बजट 2003-04 : ‍मुख्य बिंदु

वित्तमंत्री के बजट भाषण के मुख्‍य बिन्दु

*आयकर और निगमित कर दरों में कोई परिवर्तन नहीं।
*व्यक्तिगत आयकर पर 5 प्रतिशत का अधिभार हटा, अन्य अधिभार आधे हुए।
*मानक कटौती बढ़ी।
*शेयर होल्डरों का लाभांश कर मुक्त।
*आवास ऋणों पर कर संबंधी रियायतें जारी।
*वरिष्ठ नागरिकों और विकलांगता वाले व्यक्तियों को करों में अधिक छूट।
*लाइट डीजल पर 1.50 रुपए प्रति लीटर का अतिरिक्त उत्पादन शुल्क।

*डीजल और मोटर स्पिरिट पर 50 पैसे का अधिभार।
*उत्पाद शुल्क के लिए त्रि.स्तरीय ढाँचा प्रस्तावित।
*शीर्ष सीमा शुल्क 30 से घटकर 25 प्रतिशत।
*मोटर कार, एयर कंडीशनर और शीतल पेय सस्ते।
*आधारभूत संरचना परियोजनाओं पर अधिक जोर।

*40 हजार करोड़ रुपए की 48 नई सड़क परियोजनाएँ।
*दो हवाई अड्डों और दो बंदरगाहों का आधुनिकीकरण किया जाएगा।
*कपड़ा क्षेत्र के लिए कई प्रोत्साहन।
*कई परिधानों और कपड़ों पर उत्पाद शुल्क घटा।

*गरीबी उन्मूलन और ग्रामीण विकास योजनाओं की विकास समिति।
*सरकारी कार्मचारियों के लिए एलटीसी बहाल।
*सार्वजनिक भविष्य निधि और लघु बचत पर ब्याज दर में एक प्रतिशत कमी।
*भारतीय जीवन बीमा निगम नौ प्रतिशत आय वाली एक विशेष पेंशन योजना चलाएगा।
*आवासीय संपत्ति के निर्माण या खरीद के लिए डेढ़ लाख रुपए तक आयकर के अधीन कटौती योग्य ब्याज जारी रखा जाएगा।
*दो बच्चों के लिए प्रति बच्चा ।2000 रुपए तक के शिक्षा खर्च पर आयकर में छूट।
*पचास किलो यूरिया बैग कीमत 12 रुपए, डीएपी तथा एमओपी की कीमत दस रुपए बढ़ी मिश्रित उर्वरक की कीमतें भी बढेंगी।

*खुरदरे रंगीन रत्नों पर सीमा शुल्क घटकर पाँच प्रतिशत।
*आयातित सोने पर सीमा शुल्क घटकर 100 रुपए प्रति दस ग्राम किया गया।
*सीमेंट की दर में 50 रुपए प्रति टन की बढोतरी।
*हलके डीजल पर प्रति लीटर डेढ़ रुपए अतिरिक्त उत्पाद शुल्क।

*बिना ब्रांड की सर्जरी पट्टियाँ, रजिस्टर, छतरियाँ, क‍िरासिन, प्रेशर लालटेन, नकली जरी, चेपदार टेप, साइकिलें, खिलौने, बर्तन और रसोई की वस्तुएँ, चित्रित टाइलें, शोधक चश्मों के शीशे सस्ते।
*मोटर कार पर उत्पाद शुल्क 32 से घटकर 25 प्रतिशत।
*साधारण सेवा कर 5 प्रतिशत से बढ़कर 8 प्रतिशत तथा दस नई सेवाओं पर लेवी लगाई गई।

वेबदुनिया पर पढ़ें