Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अमेरिका में टीकाकरण अभियान को बड़ा झटका, खराब मौसम से बढ़ी मुसीबत, कई स्थानों पर वैक्सीनेशन बंद

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
शनिवार, 20 फ़रवरी 2021 (10:20 IST)
वॉशिंगटन। विश्व के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका में वैश्विक महामारी कोरोनावायरस का प्रकोप लगातार जारी है और इस महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक देश में करीब 5 लाख लोगों की मौत हो गई है, जो विश्व में कोरोना से हुई कुल मौतों का लगभग 20% है। खराब मौसम के कारण यहां टीकाकरण अभियान को बड़ा झटका लगा है
 
अमेरिका में कोरोना से लगातार उथल-पुथल जारी है तथा यहां संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 2 करोड़ 78 लाख 96 हजार से अधिक हो गई है जबकि 4.95 लाख लोगों की जान चली गई है।
 
कोविड-19 टीकाकरण अभियान में देरी का बचाव : अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने शनिवार को अति आधुनिक कोरोना वायरस टीका उत्पादन केंद्र का दौरा किया तथा खराब मौसम के कारण टीकाकरण अभियान में बाधा को लेकर सफाई दी। टीके की 60 लाख खुराक पहुंचाने में देरी से टीकाकरण अभियान को पहला बड़ा झटका लगा है और कई सामुदायिक केंद्रों पर टीकाकरण को अस्थायी तौर पर बंद करना पड़ा है।
 
मौसम की वजह से टीका वितरण के प्रभावित होने की बात को स्वीकार करते हुए मिशिगन स्थित फाइजर के संयंत्र में बाइडन ने कहा कि उनका मानना है कि इस साल के अंत तक हालात सामान्य हो जाएंगे।
 
webdunia
कई इलाकों में तापमान शून्य से नीचे : अमेरिका के कई इलाकों में तापमान शून्य से नीचे चला गया है जिसकी वजह से टीके की खेप गंतव्य तक पहुंचाने में कम से कम तीन दिन में देरी हुई है और व्हाइट हाउस एवं राज्य इस समय टीकों की भरपाई के लिए संघर्ष कर रहे हैं।
 
गरीब देशों को करेंगे 4 अरब डॉलर की मदद : इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन गरीब देशों को कोरोनावायरस (कोविड-19) वैक्सीन की आपूर्ति के लिए 4 अरब डॉलर की मदद करनी की घोषणा करेंगे।
 
क्या बोले WHO के महानिदेशक : डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस घेबियस ने कहा कि कोरोना के मामले और इस महामारी से मौतें कम हो रही है। अब हमारे पास शक्तिशाली तरीके है जिसकी एक वर्ष पहले तक हम कल्पना ही कर सकते थे। उन्होंने कहा कि सभी देशों की सरकारों को इस महामारी के खिलाफ एकजुट होना होगा और यह सुनिश्चित करना होगा कि कोरोना की वैक्सीन सभी देशों को मिले जो कि इस महामारी को खत्म करने और लोगों की जान बचाने का सबसे बेहतर तरीका है।
 
अर्जेंटीना में टीकाकरण पर बवाल : कोविड-19 टीकाकरण के लिए प्राथमिकता समूह से बाहर के लोगों को टीके दिए जाने पर विवाद के बीच अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अल्बर्टों फर्नांडीज ने स्वास्थ्य मंत्री को इस्तीफा देने के लिए कहा है। स्वास्थ्य मंत्री पर आरोप है कि उन्होंने कोविड-19 टीकाकरण के लिए प्राथमिकता समूह में नाम नहीं होने के बावजूद एक जाने-माने स्थानीय पत्रकार को टीका दिए जाने की सिफारिश की थी। 
 
अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 11.03 करोड़ हो गई है और 24 लाख 41 हजार 582 मरीज अपनी जान गंवा चुके हैं। अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा लोग भारत में संक्रमित हुए हैं जबकि तीसरे स्थान पर ब्राजील है। 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
नियम विरुद्ध टीके लगवाना पड़ा महंगा, अर्जेंटीना के स्वास्थ्य मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा