Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

96 देशों ने दी भारत की दोनों वैक्सीन कोवैक्सीन और कोविशील्ड को मान्यता, चेक करें List

webdunia
मंगलवार, 9 नवंबर 2021 (18:40 IST)
नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मांडविया ने मंगलवार को कहा कि भारतीय कोविड टीकों की स्वीकृति पूरी दुनिया में बढ़ रही है और 96 देशों ने इसे स्वीकार करने की सहमति दी है। इन देशों में अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, रूस और अफ्रीकी देश शामिल हैं।

मांडविया ने यहां कहा कि दुनिया के 96 देशों ने भारतीय कोविड टीकाकरण प्रमाण-पत्र को पारस्परिकता को आधार पर स्वीकृति दी है। यह भारतीय टीकों और टीकाकरण प्रक्रिया की विश्वव्यापी स्वीकृति को दर्शाता है।
 
उन्होंने कहा कि इससे शिक्षा, कारोबार और पर्यटन के लिए यात्रा आसान हो सकेगी। भारत में निर्मित दोनों कोविड रोधी टीकों कोविशिल्ड और कोवैक्सिन को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मान्यता देते हुए इन्हें आपात प्रयोग सूची में शामिल किया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जो लोग विदेश यात्रा करना चाहते हैं, उनके लिए अंतरराष्ट्रीय यात्रा टीकाकरण प्रमाणपत्र कोविन पोर्टल से डाउनलोड किया जा सकता है।
webdunia

भारतीय कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट को स्वीकार करने वाले देशों में कनाडा, अमेरिका, बंगलादेश, माली, घाना, सिएरा लियोन, अंगोला, नाइजीरिया, बेनिन, चाड, हंगरी, सर्बिया, पोलैंड, स्लोवाक गणराज्य, स्लोवेनिया, क्रोएशिया, बुल्गारिया, तुर्की, यूनान, फिनलैंड, एस्टोनिया, रोमानिया, मोल्दोवा, अल्बानिया, चेक गणराज्य, स्विट्‍जरलैंड, लिकटेंस्टीन, स्वीडन, ऑस्ट्रिया, मोंटेनेग्रो, आइसलैंड, एस्वातिनी, रवांडा, ज़िम्बाब्वे, युगांडा, मलावी, बोत्सवाना, नामीबिया, किर्गिज़ गणराज्य, बेलारूस, आर्मेनिया, यूक्रेन, अज़रबैजान, कज़ाखस्तान , रूस, जॉर्जिया, यूनाइटेड किंगडम, फ्रांस, जर्मनी, बेल्जियम, आयरलैंड, नीदरलैंड, स्पेन, अंडोरा, कुवैत, ओमान, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन, कतर, मालदीव, कोमोरोस, श्रीलंका, मॉरीशस, पेरू, जमैका, बहामास, ब्राजील, गुयाना, एंटीगुआ और बारबुडा, मैक्सिको, पनामा, कोस्टारिका, निकारागुआ, अर्जेंटीना, उरुग्वे, पराग्वे, कोलंबिया, त्रिनिदाद और टोबैगो, डोमिनिका राष्ट्रमंडल, ग्वाटेमाला, अल सल्वाडोर, होंडुरास, डोमिनिकन गणराज्य, हैती, नेपाल, ईरान, लेबनान, फिलिस्तीन, सीरिया, दक्षिण सूडान, ट्यूनीशिया, सूडान, मिस्र, ऑस्ट्रेलिया, मंगोलिया और फिलीपींस शामिल हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

चन्नी सरकार ने लिए अनेक फैसले, एजी का इस्तीफा मंजूर, डीजीपी भी नया होगा, 36 हजार कर्मचारी पक्के होंगे