Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सेना लाई अहम तकनीक, किफायती तरीके से यूं तरल से गैस रूप में बदलेगी ऑक्सीजन

webdunia
बुधवार, 19 मई 2021 (22:36 IST)
नई दिल्ली। भारतीय सेना ने बुधवार को कहा कि उसने तरल ऑक्सीजन को कम दबाव वाले ऑक्सीजन गैस में तब्दील करने का समाधान ढूंढ लिया है जिन्हें अस्पताल में कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 
के रोगियों को दिया जाएगा।

सेना ने बयान जारी कर कहा, सात दिनों से अधिक समय से सेना के इंजीनियरों ने सीएसआईआर और डीआरडीओ के सहयोग से यह समाधान ढूंढा है। सीएसआईआर (वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद् है जबकि डीआरडीओ) रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन है।
ALSO READ: Coronavirus महामारी के दौर के 10 सबक, आपने नहीं सीखे क्या?
बयान में कहा गया है, चूंकि ऑक्सीजन को क्रायोजेनिक टैंक में तरल प्रारूप में ढोया जाता है, इसलिए तरल ऑक्सीजन को ऑक्सीजन गैस में जल्द परिवर्तित करना अस्पतालों के लिए बड़ी चुनौती थी।

इसने बताया कि इंजीनियरों ने स्व दबाव वाले कम क्षमता के (250 लीटर) तरल ऑक्सीजन सिलेंडर का इस्तेमाल किया और इसे विशेष रूप से बनाए गए वाष्पीकरण एवं सीधे इस्तेमाल वाले लीक प्रूफ पाइपलाइन के आउटलेट प्रेशर (चार बार) और प्रेशर वॉल्व से गुजारा।
ALSO READ: केंद्र सरकार की चेतावनी, 98 प्रतिशत आबादी अभी भी आ सकती है Coronavirus की चपेट में
भारत कोरोनावायरस संक्रमण की दूसरी लहर से बुरी तरह प्रभावित हुआ है और कई राज्यों में टीका, ऑक्सीजन, दवाएं, उपकरण और बिस्तरों की काफी किल्लत है।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

MP : कांग्रेस विधायक ने डॉ. हर्षवर्धन को भेजा गोमूत्र, पूछा- क्या इससे ठीक हो सकता है कोरोना?