Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

18 जून को शुक्र बदलेंगे राशि, बनेगा दुर्लभ लक्ष्मी नारायण योग, 5 राशियों के लिए शुभ संयोग

हमें फॉलो करें webdunia
18 जून को रोमांस और धन के ग्रह शुक्र बुध ग्रह के साथ मिलकर दुर्लभ लक्ष्मी नारायण योग बना रहे हैं। आइए जानते हैं इस संयोग का किस राशि पर कैसा होगा प्रभाव... 
Shukra Rashi Parivartan 2022: 18 जून से शुक्र ग्रह अपनी राशि बदल रहे हैं वृष राशि में प्रवेश कर रहे हैं, जहां पहले से ही बुध ग्रह मौजूद है। बुध-शुक्र का संयोग दुर्लभ लक्ष्मी नारायण योग का निर्माण करेगा। शुक्र अपने घर में आएंगे तो वहां पहले से बैठे बुध उनका स्वागत करेंगे। शुक्र के आने से वृष राशि में शुभता बढ़ती जाएगी। 13 जुलाई 2022 तक बुध के साथ जब तक शुक्र रहेंगे दुर्लभ लक्ष्मी नारायण योग बनेगा फिर बुध राशि बदल देंगे।
webdunia


मेष-18 जून को वृषभ राशि में होने वाले शुक्र गोचर से सफलताएं मिलेंगी। व्यापारियों को धन लाभ होगा। व्यापार को गति मिल सकती है। धन प्राप्त हो सकता है। वैवाहिक जीवन सुखद होगा। पार्टनर का सहयोग मिलेगा। कटु वचन न बोलें। आर्थिक उन्नति भी होगी। 
वृष-शुक्र राशि परिवर्तन लाभकारी होगा। गोचर आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार करेगा। धन लाभ के अवसर प्राप्त होंगे। नौकरीपेशा की आय में वृद्धि हो सकती है। कोई नया कार्य प्रारंभ करना शुभ रहेगा। ब्यूटी व पर्सनेलिटी पर ध्यान देंगे। सौंदर्य प्रसाधन की वस्तुएं खरीदेंगे। संगत का विशेष ध्यान रखें। 
मिथुन-शुक्र गोचर में संयत रहें। आपकी राशि में सूर्य हैं अभी, व्यर्थ के वाद-विवाद एवं झगड़ों से बचें। पिता के स्वास्थ्‍य का ध्यान रखें। आय में कमी एवं खर्च अधिक की स्थिति हो सकती है। शुक्र के लिहाज से यह समय धन खर्च करने का है। कहीं यात्रा पर अवश्य जाएं। 
कर्क-आत्मविश्वास बना कर रखें। लेखनादि-बौद्धिक कार्यों में या अंतरराष्ट्रीय सेमिनार आदि में प्रतिभागिता और व्यस्तता बढ़ सकती है। भाई-बहन के सहयोग से कारोबार को गति मिल सकती है। लाभ के अवसर मिलेंगे। आय बढ़ेगी लेकिन महिलाओं से किसी भी प्रकार का विवाद न करें, बॉस या सहकर्मी से किसी तरह की टकराहट से बचना है। 
सिंह-धैर्यशीलता में कमी रहेगी। शैक्षिक कार्यों में सफलता मिलेगी। कारोबार पर ध्यान दें। परेशानियां आ सकती हैं। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। बातचीत में संयत रहें। किसी पैतृक सम्पत्ति से आय के स्रोत बन सकते हैं। माता के सहयोग से लाभ होगा। आलस्य बढ़ेगा, काम की प्लानिंग कर नए-नए तरीकों का प्रयोग करें। 
कन्या-आशा-निराशा के मिलेजुले भाव रहेंगे। घर-परिवार में धार्मिक कार्य हो सकते हैं। सेहत का ध्यान रखें। खर्च बढ़ सकते हैं। दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। परिवार में मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। माता से धन की प्राप्ति होगी। रहन-सहन में असहज रहेंगे। प्रमोशन भी हो सकता है। 
तुला-क्रोध के अतिरेक से बचें। बातचीत में भी संतुलन बनाए रखें। कारोबार में परिवर्तन की संभावना है। दान करने से मन में शान्ति एवं प्रसन्नता के भाव बनेंगे। परन्तु स्वभाव में चिड़चिड़ापन बना रह सकता है। आय की स्थिति में सुधार होगा। निवेश भी कर सकते हैं। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना चाहिए।  
वृश्चिक-मानसिक शान्ति रहेगी। माता के स्वास्थ्य को लेकर चिन्तित भी हो सकते हैं। रहन-सहन व्यवस्थित हो सकता है। वाणी में सौम्यता रहेगी। अपनी भावनाओं को वश में रखें। नौकरी में तरक्की/ प्रमोशन के अवसर मिल सकते हैं। घर में धार्म‍िक कार्यक्रम हो सकता है। अच्छे लोगों से भेंट होगी, पुराने मित्रों से भी मुलाकात होगी। नई पार्टनरशिप भी कर सकते हैं। 
धनु-धार्मिक कार्यों में व्यस्त हो सकते हैं। शैक्षिक कार्यों में व्यवधान आ सकते हैं। परिश्रम अधिक रहेगा। आलस्य की अधिकता रहेगी। घर-परिवार में धार्मिक-मांगलिक कार्य हो सकते हैं। मित्रों का सहयोग मिलेगा। कॉम्‍पटीशन की तैयारी कर रहे लोगों को लाभ होगा। नौकरी करने वालों को प्रमोशन के साथ ही ट्रांसफर के लिए भी तैयार रहना होगा। 
मकर-मन शांत रखें। नकारात्मकता का प्रभाव न होने दें।। आय के साधन बनेंगे। खर्चों में वृद्धि हो सकती है। आत्मसंयत रहें। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान बढ़ेगा। दिमाग को सक्रिय रखें। मन में अच्छे विचार लाएं। पत्नी की तरफ से कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। 
कुंभ- सुखद समाचार मिल सकते हैं। धर्म-कर्म में व्यस्तता बढ़ सकती है। वाद-वि‍वाद से बचने का प्रयास करें। वाणी पर नियंत्रण रखें। शुक्र की शुभता के लिए घर की सुंदरता, सजावट पर ध्यान दें। यदि कोई काम बकाया हो तो उसे पूरा करें। इलेक्ट्रॉनिक आइटम भी खरीद सकते हैं। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। कुंभ राशि में सबके लिए यह समय अच्छा है। 

मीन- धैर्यशीलता में कमी रहेगी। संयत रहें। नौकरी और परिवार की समस्याओं पर ध्यान दें। आय में कमी एवं खर्च अधिक की स्थिति हो सकती है। मन में निराशा एवं असन्तोष के भाव रहेंगे। मन से कटू भाव निकालें। यह परिवर्तन आपके लिए फेवरेबल नहीं है। कार्यालय में अधिकारी वर्ग नाराज हो सकते हैं। 
5 राशियों मेष, वृषभ, कर्क, वृश्चिक और कुंभ के लिए यह गोचर अत्यंत शुभ और फलदायक है। 
webdunia

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

विश्व संगीत दिवस क्यों मनाया जाता है, जानिए संगीत और सेहत का कनेक्शन