गुरु का गोचर 23 अप्रैल तक देगा शुभ-अशुभ फल, जानिए क्या होगा आपकी राशि पर असर

गुरु ज्ञान, धन, संतान, मान-सम्मान, विकास, कर्म, विवाह का कारक ग्रह है। जिस जातक की जन्मकुंडली में गुरु ग्रह का विशेष प्रभाव होता है वह  तन-मन और धन से धार्मिक एवं आध्यात्मिक कार्यों में अभिरुचि रखता है। गुरु धनु व मीन राशि के स्वामी ग्रह हैं। ये कर्क राशि में उच्च के तथा मकर राशि में नीच के होते है। सूर्य, चंद्रमा व मंगल इनके मित्र ग्रह हैं। शुक्र व बुध के साथ इनकी शत्रुता होती है। राहु-केतु व शनि के साथ इनका तटस्थ संबंध है। गुरु हमें संकट की घड़ी में धैर्य और विवेकशील बनाता है।
 
गुरु ग्रह जातक को करियर में उन्नति, स्वास्थ्य लाभ, मजबूत आर्थिक स्थिति, विवाह एवं संतानोत्पत्ति जैसे शुभ फल में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यदि जन्म कुंडली में गुरु/बृहस्पति ग्रह केंद्र, त्रिकोण या उच्च का है या बलवान है तो अन्य ग्रहों की स्थिति ठीक नहीं होने पर भी जातक को गंभीर परेशानियों से बचाता है।
 
29 मार्च, शुक्रवार को गुरु ने धनु राशि में प्रवेश कर लिया है। गुरु 23 अप्रैल 2019 तक धनु राशि में भ्रमण करेंगे। गुरु धनु राशि में 9 अप्रैल से वक्री हो जाएंगे और 24 अप्रैल को वक्री अवस्था में ही वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे। आइए जानें इस परिवर्तन का आपकी राशि पर क्या होगा प्रभाव... 
 
मेष राशि 
भाग्य वृद्धि में रूकावट आएगी। किसी भी कार्य को यह कहकर न छोड़े की यदि भाग्य होगा तो हो जाएगा यदि ऐसा करेंगे तो असफलता हाथ लगेगी। स्वयं के कर्मों से भाग्य का निर्माण करें। गुरु गोचर से धन हानि भी हो सकती है या लम्बी अवधि के लिए निवेश कर सकते है। व्यापार-व्यवसाय और निवेश संबंधी मामलों में नुकसान हो सकता है अतः आर्थिक मामलों में विशेष सावधानी बरतें। जल्दीबाजी में कोई फैसला न लें। धार्मिक पुस्तक पढ़ने में रूचि बढ़ेगी। तंत्र-मंत्र में विश्वास बढ़ेगा। जमीन-जायदाद की खरीद बिक्री हो सकती है। पिताजी से मनमुटाव हो सकता है। पत्नी से धन लाभ हो सकता है। पत्नी के नाम पर लोन ले सकते हैं।
 
वृष राशि 
शादी-शुदा हैं तो पत्नी से आपके भाग्य में वृद्धि होगी साथ ही दाम्पत्य जीवन में कलह तथा अविश्वास का समावेश होगा जिसके परिणामस्वरूप विवाह विच्छेद तक की स्थिति हो सकती है अतः कोई भी कार्य पत्नी को विश्वास में लेकर करें। अपने आप में संयम रखें तथा जीवनसाथी की भावनाओं का ख्याल रखें, कार्यो में अवश्य ही सफलता मिलेगी। यदि साझेदारी में कोई बिजनेस चल रहा है या करने के लिए सोच रहे हैं तो यह समय अनुकूल है थोड़ी देर से ही सही सफलता जरूर मिलेगी। बिजनेस पार्टनर या जीवनसाथी की मदद से लाभ का योग बन रहा है। गुरु के गोचर के समय व्यवसाय,नौकरी तथा धन से जुड़े मामलों में सोच-समझकर फैसला लेने में ही बुद्धिमानी होगी।
 
मिथुन राशि 
पत्नी से झगड़ा या पत्नी के स्वास्थ्य के ऊपर खर्च करना पड़ेगा। यदि पार्टनरशिप में कोई कार्य कर रहे हैं तो सावधान रहें, पैसे को लेकर मनमुटाव हो सकता है। इस समय शत्रु और विरोधी आपको परेशान कर सकते हैं  अतः सतर्क रहें संयम के साथ काम लें और हर मामले को आपसी बातचीत से सुलझाने की कोशिश करें। गुरु लिवर की बीमारी दे सकता है अतः स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही नहीं बरतें।
 
