीवन में मधुर वातावरण बना रहेगा।

व्यवसाय- व्यवसाय में समझदारी ही उत्तम सफलतादायक होगी। जिम्मेदारी के कार्य व्यवसाय पक्ष में बढ़ सकते हैं। लाभ भी रहेगा।

नौकरीपेशा- नौकरीपेशा के लिए यह वर्ष सुधारवादी रहेगा। नवीन कार्य, जवाबदारी भी मिल सकती है। अधिकारी वर्ग का सहयोग लेकर चलें।

आर्थिक स्थिति- वर्ष को योग्यता के बल पर अनुकूल बनाकर उत्तम लाभ अर्जित कर सकते हैं। अकस्मात लाभ के योग भी हैं।

शत्रु पक्ष- शत्रु पक्ष परास्त होंगे, उनकी एक नहीं चलेगी यह ग्रहों के संकेत है। कोर्ट कचहरी से संबंधित सफलता भी मिलेगी।

नए साल में वृश्चिक राशि के सितारे


नए साल में वृश्चिक राशि के सितारे

जनवरी- मित्रों सहयोगियों से लाभजनक स्थिति रहेगी। परिवारिक कार्य सुगमता से बनेंगे। व्यापार-व्यवसाय के मामलों में सहयोग द्वारा सफल होंगे। दांपत्य जीवन मधुर बना रहेगा। शत्रुवर्ग प्रभावहीन होंगे।

फरवरी- बाहरी मामलों में सहयोगात्मक स्थिति रहेगी। यात्रा के योग भी बनेंगे। मकान भूमि संबंधी व मातृ पक्ष के मामलों में सावधानी रखना होगी। संचार माध्यम से शुभ समाचार मिलेगा। भाईयों से लाभ रहेगा।

मार्च- थोडी़ सावधानी रखकर चलना होगा। समय विपरीत है। आर्थिक मामलों में मिलीजुली स्थिति रहेगी। खर्च से बचकर चलें। संतानादि के कार्य में सहयोग देना होगा। विद्यार्थी वर्ग अनुकूल लाभ पाएंगे।

अप्रैल- शत्रु वर्ग प्रभावहीन होंगे। स्वास्थ्य ठीक रहेगा। सोचे कार्य में आ रही बाधा भी दूर होगी। संतान पक्ष से चिंता रह सकती है। नौकरीपेशा समय का लाभ पाने में समर्थ होंगे। मित्र से लाभ मिलेगा।

मई- धर्म-कर्म में आस्था बढ़ेगी। मानसिक सुख-शांति का वातावरण रहेगा। दैनिक जीवन के आवश्यकताओं की पूर्ति होगी। दांपत्य जीवन में मधुर वातावरण बना रहेगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से समय उत्तम है। शत्रुवर्ग प्रभावहीन होंगे।

जून- आर्थिक मामलों में सावधानी रखना होगी। स्त्री पक्ष का सहयोग लेकर चलें। कार्य में सफल होंगे। व्यापार-व्यवसाय में सोच विचार कर कार्य करें। नौकरीपेशा व्यक्ति सतर्कता रखें। संतान पक्ष से चिंता रह सकती है।

जुलाई- सहयोग सफलता का आधार है अतः बड़ों का सहयोग लाभकारी रहेगा। व्यापार-व्यवसाय में समय अनुकूल रहेगा। नौकरी पेशा राहत पाएंगे। शत्रु प्रभावहीन होंगे। वक्त का ध्यान रखें।

अगस्त- व्यापार-व्यवसाय में सुखद स्थिति रहेगी। नौकरीपेशा व्यक्ति सहयोग पाएंगे। जीवनसाथी से चिंता रह सकती हैं। परिश्रम अधिक करना पड़ेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा।

सितंबर- इच्छित कार्य बन जाने से प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि पाएंगे। व्यापार-व्यवसाय में सहयोग मिलने से राहत मिलेगी। दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। पारिवारिक कार्य बनेंगे।

अक्टूबर- पिता का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। व्यापार-व्यवसाय में नवीन कार्य बन सकते हैं। नौकरीपेशा लाभान्वित होंगे। आर्थिक प्रयासों में स्वप्रयत्नों से सफल होंगे। शत्रु से राहत मिलेगी।

नवंबर- संतान पक्ष का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। कुटुंब का सहयोग मिलेगा। वॉकचतुर्य से आप अपने कार्य में सफलता पाने में समर्थ होंगे। पारिवारिक सुख शांति बनी रहेगी। सोचे कार्य बनेंगे।

दिसंबर- विपरित लिंग की तरफ आकर्षण बढ़ेगा। परिवारिक मामलों में समय सुखद है। व्यापार-व्यवसाय में समय ठीक रहेगा। नौकरीपेशा व्यक्ति भी सुखद स्थिति महसूस करेंगे। स्त्री पक्ष से लाभ रहेगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें