Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

astrological transits of March 2020 : मार्च माह में ग्रहों के बड़े बदलाव, क्या होगा प्रभाव

webdunia
Planetary Transits in March 2020
       
मार्च 2020 में सूर्य-मंगल सहित 5 ग्रह का राशि परिवर्तन, सूर्य 14 मार्च को आ गए हैं मीन राशि में, बुध 10 मार्च को कुंभ राशि में मार्गी हो गया है, लेकिन इस माह राशि नहीं बदलेगा आइए जानें विस्तार से... 
 
सूर्य - माह की शुरुआत में सूर्य ग्रह कुंभ राशि में स्थित थे। 14 मार्च को ये ग्रह कुंभ से मीन राशि में प्रवेश कर गए हैं। इस वजह से मलमास शुरू हो गया है।
 
चंद्र - ये ग्रह 1 मार्च को वृष राशि में आ गया। 3 मार्च को चंद्र मिथुन राशि में चला ग या फिर उसके बाद से हर ढाई दिन में चंद्र राशि बदल रहा है। 
 
मंगल - अभी ये ग्रह धनु राशि में स्थित है। 22 मार्च को ग्रह धनु से मकर राशि में प्रवेश कर गया है।
 
बुध - इस माह ये ग्रह राशि नहीं बदलेगा। ये कुंभ राशि में है और वक्री है। 10 मार्च को बुध मार्गी हो गया है।
 
गुरु - बृहस्पति ग्रह अभी धनु राशि में है। ये ग्रह 29 मार्च को राशि बदलकर धनु से मकर में प्रवेश करेगा।
 
शुक्र - मार्च की शुरुआत में शुक्र मेष राशि में स्थित है। 28 मार्च को ये ग्रह राशि बदलेगा और मेष से वृष राशि में प्रवेश करेगा।
 
शनि और राहु-केतु - मार्च में शनि मकर राशि में है। राहु मिथुन राशि में और केतु धनु राशि में रहेगा।
 
जानिए ग्रहों के अशुभ असर से बचने के लिए कौन-कौन से शुभ काम किए जा सकते हैं…
 
सूर्य के लिए रोज सुबह जल्दी उठें और सूर्य को अर्घ्य अर्पित करें।

चंद्र के लिए हर सोमवार चांदी के लोटे से शिवलिंग पर दूध चढ़ाएं।

मंगलवार को शिवलिंग पर लाल फूल और मसूर की दाल चढ़ाने से मंगल के दोष दूर होते हैं।

बुध के लिए हर बुधवार गणेशजी को दूर्वा अर्पित करें।

गुरु ग्रह के दोषों से बचने के लिए गुरुवार को शिवलिंग पर चने की दाल और बेसन के लड्डू चढ़ाएं।

शुक्र ग्रह के लिए शुक्रवार को शिवलिंग पर जल चढ़ाएं।

शनि और राहु-केतु के लिए हर शनिवार तेल का दान करें और हनुमान चालीसा का पाठ करें।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

corona and astrology : कौन से ग्रह हैं कोरोना के लिए जिम्मेदार, क्यों मचा है हाहाकार