Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सावधान! नहीं चेते तो इंदौर में भी हो सकते हैं नागपुर जैसे भयावह हालात

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
सोमवार, 5 अप्रैल 2021 (13:36 IST)
इंदौर। Indore, Coronavirus update : पूरे देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार ने एक बार फिर चिंता बढ़ा दी है। मध्यप्रदेश की औद्योगिक राजधानी इंदौर में भी अब लापरवाही से हालात डरावने होते जा रहे हैं। लोग अभी भी कोरोना गाइडलाइन का पालन करने को तैयार नहीं हैं। बेपरवाही का आलम यह है कि बाजारों में भीड़ नजर आ रही है। प्रशासन की सख्ती के बाद भी बिना मास्क के नजर आ रहे हैं। अब डर है कि कहीं इंदौर में नागपुर जैसी आउट ऑफ कंट्रोल स्थिति न हो जाए।
 
प्रशासन के प्रयास विफल : महाराष्ट्र के नागपुर जिले में कोरोना संक्रमण की स्‍थि‍ति भयावह होती जा रही है। यहां वायरस को काबू में करना आउट ऑफ कंट्रोल हो गया है। रोजाना करीब 4 हजार नए संक्रमित मिल रहे हैं। वहीं, संक्रमण से मरने वालों की संख्या 50 के पार हो गई है। संक्रमण से मरने वालों में अब तक का यह सबसे ज्‍यादा आंकड़ा है। स्‍थि‍ति यह है कि प्रशासन का हर प्रयास विफल साबित हो रहा है।
 
शराब की चाह में खुलेआम उड़ी धज्जियां : शहर में लॉकडाउन की सख्ती होने पर लोग शहरी सीमा के पास के गांवों और इलाकों में इकट्ठा हो रहे हैं। केवल शहरी इलाके पर प्रतिबंध लगाने इसे आसपास के ग्रामीण इलाकों में लोगों की आवाजाही बढ़ गई है। पुलिस भी ज्यादा सख्ती नहीं कर रही है। लोग शाम होते ही निकल जाते हैं। 
 
ऐसा ही नजारा रविवार को देखने को मिला। शहर में सारी दुकानें बंद होने के बाद शराब के प्रेमी राऊ बायपास चौराहे पर मौजूद शराब दुकान पर पहुंच गए। इससे यहां लोगों की जमावड़ा हुआ। कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ीं। लोगों ने खुले में ही जमकर शराब पी। उन्हें रोकने वाला कोई नजर नहीं आया। हालांकि सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद प्रशासन हरकत में आया। कलेक्टर ने आबकारी विभाग और संबंधित शराब दुकान के ठेकेदार दोनों पर कार्रवाई की। कलेक्टर ने इलाक़े के आबकारी उपनिरीक्षक आशीष जैन को निलंबित कर सहायक जिला आबकारी अधिकारी राजीव उपाध्याय को कारण बताओ नोटिस जारी किया।
webdunia
निगमकर्मियों के वायरल वीडियो पर घमासान : शहर में निगमकर्मियों के वायरल वीडियो पर भी लोग अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं। दरअसल, लोगों का कहना है कि निगमकर्मी कोरोना गाइड लाइन का पालन करवाने की आड़ में मारपीट कर रहे हैं। कोरोना की आड़ में बेवजह अवैध वसूली कर चालान बनाए जा रहे हैं। सोशल मीडिया प्लेटफार्म लोग निगम के दफ्तरों के वीडियो वायरल कर रहे हैं, जिनमें कर्मचारी बिना मास्क के बैठे हुए हैं। 
 
कलेक्टर ने दी चेतावनी : तमाम प्रयासों के बावजूद इंदौर जिले में पॉजिटिविटी रेट 13.92 प्रतिशत हो गया है। रविवार को रिकॉर्ड 788 नए मामले सामने आए। शहर में कुल संक्रमितों की संख्या 73,224 हो चुके हैं। हालांकि अच्छी बात यह है कि 66 हजार 661 लोग कोरोना से जंग भी जीत चुके हैं। 974 लोगों की जान कोरोना ले चुका है। इंदौर कलेक्टर ने चेतावनी देते हुए कहा कि शहर बॉर्डर लाइन पर है। अभी चार-पांच दिन का इंतजार करेंगे। कोरोना संक्रमण की स्थिति नहीं सुधरी तो और सख्त कदम उठाए जाएंगे।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
ईरान में संक्रमण की चौथी लहर, छुट्टियों ने बढ़ा दिया खतरा