कर्क राशि 
धन, लक्ष्मी, संतान, प्यार, बुद्धि, शेयर मार्किट, उत्पादन विषयों से सम्बंधित शुभ फल की प्राप्ति होगी। यदि आप शेयर मार्केट में इन्वेस्टमेंट करते हैं निवेश सावधानी पूर्वक सोच-समझकर ही करें। गुरु आपके षष्ठम व नवम भाव के स्वामी होकर पंचम भाव में गोचर कर रहे हैं इसके परिणामस्वरुप आपको संतान सुख की प्राप्ति हो सकती है। संतान पक्ष से भाग्यवृद्धि का भी योग बन रहा है। बच्चे का जन्म होने से परिवार में खुशी का माहौल बनेगा। प्यार में ब्रेक या मनमुटाव हो सकता है लड़ाई-झगड़ा व मुकदमा भी हो सकता है अतः संभलकर तथा सोच-समझकर कोई फैसला करें।
 
सिंह राशि 
यदि आप नया घर लेना चाह रहे हैं तो आपके लिए यह बहुत अच्छा समय है। यदि कोई पहले से प्रॉपर्टी है तो उसे बेच सकते हैं तथा उसका पैसा नई प्रॉपर्टी में लगा सकते हैं। नौकरी तथा कोई प्रतियोगिता परीक्षा के लिए अनुकूल समय है। इस समय आप कोई वाहन भी खरीदेंगे। वाहन चलाते समय सावधान रहें, कोई दुर्घटना घट सकती है। मित्र और रिश्तेदारों के साथ मनमुटाव हो सकता हैं अतः अपने व्यवहार में कटुता न आने दें।। काम में देर होने से या परिवार में मतभेद होने से मानसिक तनाव हो सकता है इसके परिणाम स्वरूप क्रोध का संचार होगा तत्पश्चात बुद्धि का नाश होगा। स्वयं के स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतें।
 
कन्या राशि 
व्यवसाय को लेकर बार-बार यात्रा करनी पड़ेगी जिसके कारण परिवारिक माहौल में उदासीनता आ सकती है। इस समय आपको अपने व्यवसाय से लाभ होगा। व्यवसाय को विस्तार देने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी क्योंकि ईमानदारी और परिश्रम आपको ऊंचाइयों पर ले जा सकता है। अपने कार्य में लापरवाही न बरतें  यदि ऐसा करते हैं तो आपका प्रमोशन रुक सकता है अतः अपने कार्य पर विशेष ध्यान दें।  कार्यस्थल पर व्यर्थ की बातें करने से बचें। सेहत का विशेष ख्याल रखें। भाग्य का निर्माण करने में सफलता प्राप्त करेंगे। पैतृक सम्पति को लेकर मनमुटाव हो सकता है। इस समस्या का समाधान धैर्य तथा विवेक पूर्वक करें तो परिणाम अनुकूल रहेगा।
 
तुला राशि 
धन प्राप्त करने के लिए आपको अथक परिश्रम की जरुरत है। धन भाव में गुरु का होना शुभ संकेत दे रहा है। इस दौरान आप ब्याज के रूप में पैसों का संचय कर सकेंगे। अपने व्यवसाय को विस्तार देने के लिए लोन भी ले सकते हैं या विरासत में प्राप्त धन का उपयोग कर सकते हैं। इस समय आपका रुका हुआ तथा धन वापस मिलने का योग बन रहा है। इस समय आप जमीन-जायदाद की खरीद बिक्री कर सकते हैं। गुरु के गोचर प्रभाव से पारिवारिक जीवन में तनाव हो सकता है। वाणी दोष के कारण आपस में मनमुटाव हो सकता है। इस समय लोग आपके कार्य और व्यक्तित्व की प्रशंसा करेंगे। गुरु के प्रभाव से व्यवसायिक जीवन में प्रगति का दौर शुरू होगा। कार्यस्थल पर आपको अपनी मेहनत और प्रयासों का सुपरिणाम मिलेगा। 
 
