नवंबर 2018 : मौसम, देश, विदेश, व्यापार, सोना, चांदी, तेजी, मंदी सब जानिए एक साथ

नवंबर माह के प्रथम सप्ताह पूर्वी देशों में शांति रहेगी। पश्चिम-उत्तर के देशों में अशांति व युद्ध जैसा डर रहेगा। दक्षिण देशों में आंतरिक झगड़े होंगे।
 
द्वितीय सप्ताह में पश्चिम-दक्षिण के देशों में शांति नजर आएगी, वहीं पूर्वी देशों में शांति तो रहेगी परंतु बालकों पर कष्ट आ सकता है। उत्तर के देशों में अशांति का हो माहौल रहेगा। नवंबर के अंतिम सप्ताह में दक्षिण-पश्चिम देशों में शांति के साथ उन्नति दिखाई देगी। पूर्व के देशों में अशांति एवं उत्तर के देशों में प्रजा को थोड़ी राहत मिलेगी।
 
इस माह सूर्य की स्थिति से नवंबर के प्रथम सप्ताह जौ, चावल, गेहूं, मसूर, गुड़, शकर, रुई, सूत, सरसों, तिल में तेजी रहेगी एवं अलसी और चांदी में तेजी-मंदी रहेगी।
 
9 नवंबर चंद्रदर्शन होने से रुई, सोना व चांदी में तेजी रहेगी। चना, उड़द और चना दाल में मंदी रहेगी। द्वितीय सप्ताह में बुध के परिभ्रमण करने से घी, शकर, चावल में तेजी रहेगी। अनाजों में मंदी आएगी।
 
नवंबर के अंतिम सप्ताह में सोना, चांदी, गुड़, शकर में तेजी एवं तिल, तेल, रुई, सरसों, चना व मसूर में तेजी-मंदी रहेगी।
 
इस माह की कुंडली को बादल की चाल से देखें तो मौसम में परिवर्तन आएगा। पहाड़ी मैदानों में शीत लहर रहेगी तथा मैदानी भागों में सुबह व रात्रि को तापमान कम रहेगा। दोपहर को तापमान में वृद्धि रहेगी। मध्यप्रदेश, हिमाचल, उत्तरप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा में शीत लहर की शुरुआत हो जाएगी। छत्तीसगढ, उड़ीसा में सुबह शाम शीत रहेगी तथा अन्य प्रदेशों में मिश्रित मौसम रहेगा। उत्तरांचल व जम्मू-कश्मीर में शीत लहर का प्रकोप अधिक रहेगा। 

ALSO READ: 12 नवंबर को गुरु हो रहे हैं अस्त, 7 दिसंबर को होंगे उदय, नहीं हो सकेंगे शुभ कार्य

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING