Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सूर्य कन्या संक्रांति आज: इस गोचर से 5 राशियों के जीवन में बदलाव होंगे खास

हमें फॉलो करें surya in kanya rashi
शनिवार, 17 सितम्बर 2022 (14:36 IST)
Kanya Sankranti 2022 : 17 सितंबर 2022 शनिवार को सूर्य ने स्वयं की राशि सिंह से निकलकर कन्या राशि में प्रवेश किया है। सूर्य के किसी भी राशि में परिवर्तन को संक्रांति कहते हैं। क्या संक्रांति से 12 ही राशियों पर शुभ और अशुभ प्रभाव पड़ेगा। खासकर इससे कन्या राशि वाले ज्यादा प्रभावित होंगे। आओ जानते हैं कि कौनसी 5 राशियों के जीवन में आएगा सकारात्मक बदलाव।
 
मेष राशि : सूर्य आपकी राशि के छठे भाव में गोचर कर रहा है। इस दौरान आपके जीवन की सभी बाधाएं दूर होकर आपके सभी कार्य पूर्ण होंगे। आपकी सेहत में सुधार होगा और कार्यस्थल पर शत्रु परास्त होंगे। करियर में सफलता मिलेगी। व्यापारी हैं तो अच्‍छा लाभ कमाने में सफल होंगे। पारिवारिक माहौल भी सकारात्मक रहेगा।
 
कर्क राशि : सूर्य आपकी राशि के तीसरे भाव में गोचर कर रहा है। सेहत संबंधी सभी परेशानियों दूर होगी। करियर और नौकरी में सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे। व्यापारी हैं तो पराक्रम से लाभ कमाने में सक्षम होंगे। आपका मान सम्मान बढ़ेगा। पारिवारिक जीवन में भी भाई-बहनों से सहयोग मिलेगा। आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।
 
वृश्चिक राशि : सूर्य आपकी राशि के एकादश भाव में गोचर कर रहा है। इस गोचर से जीवन में सकारात्मक बदलाव होंगे। आय के स्रोतों में वृद्धि होगी और भाग्य का साथ मिलेगा। नौकरी और व्यापार में लाभ होगा। पिता और धर्म का सम्मान करेंगे तो उन्नति के मार्ग की सभी बाधाएं दूर हो जाएगी।
 
धनु राशि : आपकी राशि के दशम भाव में सूर्य का गोचर शुभ रहेगा। कार्यक्षेत्र में प्रगति करेंगे और व्यापारी हैं तो लाभ कमाएंगे। नौकरी में प्रमोशन के योग बनेंगे। आर्थिक समस्याओं से निजात मिलेगी। समाज में आपका मान-सम्मान भी बढ़ेगा। परिवार में खुशियां बनी रहेगी।
 
मकर राशि : आपकी राशि के नवम भाव में सूर्य का गोचर शुभ है। तीर्थ यात्रा के योग बनेंगे। धर्म और पिता का सम्मान करेंगे तो सभी संकट दूर हो जाएंगे। खानपान में परहेज और क्रोध पर नियंत्रण रखना होगा।
webdunia

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पितृ पक्ष में कौन से 10 पौधे रोपना चाहिए, रोपना संभव नहीं तो दान करें