Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Corona India Update: भारत में कोरोना के 16 हजार नए मामले, 68 और मरीजों की मौत

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 13 अगस्त 2022 (11:12 IST)
नई दिल्ली। भारत में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के करीब 16 हजार नए मामले सामने आए और संक्रमण से 68 मरीजों की मौत हो गई। मौत के इन 68 मामलों में 24 ऐसे लोग भी शामिल हैं जिनके नाम आंकड़ों का पुन:मिलान करते हुए केरल ने संक्रमण से हुई मौत की सूची में डाले हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शनिवार को अद्यतन किए गए आंकड़ों में यह जानकारी दी गई।
 
शनिवार सुबह 8 बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक गत 24 घंटे के दौरान उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 4,271 की कमी आई है, अब उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,19,264 रह गई है, जो कुल मामलों का 0.27 प्रतिशत है।
 
आकंड़ों के मुताबिक कोविड-19 के 15,815 नए मामले सामने आने के साथ देश में अब तक संक्रमित हुए लोगों की कुल संख्या 4,42,39,372 हो गई है जबकि 68 लोगों की मौत से महामारी में जान गंवाने वालों की कुल संख्या 5,26,996 तक पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोविड-19 से उबरने की राष्ट्रीय दर 98.54 प्रतिशत है।
 
आंकड़ों के मुताबिक दैनिक संक्रमण दर 4.36 प्रतिशत जबकि साप्ताहिक संक्रमण दर 4.79 प्रतिशत है। कोविड-19 से मृत्यु दर 1.19 प्रतिशत है। मंत्रालय ने बताया कि अब तक 4,35,93,112 मरीज संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। कोविड-19 से बचाव के लिए राष्ट्रीय स्तर पर चल रहे टीकाकरण अभियान के तहत अब तक 207.71 करोड़ खुराक दी जा चुकी है।
 
गौरतलब है कि देश में 7 अगस्त 2020 को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और 5 सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे।
 
देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले 1 करोड़ से अधिक हो गए थे। पिछले साल 4 मई को संक्रमितों की संख्या 2 करोड़ और 23 जून 2021 को 3 करोड़ के पार पहुंच गई थी। इस साल 25 जनवरी को संक्रमण के मामले 4 करोड़ के पार हो गए थे।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

राजग जैसा हाल न हो इसलिए सतर्क हुआ ‘महागठबंधन’, समिति का करेगा गठन