बीआर चोपड़ा की महाभारत के बारे में कुछ रोचक बातें...

गुरुवार, 23 अप्रैल 2020 (09:31 IST)
1. 1985 में बीआर चोपड़ा ने टेलीविजन के लिए महाभारत बनाया। इसका पहली बार प्रसारण अक्टूबर 1988 को शुरू हुआ और जून 1990 को खत्म हो गया। महाभारत के 94 एपिसोड है।

 
2. गुफी पेंटल महाभारत के कास्टिंग डायरेक्‍टर थे, और उन्होंने शकुनि की भूमिका भी निभाई थी। विभिन्न पात्रों को अंतिम रूप देने के लिए उन्हें 8 महीने की वीडियो टेस्टिंग और हिन्दी डिक्शन टेस्‍ट में लगे।
 
3. रूपा गांगोली से पहले द्रौपदी का अहम रोल बॉलीवुड की सुपरस्टार जूही चावला को ऑफर किया गया था। लेकिन उन्होंने दूसरे प्रोजेक्ट की वजह से यह रोल करने से मना कर दिया।
 
4. शो में द्रौपदी चीर हरण के लिए बीआर चोपड़ा ने 250 मीटर की एक अनकट साड़ी बनवाई। द्रौपदी के चीर हरण का सीक्वेंस इतना दर्दनाक था कि उसे करते वक्त रूपा गांगुली रोने लगी थीं।
5. शो में कृष्णा का किरदार निभाने वाले नीतीश भारद्वाज को पहले विदुर के रोल के लिए कास्ट किया गया था। लेकिन बीआर चोपड़ा के बेटे रवि चोपड़ा को उनकी स्माइल इतनी पसंद आई की उन्होंने नी‍तीश को कृष्णा का रोल दे दिया।
 
6. महाभारत में अर्जुन का किरदार निभाने वाले एक्टर फिरोज खान ने असल जिंदगी में भी अपना यही नाम रख लिया था। डॉ राही मासूम रजा ने उन्हें अपना नाम बदलने की सलाह दी थी।
 
7. कर्ण का किरदार निभाने वाले एक्टर पंकज धीर एक युद्ध का सीन शूट करते वक्त बुरी तरह घायल हो गए थे। एक बाण उनकी आंख के पास लग गया था। इसके चलते उन्हें सर्जरी करवानी पड़ी थी।
 
8. महाभारत में दुर्योधन का किरदार निभाने वाले पुनीत ईस्सर की कास्टिंग पहले भीम के रोल के लिए तय हुई थी। फिर बाद में उन्हें दुर्योधन का किरदार निभाया।
9. प्रवीण कुमार, जो महाभारत में भीम की भूमिका निभाते थे, एक फेमस इंडियन एथलीट थे। उन्होंने ओलंपिक्स में भाग लिया था और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे।
 
10. भीष्म की भूमिका निभाने वाले मुकेश खन्ना को दुर्योधन की भूमिका की पेशकश की गई थी। हालांकि, उन्होंने इस भूमिका को लेने से इंकार कर दिया क्योंकि वह नेगेटिव किरदार नहीं निभाना चाहते थे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख दुबई में फंसे सोनू निगम इस वजह से हो रहे ट्रोल, सपोर्ट में आए अदनान सामी