Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

शुक्र का कर्क राशि में गोचर, जानिए कैसा होगा असर

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्र ग्रह ने 22 जून 2021 को दोपहर 2:07 मिनट से कर्क राशि में गोचर कर लिया है, यह गोचर 17 जुलाई 2021, सुबह 09:13 मिनट तक जारी रहेगा। इसके बाद यह सिंह राशि में गोचर कर जाएगा। आओ जानते हैं कि यह किन बातों पर असर डालेगा। 
 
 
1 . इस ग्रह की दो राशियां हैं- पहली वृषभ और दूसरी तुला। यह ग्रह मीन राशि में में उच्च और कन्या राशि में नीच का होता है। जब यह ग्रह वक्री होता है तो स्वा‍भाविक रूप से मीन राशि वालों के लिए सकारात्मक और कन्या राशि वालों के लिए नकारात्मक असर देता है। लेकिन शुक्र जब अन्य राशियों में भ्रमण करता है तो उसका इस राशि वालों लोगों के लिए फल अलग होता है।
 
2. ज्योतिष के अनुसार शुक्र हमारे जीवन में स्त्री, वाहन और धन सुख को प्रभावित करता है। यह एक स्त्री ग्रह है। कहते हैं कि इसके शुभ प्रभाव के कारण जातक ऐश्वर्य को प्राप्त करता है।
 
 
3. शुक्र ग्रह को नृत्य, कला, गायन, संगीत, ऐश्वर्य, सौंदर्य, प्रेम, विलासिता और आनंद का कारक ग्रह माना जाता है। इन सभी बातों पर शुक्र का असर रहेगा।
 
4. शुक्र ग्रह को संचार का कारक भी कहा जाता है, इसलिए यह आपको इंटरनेट, सोशल मीडिया से भी लाभ दे सकता है। 
 
5. यदि आपकी कुंडली में शुक्र अनुकूल स्थिति में है तो धन और मान प्रतिष्ठा में बढ़ोतरी करेगा। विवाह की स्थिति बनेगी, विवाह हो गया है तो दांपत्य जीवन में सुख होगा।
 
 
6. कर्क राशि में शुक्र के होने से, हमारी जरूरतों के बारे में हमारी सहज समझ और साझेदारी की जरूरतें बढ़ सकती हैं।
 
7. शुक्र का गोचर मेष, वृशभ, मिथुन, कर्क, मकर और मीन राशि के लिए शुभ। सिंह, कन्या और धनु के लिए अशुभ। तुला, वृश्‍चिक और कुंभ के लिए सामान्य रहेगा। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Vat Savitri Vrat Katha वट सावित्री व्रत की क्या है कथा, देखिए वीडियो भी