कैसे होते हैं कुंभ राशि वाले जातक, जानिए अपना व्यक्तित्व...

कैसे होते हैं कुंभ राशि वाले जातक : 
 
हम 'वेबदुनिया' के पाठकों के लिए क्रमश: समस्त 12 राशियों व उन राशियों में जन्मे जातकों के व्यक्तित्व के गुण-दोष की जानकारी प्रदान कर रहे हैं। इसी क्रम में प्रस्तुत है कुंभ राशि में जन्मे जातकों का व्यक्तित्व-
 
राशि-कुंभ
 
स्वामी ग्रह-शनि
 
गुणधर्म-स्थिर
 
तत्व-आकाश
 
उदय-शीर्षोदय
 
दिशा-पश्चिम
 
कुंभ राशि वाले जातक :
 
जिन जातकों के जन्म समय जन्मपत्रिका में चंद्रमा कुंभ राशि में स्थित होता है उनकी कुंभ राशि होती है। कुंभ राशि का स्वामी शनि है। शनि को नवग्रहों में न्यायाधिपति की उपाधि प्राप्त है। 
 
कुंभ एक स्थिर राशि है। कुंभ राशि वाले जातक दृढ़ निश्चयी होते हैं। वे हर कार्य को बड़े विचार-विमर्श करने के उपरांत ही करते हैं। यदि शनि स्वराशिस्थ है तो कुंभ राशि वालों का रंग सांवला या काला होता है। 
 
कुंभ राशि वाले जातक चिंतनशील व थोड़े आत्मकेन्द्रित स्वभाव के होते हैं। उनमें आत्मविश्वास अधिक होता है। कुंभ राशि वाले जातक अथक परिश्रमी होते हैं, वे एक बार लक्ष्य निर्धारित करने के उपरांत उसे कठोर परिश्रम कर हासिल करने के बाद ही संतुष्ट होते हैं। कुंभ राशि वाले जातकों को एकाकी जीवन पसंद होता है। 
 
शनि के प्रभाव के कारण कुंभ राशि वाले जातक कभी-कभी कठोर व्यवहार करते भी दिखाई देते हैं। कुंभ राशि के जातकों का दाम्पत्य जीवन सामान्य होता है। ये अपने जीवनसाथी से प्रेम करते हैं किंतु अपने प्रेम का व्यर्थ प्रकटीकरण इन्हें पसंद नहीं होता। इसके चलते इनके अपने जीवनसाथी से मतभेद हो जाया करते हैं। 
 
शनि की प्रधानता के कारण कभी-कभी कुंभ राशि के जातक संन्यास की ओर भी आकृष्ट होते हैं। कुंभ राशि के जातक सरकारी या गैर-सरकारी संस्थानों में सेवा कर अपने जीवन में लाभ प्राप्त करते हैं। कुंभ राशि के जातक अनुसंधानकर्ता, वैज्ञानिक, गणितज्ञ, तंत्र शास्त्र के जानकार, संन्यासी, सेवक, ठेकेदार, खनन, पेट्रोलियम पदार्थों के व्यवसाय, खेती, आदि क्षेत्रों में अधिक सफल होते हैं।
 
(क्रमश:)...
 
-ज्योतिर्विद् पं. हेमन्त रिछारिया
प्रारब्ध ज्योतिष परामर्श केन्द्र
सम्पर्क: [email protected]

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख कुत्ते को अपने साथ स्वर्ग ले जाना चाहते थे युधिष्ठिर लेकिन गजब हो गया