Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

चीन में मचे हाहाकार के बीच दिल्ली में कोरोना के 5 नए मामले, 1 मरीज की मौत

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 22 दिसंबर 2022 (00:15 IST)
कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर चीन में मचे हाहाकार के बीच दिल्ली में भी कोरोना के 5 नए मामले सामने आए हैं, जबकि एक मरीज की मौत हो गई। इस बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज स्वास्थ्य विभाग को नमूनों के जीनोम अनुक्रमण सुनिश्चित करने तथा किसी भी स्थिति से निपटने के लिए आवश्यक अन्य कदम उठाने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने इस मुद्दे पर चर्चा के लिए गुरुवार को एक आपात बैठक भी बुलाई है।

खबरों के अनुसार, चीन समेत दूसरे देशों में कोरोना के ब्रढ़ते मामलों के बीच दिल्ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है। इसमें वैश्विक स्तर पर कोरोना की मौजूदा स्थिति व दिल्ली में पड़ने वाले असर का आकलन किया जाएगा। साथ ही स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों की समीक्षा की जाएगी। बैठक में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के साथ स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी मौजूद रहेंगे।

वहीं दूसरी ओर कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए केंद्र सरकार ने भी एडवाइजरी जारी कर दी है। इसी बीच दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 5 मरीज सामने आए हैं, जबकि एक मरीज की मौत हो गई है। हालांकि कोरोना संक्रमण दर 0.19 फीसदी ही है। पिछले 24 घंटे में महज 2642 कोरोना टेस्ट किए गए और 8 मरीज ठीक हुए।

चीन में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के लिए परोक्ष तौर पर जिम्मेदार ओमिक्रॉन के उपस्वरूप बीएफ.7 के तीन मामले भारत में अब तक सामने आए हैं। बीएफ.7, ओमिक्रॉन के स्वरूप बीए.5 का एक उपस्वरूप है और यह काफी संक्रामक है। इसकी ‘इनक्यूबेशन’ अवधि कम है। यह पुन: संक्रमित करने या उन लोगों को भी संक्रमित करने की उच्च क्षमता रखता है, जिनका (कोविड-19) टीकाकरण हो चुका है।
webdunia

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कोविड समीक्षा बैठक में विशेषज्ञों ने कहा कि हालांकि अब तक कोविड के मामलों की संख्या में समग्र वृद्धि नहीं हुई है, लेकिन मौजूदा और उभरते स्वरूपों पर नज़र रखने के लिए निरंतर निगरानी की आवश्यकता है। मंत्री ने लोगों से भीड़-भाड़ वाली जगहों पर मास्क पहनने सहित संक्रमण के प्रसार की रोकथाम से जुड़े व्यवहार का पालन करने और टीका लगवाने को कहा।

अभी खत्म नहीं हुआ है कोरोना : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा, कुछ देशों में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर आज विशेषज्ञों और अधिकारियों के साथ स्थिति की समीक्षा की। कोविड अभी खत्म नहीं हुआ है। मैंने सभी संबंधित लोगों को सजग रहने और निगरानी बढ़ाने के लिए कहा है। हम किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं।

जापान, अमेरिका, दक्षिण कोरिया, ब्राजील और चीन में मामलों में वृद्धि के मद्देनजर मांडविया ने कोविड-19 वायरस के नए प्रकार के खिलाफ सतर्क और हमेशा तैयार रहने के महत्व को रेखांकित किया। उन्होंने कोविड के सकारात्मक नमूनों के पूरे जीनोम अनुक्रमण के लिए निगरानी तंत्र को मजबूत करने के लिए कहा, ताकि यदि देश में कोविड-19 का कोई नया स्वरूप हो, तो उसकी समय रहते भारतीय सार्स-सीओवी-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (आईएनएसएसीओजी) के जरिए पहचान की जा सके।

बैठक में मंत्री को अवगत कराया गया कि भारत में वायरस का संक्रमण घट रहा है और 19 दिसंबर, 2022 को खत्म हुए हफ्ते में कोविड-19 के औसत नए मामले घटकर 158 रह गए। हालांकि वैश्विक स्तर पर पिछले छह हफ्तों से कोविड-19 के प्रतिदिन के औसत मामले में इजाफा देखा जा रहा है। 19 दिसंबर, 2022 को खत्म हुए हफ्ते में विश्व में कोविड-19 के 5.9 लाख नए औसत मामले दर्ज किए गए।
webdunia

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया कि चीन में कोविड-19 संक्रमण बढ़ने की वजह इसके ओमिक्रॉन स्वरूप से विकसित बीएफ.7 प्रकार है। बैठक के दौरान बताया गया कि कोविड-19 के नए मामलों के लिहाज से केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, तेलंगाना और तमिलनाडु सबसे आगे हैं, लेकिन देश में समग्र रूप से कोविड-19 के मामले घट रहे हैं। देश में 20 दिसंबर, 2022 को जारी रिपोर्ट के मुताबिक रोजाना के नए कोविड-19 मामलों में इन पांच राज्यों की हिस्सेदारी 84 फीसदी थी।

देश के हवाई अड्डों पर चीन और अन्य देशों से आने वाले अंतरराष्ट्रीय विमान यात्रियों के नमूने औचक तरीके से लेकर कोविड-19 की जांच की जाएगी। मांडविया की अध्यक्षता में देश में कोविड-19 के हालात की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक के बाद यह कदम उठाया गया।

देश के कई राज्यों ने भी कोविड से निपटने के लिए अपने स्तर पर कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। विश्व के कुछ हिस्सों में कोविड-19 के नए मामले अचानक तेजी से बढ़ने के मद्देनजर कर्नाटक सरकार बेंगलुरु हवाई अड्डे पर अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की जांच शुरू करेगी। अरुणाचल प्रदेश सरकार ने जिला स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे संक्रमित पाए गए लोगों के नमूनों का ‘जीनोम अनुक्रमण’ सुनिश्चित करें।

गुजरात में विदेश से आने वाले यात्रियों की अनिवार्य जांच शुरू हो सकती है : दुनिया के कुछ देशों में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बीच गुजरात के स्वास्थ्य मंत्री ऋषिकेश पटेल ने बुधवार को अधिकारियों को दूसरे देशों से राज्य में आने वाले यात्रियों की अनिवार्य जांच करने का आदेश दिया।

अधिकारियों ने कहा कि यह भी सामने आया है कि कोरोनावायरस के ओमिक्रॉलन के उपस्वरूप बीएफ.7 के कम से कम दो मामले सितंबर और नवंबर में अहमदाबाद और वडोदरा में दर्ज किए गए थे। दोनों ही मामले जिन लोगों में पाए गए थे, वे विदेश से लौटे थे।(इनपुट भाषा)
Edited By : Chetan Gour

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Covid Variant : आ सकता है BF.7 से भी घातक कोरोना वैरिएंट, चीन की चेतावनी से मचा कोहराम