Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Jio-BP और TVS Motor ने मिलाया हाथ, दोपहिया और तिपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए बनाएंगे चार्जिंग स्टेशन

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 5 अप्रैल 2022 (20:15 IST)
नई दिल्ली। जियो बीपी और टीवीएस मोटर कंपनी के बीच देश में इलेक्ट्रिक दोपहिया और तिपहिया वाहनों की चार्जिंग के लिए एक मजबूत बुनियादी ढांचा बनाने की संभावनाओं का पता लगाने पर सहमति बनी है। यह जियो-बीपी के नेटवर्क पर आधारित होगा।

इस प्रस्तावित साझेदारी के तहत टीवीएस के इलेक्ट्रिक वाहनों के ग्राहकों को जियो-बीपी के व्यापक चार्जिंग नेटवर्क तक पहुंच मिलेगी। जाहिर है अन्य इलेक्ट्रॉनिक वाहनों के लिए भी यह चार्जिंग स्टेशन खुले रहेंगे। 
 
ग्राहकों को व्यापक और विश्वसनीय चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर मुहैया कराने के लिए एसी चार्जिंग नेटवर्क के साथ डीसी फास्ट-चार्जिंग नेटवर्क भी बनाया जाएगा। इलेक्ट्रिफिकेशन के क्षेत्र में दोनों कंपनियां को अंतरराष्ट्रीय स्तर की महारत हासिल है, कंपनियां अपनी इस महारत का उपयोग भारतीय बाजार में करेंगी ताकि ग्राहकों को नया अनुभव दिया जा सके। 
जियो-बीपी अपने इलेक्ट्रॉनिक वाहन चार्जिंग और स्वैपिंग स्टेशनों को जियो-बीपी पल्स ब्रांड के तहत चलाता है। जियो-बीपी पल्स ऐप से ग्राहक आसानी से आसपास के चार्जिंग स्टेशन ढूंढ सकते हैं और अपने इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज कर सकते हैं। जियो-बीपी एक मजबूत चार्जिंग इकोसिस्टम भी बना रहा है जो सभी हितधारकों को लाभ पहुंचाएगा। 
 
टीवीएस मोटर कंपनी ने नए इलेक्ट्रिक मोबिलिटी उत्पादों और संबंधित तकनीकों को विकसित करने की दिशा में महत्वपूर्ण प्रगति की है। लॉन्च के बाद से कंपनी अपने पहले हाई-स्पीड इलेक्ट्रिक स्कूटर TVS iQube की 12,000 से अधिक यूनिट बेच चुकी है।

टीवीएस आईक्यूब एक स्मार्ट, कनेक्टेड और व्यावहारिक ईवी है जो ग्राहकों की दैनिक आवागमन की जरूरतों को पूरा करता है। कंपनी 5-25kW की रेंज में दो और तिपहिया वाहनों का एक पूरा पोर्टफोलियो तैयार कर रही है, जो अगले 24 महीनों के भीतर बाजार में उतारा जाएगा।
 
 यह साझेदारी देश में दोपहिया और तिपहिया ग्राहकों को ईवी अपनाने की दिशा में कदम बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित करेगी और साथ ही भारत के नेट-जीरो उत्सर्जन लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करेगी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मार्च में घट गई मोटर वाहनों की बिक्री, जानिए दोपहिया का क्या रहा हाल