Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटे में सामने आए 72 नए मामले, संक्रमित लोगों की संख्या 385

webdunia
बुधवार, 8 अप्रैल 2020 (23:54 IST)
भोपाल/इंदौर। मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण के 72 नए मामले सामने आने के बाद प्रदेश में इस बीमारी की चपेट में आने वाले लोगों की तादाद बढ़कर 385 पर पहुंच गई है। इनमें से अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है।
 
 मध्यप्रदेश के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोविड-19 के लिए पिछले 24 घंटों में प्रदेश में 9 मामले पॉजिटिव आए हैं, इसी के साथ भोपाल में इस महामारी की चपेट में आए मरीजों की संख्या बढ़कर अब 94 हो गई है, जिनमें चिकित्सकों सहित 45 स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी और एक नगर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) सहित 12 पुलिसकर्मी शामिल हैं।
 
प्रदेश में पाए गए 385 कोरोना मरीजों में से प्रदेश की आर्थिक राजधानी माने जाने वाले शहर इंदौर में अब तक सर्वाधिक 213 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। पिछले 24 घंटों में इंदौर में 40 नए मामले सामने आए हैं। 
 
स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में अब तक 29 लोगों की मौत कोरोना वायरस के संक्रमण से हो चुकी है, जिनमें से इंदौर में 21, उज्जैन में 5 एवं भोपाल, खरगोन एवं छिंदवाड़ा में 1-1 शामिल है।
 
 रायसेन एवं खंडवा जिलों में पहली बार आज कोविड-19 के एक-एक मरीज आने के बाद मध्य प्रदेश के 52 जिलों में से 16 जिलों में इस महामारी ने अब दस्तक दे दी है।
 
 स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बुधवार रात तक मध्यप्रदेश में कुल 385 कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए हैं। प्रदेश में सबसे अधिक 213 कोरोना मरीज इंदौर में मिले हैं, जबकि इसके बाद 94 मरीज भोपाल में, 15 उज्जैन में, 13 मुरैना में, 12-12 खरगोन एवं बड़वानी में, 9 जबलपुर में, 6 ग्वालियर में, 2-2 छिंदवाड़ा एवं शिवपुरी में और 1-1 मरीज बैतूल, श्योपुर, रायसेन, खंडवा, होशंगाबाद एवं विदिशा में मिले हैं। कोरोना संक्रमित एक मरीज दूसरे राज्य का है। 
 
उन्होंने बताया कि इनमें से 25 मरीज अब स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिया गया है, वहीं 264 मरीजों की हालत स्थिर बनी हुई है, जबकि 28 मरीजों की स्थिति गंभीर बनी हुई है।
 
 इंदौर से मिली रिपोर्ट के अनुसार वहां में कोरोना वायरस संक्रमण की जद में आए 6 और मरीजों की मौत का बुधवार को खुलासा किया गया। इसके साथ ही शहर में इस संक्रमण के बाद दम तोड़ने वाले मरीजों की तादाद बढ़कर 21 पर पहुंच गई है। 
 
शासकीय महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि 47 से 59 वर्ष की उम्र के 6 पुरुषों ने पिछले तीन दिन में शहर के अलग-अलग अस्पतालों में इलाज के दौरान दम तोड़ा। इनकी मौत से पहले लिए गए नमूनों की जांच रिपोर्ट से पता चला है कि वे कोरोना वायरस से संक्रमित थे।
 
 अधिकारी ने बताया कि इंदौर में कोरोना वायरस संक्रमण के मरीजों की तादाद 173 से बढ़कर 213 पर पहुंच गई है। शहर में पिछले 24 घंटे में इस महामारी के 40 नये मामले सामने आए हैं। 
 
इस बीच प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि शहर के जिन 11 नए इलाकों में कोरोना वायरस के मरीज मिले हैं, उन्हें 'कंटेनमेंट एरिया' घोषित करते हुए वहां आम लोगों की आवाजाही पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है ताकि इस महामारी के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।
 
उन्होंने बताया कि इन क्षेत्रों में मिले कोविड-19 मरीजों के परिजनों और उनके संपर्क में आए लोगों को ढूंढकर उन्हें पृथक केंद्रों में भेजा जा रहा है।
 
इंदौर, कोविड-19 के प्रकोप से देश में सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों में शामिल है। कोरोना वायरस के मरीज मिलने के बाद से प्रशासन ने 25 मार्च से शहरी सीमा में कर्फ्यू लगा रखा है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

तबलीगी जमात के मौलाना साद कंधावली का दिल्ली पुलिस ने लगाया पता