Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सूर्य का राशि परिवर्तन, जानिए किन राशि‍यों की बदलने वाली है किस्मत...

webdunia
सूर्यदेव नवग्रहों के राजा हैं। सिंह राशि के स्वामी हैं। अग्नितत्व प्रधान ग्रह हैं। कुंडली में सूर्य का प्रभाव जीवन में सम्मान, सफलता, उन्नति, पिता के साथ संबंध और उच्च पद आदि की संभावनाएं प्रकट करता है। सूर्य की उच्च राशि मेष व नीच राशि तुला है। इसका रंग गुलाबी व रत्न माणिक्य है। 
 
17 अगस्त 2018, को सूर्य ने सुबह 07.30 बजे सिंह राशि में गोचर कर लिया है और 17 सितंबर 2018 तक इसी राशि पर रहेगा। सूर्य के इस भ्रमण से 12 राशियों पर बड़ा प्रभाव होगा... 
 
मेष- इस राशि के जातकों को कार्य क्षेत्र में श्रम का लाभ मिलेगा। सरकार की ओर से सम्मान के योग बन रहे हैं।
 
वृषभ- पदोन्नति के योग हैं। पद व प्रतिष्ठा में वृद्धि होने की प्रबल संभावना रहेगी। किस्मत बदलने वाली है। 

मिथुन- शत्रुवर्ग प्रभावहीन होंगे। साहस में वृद्धि होगी। भाई-बहनों के लिए थोड़ा परिश्रम करना होगा। 
 
कर्क- परिवार में किसी से वाद-विवाद हो सकता है। आर्थिक दृष्टि से शुभ संकेत है। धन की बचत संभव है। करियर के सितारे बुलंद रहेंगे। 
 
सिंह- व्यक्तित्व में निखार आएगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से समय उत्तम व्यतीत होगा। सफलता के परचम लहराएंगे। 
 
कन्या- दुश्मनों पर भारी पड़ेंगे, यदि कोर्ट-कचहरी में कोई मामला चल रहा है तो उसका फैसला आपके पक्ष में आ सकता है। 
 
तुला- समाज में आपकी प्रतिष्ठा बढ़ेगी। संतान के स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा। प्रशंसा सर्वत्र होगी। मनचाही प्रगति के योग बन रहे हैं। 
 
वृश्चिक- आप अपने निजी जीवन में पर्याप्त समय नहीं निकाल पाएंगे, इसलिए पारिवारिक शिकायत रह सकती है। नौकरी में वांछित पदोन्नति के योग हैं। 
 
धनु- भाग्य में वृद्धि होगी। मन प्रसन्न रहेगा। पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा। सौभाग्यशाली समय है। 
 
मकर- वाणी पर ध्यान दें। अनुकूल वातावरण बनाए रखें। किसी भी प्रकार के विवाद से बचें। लेनदेन संभलकर करें।
 
कुंभ- जीवनसाथी से किसी भी प्रकार से विवाद की स्थिति टालें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। अचानक लाभ प्राप्ति के योग हैं। भाग्य चमकेगा। 

मीन- सफलता मिल सकती है। अधिक परिश्रम से आपको परिणाम भी उत्तम मिलेंगे। यात्रा के योग बन सकते हैं।


Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

महान भारतीय कवि और दार्शनिक गोस्वामी तुलसीदास की जयंती