कई देशों में Lockdown में ढील के बीच दुनिया में Covid-19 के मामले बढ़े

मंगलवार, 23 जून 2020 (19:00 IST)
वेलिंगटन। अमेरिका समेत कई प्रमुख देशों में लॉकडाउन खत्म होने के बावजूद दुनिया में कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। पश्चिमी यूरोप के कुछ हिस्सों में संक्रमण की दर या तो कम हुई है या स्थिर हो गई है।
 
पाकिस्तान में कोरोना ने लोगों की हालत खराब कर दी है और यहां के अस्पतालों में मरीजों को बेड नहीं मिल रहे हैं लेकिन अर्थव्यवस्था के संकट में होने के कारण सरकार देश को फिर से खोलने के लिए मजबूर है।
 
अमेरिका में संक्रमण के 23 लाख मामले आए हैं और 120,000 लोगों की मौत हुई है। ब्राजील में संक्रमित लोगों की संख्या 11 लाख से ज्यादा हो चुकी है और करीब 51,000 लोगों की मौत हुई है।
अमेरिका में दक्षिणी और पश्चिमी हिस्से में संक्रमण के मामले बढ़ने से चिंता बनी हुई है। हालांकि कई राज्यों में गतिविधियां बहाल हो गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की आपात स्थिति के प्रमुख माइकल रयान ने कहा कि नए मामलों में वृद्धि के लिए ज्यादा जांच ही एकमात्र वजह नहीं है। कई देशों में अस्पतालों में भर्ती होने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ी है तथा ज्यादा लोगों की मौत भी हो रही है।
 
उन्होंने कहा, कुछ बड़े देशों में महामारी चरम स्तर की ओर पहुंच रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने कहा कि शुरुआत में 3 महीने में संक्रमण के 10 लाख मामले हुए लेकिन हाल में 8 दिनों में 10 लाख मामले आ गए।
दुबई स्थित ‘वर्ल्ड गवर्मेन्ट समिट’ के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा, अब केवल वायरस का ही खतरा नहीं है, वैश्विक एकजुटता और वैश्विक नेतृत्व का भी अभाव है। कुछ देशों ने संक्रमण को रोकने में आरंभ में सफलता हासिल की थी लेकिन वहां भी कुछ जगहों पर नए मामले आए हैं।
 
ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया प्रांत में संक्रमण के 17 नए मामले आए, जिससे मेलबोर्न में दो प्राथमिक स्कूलों को बंद करना पड़ा। चीन में मंगलवार को कोरोना वायरस के 29 नए मामले सामने आए। राजधानी बीजिंग में संक्रमण के 13 मामलों की पुष्टि हुई है और यहां पर 249 संक्रमित लोगों का उपचार चल रहा है।
चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के मुताबिक, देश में 29 नए मामलों का पता चला है। इसमें से सात मरीजों में किसी भी तरह के लक्षण नहीं मिले। आयोग ने कहा है कि सोमवार तक बिना लक्षण वाले 99 मरीजों को चिकित्सा निगरानी में रखा गया है। मई के अंत में कुछ नए मामलों के सामने आने के बाद बीजिंग में लाखों लोगों की जांच की गई है।
 
दक्षिण कोरिया ने कहा है कि रूस के एक मालवाहक पोत के चालक दल के 16 सदस्यों के संक्रमित पाए जाने के बाद उसने दक्षिणी बंदरगाह बुसान में 176 श्रमिकों की जांच की है।
सऊदी अरब ने कहा है कि इस साल हज यात्रा रद्द नहीं की जाएगी लेकिन ‘सीमित संख्या’ में ही लोगों को आने की इजाजत दी जाएगी। आम तौर पर हज के दौरान दुनिया भर से करीब 20 लाख लोग मक्का आते हैं।
 
दुनिया भर में वायरस से 90 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हुए हैं और 4,72,000 लोगों की मौत हुई है। विशेषज्ञों का कहना है कि बिना लक्षण वाले मरीजों तथा कई जगहों पर सीमित जांच के कारण असल संख्या ज्यादा हो सकती है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख बर्नले ने स्टेडियम के ऊपर विमान से आपत्तिजनक बैनर लहराए जाने पर माफी मांगी