Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

चिराग पासवान ने कह दी बड़ी बात, अंतिम सांस तक PM मोदी के विचारों के साथ खड़ा रहूंगा

webdunia
शनिवार, 24 अक्टूबर 2020 (00:36 IST)
पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा द्वारा बार-बार कटाक्ष करने के बाद भी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के दिल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए कभी सम्मान कम नहीं हुआ है। उन्होंने शुक्रवार को एक बड़ी बात कहते हुए‍ कहा कि मैं जीवन की अंतिम सांस तक पीएम मोदी के विचारों के साथ खड़ा रहूंगा।
 
मोदी चुनावी रैली के सिलसिले में बिहार आए थे और उन्होंने रैली के दौरान चिराग के दिवंगत पिता रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि अर्पित क्या की, चिराग भावनाओं में बह गए। इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया। 

चिराग ने ट्वीट कर कहा, आदरणीय नरेंद्र मोदी जी बिहार आते हैं और पापा को एक सच्चे साथी के जैसे श्रद्धांजलि देते हैं। यह कहना कि पापा की आख़री सांस तक वे साथ थे मुझे भावुक कर गया। एक बेटे के तौर पर स्वाभाविक है, पापा के प्रति प्रधानमंत्री जी का यह स्नेह व सम्मान देखकर अच्छा लगा। प्रधानमंत्री जी का धन्यवाद।

मोदी ने बिहार विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) प्रत्याशियों के पक्ष में रोहतास जिला के डेहरी आन सोन में अपनी पहली चुनावी रैली की शुरुआत लोजपा संस्थापक एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और मुख्य विपक्षी पार्टी राजद के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए की थी।

बिहार में सत्ताधारी राजग में शामिल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू से नाता तोड़कर अपने बलबूते चुनाव लड़ रहे लोजपा प्रमुख चिराग ने इससे पूर्व नीतीश पर कटाक्ष करते हुए कहा, आदरणीय प्रधानमंत्री जी का बेसब्री से इंतजार कर रहे आदरणीय नीतीश कुमार जी का इंतजार आज खत्म हो गया होगा।
 
उन्होंने कहा, आदरणीय अमित शाह जी के भी कह देने के बाद कि लोजपा बिहार चुनाव में राजग का हिस्सा नहीं है, नीतीश जी को तसल्ली नहीं हुई। अभी और प्रमाण पत्र चाहिए। आदरणीय नरेंद्र मोदी जी का स्वागत है।
चिराग ने इससे पहले कहा था कि प्रधानमंत्री गठबंधन धर्म निभा रहे हैं।

उन्होंने कहा था कि अपने पिछले पांच साल के शासनकाल के दौरान नीतीश ने क्या किया, यह बात भी उन्हें बताना चाहिए। चिराग ने आरोप लगाया कि नीतीश की खुद की कोई उपलब्धि नहीं होने के कारण वह अपने राजनीतिक गुरु लालू प्रसाद यादव (प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी राजद के प्रमुख) के नाम का डर दिखाकर वोट लेना चाहते हैं।
चिराग, नीतीश के 7 निश्चय कार्यक्रम को प्रदेश की पिछली महागठबंधन (जदयू-राजद-कांग्रेस) सरकार की योजना बताते इसमें भ्रष्टाचार होने का आरोप लगा चुके हैं। लोजपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि नीतीश जी तो पहले महागठबंधन का नेतृत्व कर रहे थे और रातोंरात पिछले दरवाजे से राजग में आ जाने के बाद अब अपने को ही राजग में सबसे पुराने सहयोगी बताते फिर रहे हैं, जो कि गलत है। (इनपुट भाषा से)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

IPL 2020 : हार से हताश CSK के कप्तान धोनी का अगले 3 मैचों के लिए बड़ा फैसला