Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Mars Transit in 2021 : नए साल में कैसा होगा मंगल का गोचर

हमें फॉलो करें webdunia
जब किसी कुंडली में मंगल की स्थिति अच्छी होती है तो व्यक्ति हमेशा युवा ऊर्जा से भरा रहता है, उसमें नेतृत्व करने की क्षमता होती है और वह मजबूत व्यक्तित्व का स्वामी होता है। मंगल की प्रतिकूल स्थिति व्यक्ति को कमजोर बनाती है और आत्मविश्वास की कमी को दर्शाती है, हालांकि ऐसे लोग बहुत विनम्र होते हैं। 
 
यह भाई-बहनों, विशेष रूप से भाइयों, सैन्य कर्मियों, सर्जनों, इंजीनियरों, रक्त और युद्ध, विनाश, हिंसा और संपत्ति का सूचक है। कुंडली के तीसरे, छठे या ग्यारहवें घर में शुभ माना जाता है। चौथे, सातवें और अष्टम भाव में विराजमान मंगल कुज दोष का निर्माण करता है, इससे विवाह जीवन प्रभावित हो सकता है। नए साल में कैसा होगा मंगल का गोचर 
 
मंगल गोचर 2021 की तिथियां
 
राशि से -राशि में- दिनांक- दिन- समय
मेष- वृषभ- 22 फरवरी -सोमवार -5:02
वृषभ -मिथुन -14 अप्रैल -बुधवार -1:16
मिथुन -कर्क -2 जून -बुधवार -6:39
कर्क -सिंह -20 जुलाई- मंगलवार -17:31
सिंह -कन्या -6 सिंतंबर- सोमवार -3:21
कन्या -तुला -22 अक्टूबर -शुक्रवार -1:13
तुला -वृश्चिक -5 दिसंबर -रविवार -5:01
ALSO READ: Sun Transit In 2021 : साल 2021 में कैसा रहेगा सूर्य का गोचर

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Sun Transit In 2021 : साल 2021 में कैसा रहेगा सूर्य का गोचर