Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

शनिदेव की क्या चल रही है अभी स्थिति, जानिए 10 बातें साढ़ेसाती और महादशा की

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 20 सितम्बर 2022 (13:10 IST)
Shani gochar 2022 : शनि की चाल से जातक को ढैय्या, साढ़ेसाती और महादशी की मार झलने पड़ती है। यदि कर्म अच्छे हैं तो शनि के गोचर के दौरान जातक को लाभ ही लाभ मिलता है। आओ जानते हैं वर्तना में शनि किस राशि में गोचर कर रहा है, किस पर ढैय्या, किस पर साढ़ेसाती और किसी पर चल रही है महादशा। जानिए 10 खास बातें।
 
1. शनि की वक्री चाल | Shani Vakri gochar 2022 : वर्तमान में शनि 12 जुलाई से मकर राशि में वक्री चाल चल रहा है जो 23 अक्टूबर 2022 तक वक्री ही रहेगा। इसके बाद मार्गी हो जाएगा। 
 
2. शनि का गोचर | Saturn retrograde transit 2022 : शनि मकर राशि में 17 जनवरी 2023 तक रहेगा इसके बाद शनि फिर से कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे और 29 मार्च 2025 तक कुंभ राशि में गमन करेंगे।
 
3. शनि की ढैय्या | Shani ki dhaiya : शनि ग्रह ढाई वर्ष तक एक ही राशि में गोचर करता है। हालांकि वक्री या मार्गी गति के कारण वह आगे-पीछे की राशियों में गोचर करके पुन: उसी राशि में गति करने लगता है। 
 
4. शनि का शश योग | Shani ka shasha yog : मकर शनि की ही राशि है जिसके कारण शशयोग नामक महापुरुष राजयोग बन रहा है।
 
5. कुंभ राशि पर शनि का प्रभाव | Shani effect on kumbha rashi 2022 : कुंभ राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती 24 जनवरी 2020 से शुरू हुई थी। इससे मुक्ति 3 जून 2027 को मिलेगी, परंतु शनि की महादशा से कुंभ राशि वालों को 23 फरवरी 2028 को शनि के मार्गी होने पर छुटकारा मिलेगा, यानि कुंभ राशि वालों को 23 फरवरी 2028 को शनि की साढ़ेसाती से निजात मिलेगी।
 
6. मकर राशि पर शनि का प्रभाव | Shani effect on Makar rashi 2022 : मकर राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती 26 जनवरी 2017 से शुरू हुई थी। यह 29 मार्च 2025 को समाप्त होगी। 
webdunia
7. ढैय्या का प्रभाव | Effect of dhaiya : 17 जनवरी 2023 को धनु राशि वालों को शनि की साढ़ेसाती से पूरी तरह मुक्ति मिल जाएगी और मिथुन राशि वालों को ढैया से मुक्ति मिलेगी। 17 जनवरी 2023 से शनि के मार्गी होने पर तुला और मिथुन राशि से पूरी तरह ढैय्या का प्रभाव खत्म हो जाएगा। तुला राशि पर शनि की ढैय्या 24 जनवरी 2020 से चल रही है।
 
8. शनि का गोचर | Shani ka Gochar : 29 मार्च 2025 को शनि मीन राशि में गोचर करेंगे। जिससे सिंह और धनु राशि वालों पर शनि ढैय्या शुरू होगी। इस दौरान कुंभ, मेष और मीन राशि वालों पर शनि ढैय्या रहेगी। मकर राशि वाले शनि ढैय्या से मुक्ति पा जाएंगे।
 
9. साढ़ेसाती और ढैय्या | Shani ki sade sati and dhaiya : 2022 में मीन पर साढ़ेसाती प्रारंभ होगी जबकि कर्क और वृश्‍चिक पर शनि की ढैया प्रारंभ होगी। धनु से साढ़ेसाती हटेगी और तुला एवं मिथुन वालों को शनि की ढैया से मुक्ति मिलेगी। 29 अप्रैल 2022 को शनि मकर से निकलकर जब कुंभ राशि में भ्रमण करेंगे तब मीन, कुंभ और मकर राशि पर शनि की साढ़ेसाती तथा कर्क और वृश्चिक राशि पर शनि की ढैय्या लगेगी। यानि वर्ष 2022 में मीन, कुंभ और मकर को साढ़े साती रहेगी जबकि कर्क और वृश्चिक राशि पर शनि की ढैय्या लगेगी।
 
10 साढ़े साती के 3 चरण | Sade Sati ke teen charan : कहते हैं कि शनि की साढ़ेसाती के पहले चरण में शनि जातक की आर्थिक स्थिति पर, दूसरे चरण में पारिवारिक जीवन और तीसरे चरण में सेहत पर सबसे ज्‍यादा असर डालता है। ढाई-ढाई साल के इन 3 चरणों में से दूसरा चरण सबसे भारी पड़ता है।
 
अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, ज्योतिष आदि विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित वीडियो, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

बिल्वपत्र का पेड़ घर में है तो क्या मिलेंगे शुभ फल?