वृश्चिक राशि
इस समय आर्थिक वृद्धि का प्रबल योग बन रहा है आपके सभी रुके हुए कार्य सम्पन्न होंगे। यदि आप अविवाहित हैं और विवाह करना चाह रहे हैं तो आप अपना प्रयास तेज कर दीजिए निश्चित ही आपको विवाह सुख का आनंद मिलेगा। यदि आप संतान सुख की इच्छा रखते हैं तो अवश्य ही आपके घर में नन्हा बच्चा आएगा। यदि जन्मकुंडली में संतान सुख की कमी है तो संतान गोपाल स्तोत्र का पाठ शुरू कर दें। सोच समझकर निवेश करें। काम के सिलसिले में आपको अपने घर से दूर जाना पड़ सकता है। गुरु गोचर के दौरान शुभ कार्यो में अधिक खर्च हो सकता है अतः अनियोजित खर्च से बचें। सामान्यतः आपका स्वास्थ्य अनुकूल रहेगा फिर भी अपने खान-पान पर विशेष ध्यान दें तो ठीक रहेगा।
 
धनु राशि 
आर्थिक नुक़सान का प्रबल योग बन रहा है। यदि विदेश जाने की इच्छा रखते हैं तो आपकी इच्छा पूरी हो सकती है अतः अपना प्रयास संदर्भ में तेज कर दें। अभी आप जिस स्थान पर रह रहे हैं उस स्थान से दूर जा सकते हैं। घर में परिवर्तन हो सकता है। यदि किराये के मकान में रह रहे हैं तो मकान चेंज कर सकते हैं या अपना नया मकान में शिफ्ट हो सकते हैं। कोई भी निर्णय सोच समझकर लें तो बेहतर होगा। इस समय आप अपने स्वास्थ्य को लेकर भी परेशान रह सकते हैं। गुरु गोचर के कारण प्रॉपर्टी को लेकर परिवार में विवाद हो सकता है अत: जमीन या मकान की खरीदी-बिक्री और मालिकाना हक से जुड़े मामलों में सावधानी रखें।
 
मकर राशि
इस समय घर में किसी शुभ कार्य में खर्च का योग बन रहा है। लाभ स्थान में गुरु का संचार करना अपने आप में शुभता देने वाला है। गुरु गोचर के दौरान यदि आप कोई नया व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो कर सकते हैं। यदि आप पहले से कोई व्यवसाय कर रहे हैं तो इस समय आप अपने बिजनेस का विस्तार कर सकते हैं और इसमें सफलता मिलने के प्रबल चांस है अर्थात सर्विस /नौकरी पेशा और व्यावसायिक जातकों के लिए गुरु का गोचर शुभ फल प्रदान करेगा। 
 
कुंभ राशि
आपके कार्यों में आ रही रुकावट शीघ्र ही दूर हो जाएगी। आपके व्यापार और व्यवसाय में विस्तार होगा। व्यवसाय और नौकरी को लेकर आने वाली परेशान अब जल्दी ही समाप्त हो जाएगी। घर में कोई नए सदस्य जुड़ सकते हैं। यदि घर खरीदने की इच्छा रखते हैं तो मकान खरीदने के लिए कमर कस लें, लोन लेकर मकान खरीदने का योग बन रहा है। नई गाड़ी भी खरीद सकेंगे। कार्यस्थल पर सब का सहयोग मिलेगा। बातचीत के दौरान सावधान रहें और विवेक व बुद्धि का परिचय दें। स्वास्थ्य को लेकर कोई लापरवाही नहीं बरतें। इस समय अपार धन का अर्जन कर सकते हैं। दांपत्य जीवन सुखमय बना रहेगा। 
 
मीन राशि  
भाग्य वृद्धि के लिए यह अनुकूल समय है। इस समय आप नए निवेश के माध्यम से अपने व्यवसाय में वृद्धि करने में सक्षम होंगे। आपके कार्यों में आ रही रुकावट शीघ्र ही दूर हो जाएगी। आपके व्यापार और व्यवसाय में विस्तार होगा। कार्य क्षेत्र में तरक्की होगी और नए अवसर मिलेंगे। यदि नौकरी कर रहे हैं तो प्रमोशन और सैलरी में बढ़ोत्तरी मिल सकती है। आध्यात्मिक कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। आप किसी धार्मिक यात्रा पर जा सकते हैं। पैतृक धन का लाभ मिल आपको मिल सकता है। समाज में मान-सम्मान और यश प्राप्त कर सकेंगे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख इस वर्ष आपकी बिटिया बन जाएगी दुल्हन, पढ़ें विशेष उपाय