Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री पवार की चेतावनी, लोग Lockdown के लिए मजबूर नहीं करें...

webdunia
शुक्रवार, 3 सितम्बर 2021 (17:12 IST)
पुणे। ग्रामीण इलाकों में लोगों के कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 से बचाव के लिहाज से सतर्क नहीं रहने पर चिंता जताते हुए महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने शुक्रवार को लोगों से कहा कि वे राज्य सरकार के लिए ऐसी स्थिति उत्पन्न न करें जिसमें कि उसे वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (Coronavirus) की तीसरी लहर आने की स्थिति में सब कुछ बंद करना पड़े।

पवार ने कहा कि केरल और महाराष्ट्र में संक्रमण के सर्वाधिक मामलों के मद्देनजर केंद्र सभी राज्यों को पहले ही आगाह कर चुका है। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य की बात है कि ग्रामीण इलाकों में कुछ लोग बेपरवाह हो गए हैं, वे कोरोनावायरस से डर नहीं रहे। वे मास्क नहीं पहनते, सामाजिक दूरी का पालन नहीं करते और उन्होंने ऐसा मान लिया है कि वह दौर (कोरोना वायरस का) अब गुजर चुका है। इसी के कारण संक्रमण के मामलों की संख्या बढ़ी है।

उन्होंने अपील की कि इसे कहीं न कहीं तो रोकना होगा। लोगों को राज्य सरकार तथा प्रशासन के लिए ऐसी स्थिति पैदा नहीं करनी चाहिए जिसमें कि यदि तीसरी लहर आती है तो उन्हें सब कुछ बंद करना पड़े। स्कूलों को पुन: खोले जाने के सवाल पर पवार ने कहा कि विशेषज्ञों से बातचीत चल रही है और इस बारे में निर्णय लिया जाएगा।
ALSO READ: Coronavirus india update : तीसरी लहर दे रही है दस्तक? फिर नए केस 40 हजार के पार, एक्टिव मामलों में भी उछाल
उन्होंने कहा कि इस बारे में दो मत हैं। कुछ लोग कहते हैं कि स्कूलों को दीपावली के बाद खोला जाना चाहिए और कुछ कहते हैं कि ऐसे स्थानों पर स्कूल खोले जाने चाहिए जहां संक्रमण दर शून्य है। इस बारे में मुख्यमंत्री निर्णय लेंगे।

राज्य में मंदिर खोलने की भाजपा और महाराष्ट्र नव निर्माण सेना की मांग पर पवार ने कहा कि निकाय चुनाव करीब हैं और ऐसे में हर दल अपनी मौजूदगी का अहसास करवाना चाहता है और यही वजह है कि भावनाओं से जुड़े इस मुद्दे को उठाया जा रहा है।
ALSO READ: Coronavirus : तीसरी लहर को लेकर चेतावनी, गृह मंत्रालय के पैनल ने PMO को सौंपी रिपोर्ट
पुणे के संरक्षक मंत्री पवार ने जिले में कोविड-19 हालात को लेकर एक समीक्षा बैठक के बाद कहा कि गणेश उत्सव का समय भी करीब आ रहा है और लोगों को बड़े पैमाने पर उत्सव मनाने से बचना चाहिए।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सोना महंगा हुआ, चांदी में 200 से ज्यादा की गिरावट