अक्षय कुमार हुए 52 के, 25 रोचक जानकारियां

1) नौ सितंबर 1967 को अमृतसर में जन्मे अक्षय कुमार का वास्तविक नाम राजीव हरीओम भाटिया है। 
 
2) दिल्ली के चांदनी चौक में बचपन गुजारने के बाद अक्षय मुंबई आए और डॉन बास्को स्कूल तथा गुरुनानक खालसा कॉलेज में पढ़ाई की। 
 
3) अक्षय कुमार ताइक्वांडो में ब्लैक बेल्ट हैं। 
 
4) मार्शल आर्ट्स में उनकी गहरी रूचि है। बैंकॉक वे मार्शल आर्ट्स सीखने गए और खाली समय में उन्होंने शेफ तथा वेटर की नौकरी भी की। 
 
5) मुंबई आकर अक्षय मार्शल आर्ट्स का प्रशिक्षण देने लगे। उनके एक विद्यार्थी ने, जो कि एक फोटोग्राफर था, अक्षय को कहा कि वे दिखने में हैंडसम हैं और उन्हें मॉडलिंग में किस्मत आजमाना चाहिए। 

6) मॉडलिंग में जल्दी ही अक्षय को मौका मिल गया। मॉडलिंग के लिए उन्होंने दो दिन शूटिंग की और उन्हें इतने पैसे मिल गए जितना वे मार्शल आर्ट सीखा कर महीने भर में कमाते थे। बस फिर क्या था, अ‍क्की ने फैसला कर लिया कि ये मॉडलिंग और फिल्म लाइन ज्यादा अच्छी है। 
 
7) अक्षय मॉडलिंग के साथ-साथ फिल्म निर्माताओं के दफ्तर में भी चक्कर लगाने लगे। एक बार बैंगलोर उन्हें एक विज्ञापन की शूटिंग के लिए जाना था और अक्षय फ्लाइट मिस कर गए। खाली वक्त का उपयोग करते हुए वे एक फिल्म निर्माता के दफ्तर में काम मांगने गए और उन्हें शाम को ही प्रमोद चक्रवर्ती की फिल्म 'दीदार' में हीरो का रोल मिल गया।
 
8) अक्षय कुमार ने महेश भट्ट की फिल्म 'आज' (1987) में एक मार्शल आर्ट्स इंस्ट्रक्टर की छोटी सी भूमिका निभाई थी जो मात्र सात सेकंड की थी।
 
9) अक्षय कुमार को जब पता चला कि राजेश खन्ना 'जय शिव शंकर' नामक फिल्म बनाने जा रहे हैं और उन्हें एक युवा कलाकार की जरूरत है तो वे काका के दफ्तर जा पहुंचे। दो-तीन घंटे तक उन्होंने इंतजार किया, लेकिन राजेश खन्ना उनसे मिले बिना ही चले गए। अक्षय कुमार कहते हैं कि उन्होंने उस दिन सपने में भी नहीं सोचा था कि वे एक दिन राजेश खन्ना की बेटी से विवाह रचाएंगे।  
 
10) बतौर हीरो सौगंध (1991) रिलीज होने वाली अक्षय कुमार की सबसे पहली फिल्म थी।

11) अक्षय कुमार के पैर जब बॉलीवुड में जम गए और धड़ाधड़ फिल्मों के ऑफर आने लगे तो उन्होंने ढेर सारी फिल्में साइन कर ली। 1994 में तो ये हाल था कि अक्षय कुमार की चार-पांच नहीं बल्कि 11 फिल्में रिलीज हुई थीं। इनके नाम हैं ऐलान, ये दिल्लगी, जय किशन, मोहरा, मैं खिलाड़ी तू अनाड़ी, इक्के पे इक्का, अमानत, सुहाग, जख्मी दिल, जालिम और हम हैं बेमिसाल। अक्षय तेज गति से काम करना पसंद करते हैं। यही वजह है कि अभी भी उनकी वर्ष में तीन से चार फिल्में रिलीज होती हैं।  
 
12) अक्षय कुमार बड़े दिलफेंक रहे हैं। पूजा बत्रा, रवीना टंडन, शिल्पा शेट्टी के साथ उन्होंने जमकर रोमांस किया। इनके बाद ट्वींकल खन्ना ने अक्षय की लाइफ में एंट्री ली और अक्षय से शादी कर ही मानी। 
 
13) शादी के बाद भी अक्षय का नाम प्रियंका चोपड़ा से जोड़ा गया। दोनों ने कुछ फिल्में भी की। कहा जाता है कि ट्वींकल ने अक्षय को कहा कि वे प्रियंका के साथ कभी काम नहीं करेंगे और उनकी बात का अक्षय अब तक पालन कर रहे हैं। 
 
14) खिलाड़ियों का खिलाड़ी में जो रोल रेखा ने निभाया था, उसे पहले डिम्पल कपाड़िया को ऑफर किया गया था। डेट्स की समस्या होने के कारण डिम्पल वो फिल्म नहीं कर पाई। इस फिल्म में रेखा और अक्षय के बीच एक हॉट गाना फिल्माया गया था। अब सब का मानना है कि अच्छा ही हुआ कि वो फिल्म डिम्पल ने नहीं की। 
 
