Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्या आपका रिज्यूम कर सकता है 6-सेकंड टेस्ट पास?

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 30 जुलाई 2016 (09:34 IST)
आप नौकरी की तलाश में हैं या चाहते हैं बेहतर जॉब। आपकी पहली जरूरत है आपका रिज्यूम। कैसे करेगा आपका रिज्यूम 6-सेकंड टेस्ट पास?


 
आप सबसे पहले इसे ही तैयार करने में लग जाते हैं। इससे पहले कि आपका रिज्यूम आप भेज दें, खुद से पूछिए कि क्या आपका रिज्यूम कर सकता है 6-सेकंड टेस्ट पास? अगर नहीं तो आपको नौकरी मिलने की संभावना बहुत ही कम है। 
 
आपके दिमाग में तुरंत कौंध गया ऐसा कैसे, क्यों। जवाब है कि एक स्टडी से यह साबित हो चुका है कि रिक्रुटर्स आपके रिज्यूम को 10 से भी सेंकड के लिए देखते हैं। 
 
आपके रिज्यूम को रिक्रुटर ने कितनी देर देखा? असलियत में सिर्फ 6 सेंकड के लिए। जब बात साफ हो गई है कि आपके रिज्यूम के पास सिर्फ 10 सेकंड हैं रिज्यूम टेस्ट पास करने के लिए तो फिर इन टिप्स पर आपको जरूर अमल करना चाहिए। 
 
प्रोफेशनल रिज्यूम : आपका रिज्यूम प्रोफेशनली लिखा होना चाहिए। इसमें जरूरी जानकारी एक के बाद एक साफतौर पर लिखी होनी चाहिए। प्रोफेशन रिज्यूम में कम बात लिखी होती है और उसे आप क्लीयर (साफ लिखा हुआ) बनाएं। 
 
पढ़ने में आसान : आपकी कंपनी में बातचीत तब शुरू नहीं हुई जब आप इंटरव्यू के लिए पहुंचे बल्कि तब हुई जब आपका रिज्यूम आपका प्रतिनिधि बनकर पहुंचा। 
 
आप कैसे भी अपने बारे में जानकरी न दें। आपके कुछ कहने से पहले, आपके रिज्यूम में आपकी बात रखने की खूबी होनी चाहिए जिसे आसानी से पढ़ा जा सके। रिज्यूम में कोई ग्रामर या स्पेलिंग की गलती न हो। भाषा को सिंपल रखें। 
 
साइज पर ध्यान दें : बेवजह रिज्यूम को लंबा न करें। लंबा रिज्यूम झिलाऊ होता है और रिक्रुटर्स को इसमें कोई रूचि नहीं। अपनी बात कम से कम शब्दों में कहने की कोशिश करें। उन्हें वही जानकारी दें जो उनके काम की हो। 
 
अगले पेज पर क्या है स्टैंडर्ड फोर्मेट... 

स्टैंडर्ड फोर्मेट अपनाएं : रिज्यूम के पेज और कलर पर अधिक कलाकारी न करें। स्टैंडर्ड ब्लैक लेटर, वाइट पेपर का इस्तेमाल करें। पिंक, ब्लू और कोई कलर अच्छा इंप्रेशन नहीं छोड़ते। 

webdunia
 
हॉबीज न लिखें : आप पहाड़ चढ़ते हैं या गिटार बजाते हैं, कंपनी को आपकी इन खूबियों की जरूरत नहीं। बेहतर है आप इन खूबियों का बखान कर अपने रिज्यूम को बोरिंग और लंबा न बनाएं। 
 
रिज्यूम में हॉबी लिखना बचकाना है। इससे बचे और सिर्फ उन्हीं खूबियों का जिक्र करें तो आपकी काम से जुड़ी हों। 
 
सही जानकारी दें : रिज्यूम आपकी ईमानदारी का सबूत है। इसमें गलत जानकारी न दें। जो आप नहीं हैं खुद को वैसा साबित न करें। 
 
कई बार गलत जानकारी आपके लिए मुश्किल खड़ी कर सकती है। कई बार कंपनियां कर्मचारियों का झूठ पकड़ने के बाद उन्हें निकाल देती हैं। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

गांव में बच्चों की पढ़ाई के लिए इंजीनियर ने बेचा घर