Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia

PM मोदी ने अयोध्या में रखी श्रीराम मंदिर की आधारशिला, देशभर में मना दीपोत्सव, फोड़े पटाखे

webdunia

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

बुधवार, 5 अगस्त 2020 (21:43 IST)
नई दिल्ली/अयोध्या। उम्मीद के मुताबिक वही हुआ, जो सोचा था...कल भी अयोध्या में दिवाली मनी थी और आज भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन के बाद दिवाली मनाई जा रही है। इस ऐतिहासिक दिन को यादगार बनाने के लिए सिर्फ अयोध्या ही नहीं बल्कि पूरा देश जश्न मना रहा है। पटाखे फोड़े जा रहे हैं और घरों के आगे दीपक जलाए जा रहे हैं। लग रहा है कि देशवासी 'दीपावली' के पूर्व ही 'राम दिवाली' मना रहे हैं।
 
...और हो भी क्यों नहीं, बीते 500 सालों से देशवासियों ने भगवान श्रीराम की जन्मस्थली पर भव्य मंदिर बनाने का जो सपना देखा था, उसकी शुरुआत सुबह 11 बजकर 44 मिनट पर शुभ मुर्हुत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुणी आचार्यों के सानिध्य में पूरे विधि-विधान से मंत्रोच्चार के बीच कर दी। राम मंदिर के लिए भूमि पूजन का लाइव टेलीकास्ट देश ही नहीं, विदेशों में भी करोड़ों लोगों ने देखा। 
 
करीब साढ़े तीन सालों में बनने वाले दुनिया में सबसे भव्य राम मंदिर की शुरुआत से ही पूरा देश रोमांचित है, वह भी उस वक्त जबकि कोरोनाकाल चल रहा है और लोगों में निराशा व्याप्त है, ऐसे में प्रभु राम को ही सब याद कर रहे हैं क्योंकि राम सबके हैं और सब में बसे हुए। आज हर भारतीय आनंद में है और राम मंदिर निर्माण का उत्सव मना रहा है। खुशियों का इजहार कर रहा है।
webdunia
खुशी का यह सैलाब पूरे देश में दिखाई दे रहा है। लोगों ने मंदिरों में शंख-घड़ियाल बजाकर भगवान की पूजा की। लोग दीप लगाकर और पटाखे फोड़कर अपने आनंद को व्यक्त कर रहे हैं। इंदौर में लगातार फूट रहे पटाखे सहसा दीपावली की याद दिला रहे हैं, जबकि इसके आने में काफी समय है।

शहरवासी आज ही 'राम दिवाली' मनाकर तृप्त होना चाहते हैं। ये खुशी जाहिर होना लाजमी भी है क्योंकि पांच सदी तक की प्रतीक्षा के बाद रामभक्तों की अग्निपरीक्षा पूरी हुई है। 
 
इस वक्त देश में मानसून चल रहा है। कई स्थानों पर बारिश की फुहारें देखने को मिल रही है लेकिन इस मानसूनी मौसम ने लोगों के उत्साह को जरा भी कम नहीं किया है। देशभर से पूजा करने, दीपक जलाने और पटाखे फोड़कर जश्न मनाने के समाचार मिल रहे हैं।
webdunia

कई राजनेताओं और मंत्रियों ने अपने घरों में परिवार समेत पूजा की और भगवान राम की आरती उतारकर आशीर्वाद लिया। कई परिवारों ने घरों के बाहर ठीक उसी तर्ज पर रांगोली सजाई, जैसी दिवाली पर सजाते हैं।
 
पहले लिया हनुमानजी का आशीर्वाद : राम का कोई भी कार्य हनुमानजी के बिना अधूरा है, लिहाजा मोदी ने पहले हनुमानगढ़ी में उनका आशीर्वाद लिया और साष्टांग दंडवत किया, ठीक उसी तरह जिस तरह वे पहली बार प्रधानमंत्री बनने के बाद संसद भवन पहुंचे थे। 
webdunia
मोदी ने कहा कि हनुमानजी के आशीर्वाद से राम मंदिर बनने का काम शुरू हुआ है, ये मंदिर आधुनिकता का प्रतीक बनेगा। ये मंदिर हमारी राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा। करोड़ों लोगों की सामूहिक संकल्प शक्ति का भी प्रतीक बनेगा। पीएम मोदी ने कहा कि राम मंदिर आने वाली पीढ़ियों को संकल्प की प्रेरणा देता रहेगा।

अभिजीत मुहूर्त में किया भूमि पूजन : मध्याह्न करीब 12 बजकर 7 मिनट पर प्रधानमंत्री भूमिपूजन स्थल पहुंचे। श्री रामजन्म भूमि के गर्भगृह वाले स्थान पर करीब 40 मिनट तक अनुष्ठान चला। उसके बाद मोदी ने अभिजीत मुहूर्त में 12 बजकर 44 मिनट 32 सेकंड पर गर्भगृह में भगवान के राम जन्म स्थान पर बने कुंड में रखी गई चांदी की मुख्य कूर्मशिला पर मंत्रोच्चार के बीच गंध, अक्षत एवं पुष्प अर्पण किए। करीब 22 किलोग्राम 600 ग्राम वजन की मुख्य शिला के साथ ही पत्थर की 8 उपशिलाएं भी नींव में रखीं गई थी।
 
हम आगे बढ़ेंगे, देश आगे बढ़ेगा : प्रधानमंत्री ने कहा कि मुझे विश्वास है, हम सब आगे बढ़ेंगे, देश आगे बढ़ेगा। भगवान राम का ये मंदिर युगों-युगों तक मानवता को प्रेरणा देता रहेगा, मार्गदर्शन करता रहेगा। आज का दिन करोड़ों रामभक्तों के संकल्प की सत्यता का प्रमाण है। भूमिपूजन का दिन सत्य, अहिंसा, आस्था और बलिदान को न्यायप्रिय भारत की एक अनुपम भेंट है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Madhya Pradesh Coronavirus Update : सामने आए 652 नए मामले, एएसआई सहित 17 लोगों की मौत