15) डिम्पल के घर के सामने से जब भी अक्षय गुजरते हैं तो वे कार में से ही फोन कर डिम्पल को खिड़की में आने के लिए कह देते हैं और कार में बैठे-बैठे ही डिम्पल को नमस्कार कर लेते हैं।

16) उनकी आठ फिल्मों के नाम में 'खिलाड़ी' शब्द आया है इसलिए अक्षय कुमार को खिलाड़ी कुमार भी कहा जाता है। खिलाड़ी शब्द वाली ज्यादातर फिल्में हिट रही हैं। खिलाड़ी (1992), मैं खिलाड़ी तू अनाड़ी (1994), सबसे बड़ा खिलाड़ी (1995), खिलाड़ियों का खिलाड़ी (1996), मि. एंड मिसेस खिलाड़ी (1997), इंटरनेशनल खिलाड़ी (1999), खिलाड़ी 420 (2000) और खिलाड़ी 786 (2012) जैसी खिलाड़ी वाली फिल्मों में अक्की ने काम किया है।  
 
17) खिलाड़ियों का खिलाड़ी में अक्षय के नाम पर एक गीत है, जिसमें बताया गया है कि बिना किसी गॉडफादर या रिश्तेदार के उन्होंने अपनी जगह बॉलीवुड में बनाई है। गीत के बोल हैं- 'ना हम अमिताभ, ना दिलीप कुमार, ना किसी हीरो के बच्चे, हम हैं सीधे-सादे अक्षय-अक्षय...’। 
 
18) हेराफेरी (2000) अक्षय कुमार के करियर का टर्निंग पाइंट साबित हुई। इस दौर में एक्शन और फॉर्मूला फिल्मों का असर कम हो रहा था। सनी देओल, सुनील शेट्टी, गोविंदा, अक्षय कुमार के करियर पर ग्रहण लगने लगा था। हेराफेरी के जरिये अक्षय ने साबित किया कि वे कॉमेडी भी अच्‍छी कर लेते हैं और इसके बाद उन्होंने कई हास्य फिल्मों में काम किया। 
 
19) अक्षय बेहद अनुशासित तरीके से जिंदगी जीते हैं। उनके जागने और सोने का समय तय है। रात को 9.30 बजे ‍वे बिस्तर पर चले जाते हैं और सुबह चार बजे उठते हैं। यदि रात को सोने में देर भी हो जाए तो भी वे चार बजे ही उठते हैं। इसीलिए फिल्मी पार्टियों से दूर रहते हैं। अपनी डाइट को लेकर भी वे बेहद सतर्क हैं।
 
20) बॉलीवुड में आमतौर पर दोपहर से काम शुरू होकर देर रात तक चलता है, लेकिन अक्षय कुमार यदि फिल्म में हो तो पूरी यूनिट को सुबह काम पर पहुंचना होता है।

21) वर्ष में दो बार वे घूमने जाते हैं। एक बार पत्नी ट्विंकल, बेटे अराव और बेटी नितारा के साथ और दूसरी बार अराव के साथ। ज्यादातर वे ऐसा देश चुनते हैं जहां उन्हें कोई नहीं जानता हो। वे वहां कार से घूमते हैं। रोड साइड होटलों में रूकते हैं और जिंदगी को नजदीक से जानने की कोशिश करते हैं।
 
22) अक्षय कुमार की बेटी का नाम नितारा है जो अपने पापा को 'अक्की बेटा' कह कर बुलाती है। अराव के बारे में अक्षय कुमार के ससुर राजेश खन्ना ने भविष्यवाणी की है कि वह सुपरस्टार बनेगा। 
 
23) अक्षय कुमार अपने बच्चों को मीडिया से दूर रखते हैं। उनका मानना है कि इससे उनका बचपन सामान्य रहेगा। 
 
24) आउटडोर गेम्स और स्टंट्स करना उन्हें बेहद पसंद है। ‘खिलाड़ियों का खिलाड़ी’ की शूटिंग के दौरान अक्षय ने अंडरटेकर नामक पहलवान को उठा लिया था, जिससे उन्हें कमर में दर्द की लंबे समय तक शिकायत रही। अपने इसी स्वभाव के कारण अक्षय ने ‘खतरों के खिलाड़ी : फियर फैक्टर’ नामक टीवी शो से जुड़ना पसंद किया और इसको होस्ट किया। 
 
25) महिलाओं की अक्षय बेहद इज्जत करते हैं और उन्हें पुरुषों से ज्यादा ताकतवर मानते हैं। शायद इसीलिए वे अपनी मां, बहन, पत्नी, बेटी और सास के बेहद नजदीक हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 'थप्पड़' में अनुभव सिन्हा के साथ दोबारा काम करने जा रही हैं तापसी पन्नू, इस दिन रिलीज होगी फिल्म