Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मध्यप्रदेश में 6 फरवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स का वैक्सीनेशन, पुलिस, ननि, जिला प्रशासन के लगभग 3 लाख कर्मचारियों को लगेगी वैक्सीन

हेल्थ वर्कर्स के संपूर्ण वैक्सीनेशन का काम 28 फरवरी तक होगा पूरा

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

विकास सिंह

मंगलवार, 2 फ़रवरी 2021 (11:30 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन के पहले चरण में हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लगने के बाद अब फ्रंटलाइन वर्कर्स का वैक्सीन लगाने का काम शुरु किया जा रहा है। प्रदेश में 6 फरवरी से दूसरे चरण का वैक्सीनेशन का काम शुरु हो जाएगा। दूसरे चरण में पुलिसकर्मियों, जिलाप्रशासन,नगर निगम और पंचायत  विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। प्रदेश में फ्रंट लाइन वर्कर्स की संख्या करीब 2 लाख 80 हजार के करीब है। स्वास्थ्य विभाग ने छह सप्ताह में सभी फ्रंट लाइन वर्कर्स के टीकाकरण का लक्ष्य रखा है। 
 
प्रदेश में पहले चरण में करीब 3 लाख हेल्थवर्कर्स को कोरोना वैक्सीन लग चुकी है। प्रदेश कुल चार लाख 17 हजार हेल्थवर्कर्स वैक्सीनेशन के लिए रजिस्टर्ड थे। राज्य टीकाकरण अधिकारी संतोष शुक्ला के मुताबिक जो हेल्थ वर्कर्स अब तक वैक्सीन नहीं लगवा पाए है उनको तीन,चार और पांच फरवरी को मॉपअप राउंड के तहत वैक्सीन लगवाई जाएगी। वह कहते हैं कि हेल्थवर्कर्स को यह वैक्सीन लगवाने का आखिरी मौका है इसके बाद उनको मौका नहीं दिया जाएगा।
 
राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला के मुताबिक 28 फरवरी तक प्रदेश के सभी हेल्थवर्कर्स को वैक्सीन का दूसरा डोज देकर हेल्थ वर्कर्स के टीकाकरण के कार्यक्रम को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। हेल्थ और फ्रंटलाइन वर्कर्स के वैक्सीनेशन के बाद कॉनिक डिसीज (कैंसर हायबिटीज,हाईपरटेंशन) बीमारियों से पीड़ित लोगों के वैक्सीनेशन को प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन लगाई जाएगी।
 
राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ‘वेबदुनिया’ के जरिए लोगों से अपील करते हैं कि जिन लोगों के नाम वोटर लिस्ट में नहीं जुड़े है वह अपना नाम वोटर लिस्ट में जुड़वा लें। वह कहते हैं कि अभी भी लोगों के मन में सवाल है कि उनका नाम वोटर लिस्ट में नहीं है तो उनको वैक्सीन कैसे लगेगी। इसके लिए मैं लोगों से अपील करता है कि अब आम लोगों के वैक्सीनेशन में समय है इसलिए वह जल्द से जल्द अपना नाम वोटर लिस्ट में जुड़वा लें। 
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारत में कोविड-19 के 8,635 नए मामले, 9 माह बाद एक दिन में 100 से कम की मौत