अमित शाह ने प्रवासी श्रमिकों, किसानों के लिए विशेष राहत पैकेज की घोषणा का स्वागत किया

शुक्रवार, 15 मई 2020 (00:48 IST)
नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने प्रवासी श्रमिकों, गरीबों एवं किसानों के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा घोषित विशेष पैकेज का यह कहते हुए स्वागत किया कि यह पहल मोदी सरकार की ‘सबका साथ, सबका विकास’ नीति के अनुरूप है।
 
शाह ने अपने ट्वीट में कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने किसानों की मदद के लिए हर प्रयास किया है जो अपने कठिन परिश्रम से देश को भोजन कराते हैं।
 
उन्होंने कहा कि सबका साथ सबका विकास के मूल मंत्र को ध्यान में रखकर देश के गरीबों, किसानों, श्रमिकों और मध्यवर्ग को प्रदान की गई राहत के लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को धन्यवाद देता हूं। 
 
प्रवासी मजदूरों और शहरी गरीबों को दो महीने के लिए मुफ्त राशन देने के लिए प्रधानमंत्री की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि इस घोषणा से 8 करोड़ लोग लाभान्वित होंगे जिसके लिए सरकार ने 3500 करोड़ रुपए निर्धारित किए हैं।
 
शाह ने ट्वीट किया कि इस वैश्विक महामारी के कारण किराए पर रहने वाले अनेक प्रवासी श्रमिकों को समस्या आई है, इसके लिए मोदी सरकार पीएमएवाई के अंतर्गत एक योजना शुरू करके इन प्रवासी मजदूरों एवं शहर में रहने वाले गरीब बेघर लोगों को सस्ते किराए पर आवास उपलब्ध करवाएगी। इस पहल का हृदय से स्वागत करता हूं। 
 
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार राज्यों के राज्य आपदा राहत कोष को प्रवासी श्रमिकों को रहने एवं खाने की सुविधा प्रदान करने के लिए पहले ही 11,002 करोड़ रुपए दे चुकी है। 
 
उन्होंने कहा कि 3 करोड़ किसानों को 4,22,000 करोड़ रुपए का ऋण देना और 25 लाख नए किसान क्रेडिट कार्ड जारी करना मोदी सरकार की किसानों के कल्याण के प्रति संवेदनशीलता और उसकी प्रतिबद्धता दर्शाता है।
 
शाह ने लॉकडाउन के चलते बेरोजगार हो गए रेहड़ी-पटरीवालों को 5000 करोड़ रुपए की कार्यशील पूंजी ऋण और प्रवासी मजूदरों को देश में कहीं भी राशनकार्ड का उपयोग करने की इजाजत प्रदान करना सराहनीय कदम हैं। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख इंदौर में 1053 सैंपलों में से 61 की Corona रिपोर्ट पॉजिटिव, संक्रमितों का आंकड़ा 2300 के नजदीक