Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर के बीच क्या हुआ था विवाद, जानिए वहां मौजूद गवाह की जुबानी

हमें फॉलो करें webdunia
मामले को दस साल से भी ज्यादा हो गए हैं और तनुश्री दत्ता ने फिर मुद्दा उठाया है। उनके साथ 'हॉन ओके प्लीज़' के सेट पर दुर्व्यवहार हुआ था। नाना पाटेकर सहित फिल्म से जुड़े कुछ लोगों का नाम उन्होंने लिया है। 
 
अब तनुश्री सही हैं या गलत, इसका फैसला करना कठिन है, लेकिन मौके पर एक पत्रकार मौजूद थीं जिसने सोशल मीडिया पर इस घटना का वर्णन किया है। नाम है जेनिस सेक्वेरिया। इस पत्रकार पर कई लोगों को विश्वास है और फिल्म इंडस्ट्री के अनुराग कश्यप, सोनम कपूर, फरहान अख्तर ने जेनिस से अपनी सहमति जताई है।

ALSO READ: सुई धागा : फिल्म समीक्षा

जेनिस ने ट्वीट के जरिये बताया है- मैं एक रिपोर्टर थी और आज तक तथा हेडलाइंस टूडे के लिए काम करती थी। हॉर्न ओके प्लीज का गाना फिल्माया जाना था जिसे कवर करने के लिए मैं वहां पहुंची। मुझे बताया गया कि शूटिंग रूक गई है और इसकी वजह है तनुश्री दत्ता जिन्होंने व्यवधान पैदा कर दिया है। 
 
मैं सेट पर तनुश्री को देख पा रही थी। वे अपसेट नजर आ रही थीं। नाना पाटेकर, कोरियोग्राफर गणेश आचार्य और एक आदमी (जो कि शायद निर्माता था) आपस में बात कर रहे थे। 50 से ज्यादा डांसर्स इंतजार कर रहे थे। अधिकृत रूप से बताया गया कि हीरोइन सहयोग नहीं कर रही है। 

webdunia

 
कुछ देर बाद शूटिंग शुरू हुई। तनुश्री ने काम करना शुरू किया। नाना पाटेकर भी शामिल हुए। थोड़ा समय बीता और तनुश्री सेट से चली गईं। शूटिंग फिर रूक गई। तनुश्री ने अपनी वैनिटी वैन में अपने आपको बंद कर लिया। वे बाहर निकलने को तैयार ही नहीं थीं। 
 
अचानक कुछ गुंडे आ गए। वे वैनिटी वैन का दरवाजा जोर-जोर से पीटने लगे। मुझे बताया गया कि इन लोगों को निर्माता ने बुलाया है। पुलिस भी आ पहुंची। अफरा-तफरी मची थी। मेरे सामने नाना पाटेकर आ गए। उन्होंने कहा- 'मेरी बेटी जैसी है।' इस बात का उस समय कोई मतलब ही नहीं था। 
 
इसी बीच तनुश्री के पैरेंट्स भी आ पहुंचे। वे तनुश्री को लेने आए थे। उनकी कार पर भी हमला किया गया। कांच फोड़ दिए गए। मैंने तनुश्री से इस बारे में बात करना चाही, लेकिन हो नहीं पाई। 
 
मुझे तनुश्री ने आधी रात को उसके घर बुलाया। उसकी आंखों में आंसू थे। उसने मुझे बताया कि वास्तव में हुआ क्या था। तनुश्री ने बताया कि तीन दिन की रिहर्सल के बाद गणेश आचार्य ने शूटिंग के दौरान सारे स्टेप्स बदल दिए। नाना पाटेकर का उस गाने में कोई काम नहीं था, लेकिन निर्माता से बात कर वे गाने में शामिल हो गए और मेरे साथ डांस करना चाहते थे। 
 
 
 
अचानक उन्होंने एक ऐसे स्टेप की मांग कर दी जिससे नाना मुझे तनुश्री को छू सके। इससे तनुश्री को दाल में काला नजर आया और उन्होंने सेट छोड़ कर जाने का फैसला किया। उनको उम्मीद नहीं थी कि निर्माता ऐसा आक्रामक व्यवहार करेगा। 
 
जेनिस के अनुसार दत्ता ने उस रात वही बताया था जो वे इन दिनों बता रही हैं। यदि वे झूठ बोलती तो दस साल बाद भी इसी बात को शायद ही दोहरा पाती। 
 
कुछ लोग सवाल उठा रहे हैं कि तनुश्री इतने वर्षों बाद क्यों बता रही हैं। शायद मीटू मूवमेंट ने उन्हें इस बात को कहने के लिए प्रेरित किया हो। 
 
जेनिस के इन ट्वीट्स ने खासी हलचल मचा दी है और उन्हें बॉलीवुड से अच्‍छा समर्थन मिला है। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सुई धागा : फिल्म समीक्षा