गुजरात, पुणे से विशेष ट्रेनों में रवाना हुए Lockdown में फंसे प्रवासी श्रमिक

सोमवार, 11 मई 2020 (19:39 IST)
भोपाल/ देहरादून। कोरोना वायरस (Corona virus) कोविड-19 के मद्देनजर लागू लॉकडाउन के चलते मोरबी (गुजरात) में फंसे मध्यप्रदेश के 1383 श्रमिकों को लेकर सोमवार सुबह एक विशेष ट्रेन भोपाल के हबीबगंज स्टेशन पहुंची। वहीं उत्तराखंड के लगभग ढाई हजार प्रवासियों को लेकर सोमवार को महाराष्ट्र के पुणे और गुजरात के सूरत से विशेष रेलगाडियां रवाना हुईं। जिला प्रशासन द्वारा भोपाल से 13 बसों द्वारा इन श्रमिकों को इनके जिलों को रवाना किया गया।

जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि गुजरात से आए इन सभी श्रमिकों की यहां पहुंचने के बाद स्टेशन पर मेडिकल स्क्रीनिंग कराई गई। इसके बाद 13 बसों के द्वारा सभी श्रमिकों को इनके जिलों के लिए रवाना किया गया।

उन्होंने बताया कि इन श्रमिकों को यात्रा के दौरान भोजन, नाश्ते के पैकेट और पानी की बोतल भी दी गई। उन्होंने बताया कि मोरबी (गुजरात) से श्रमिक स्पेशल ट्रेन से भोपाल से भेजे गए इन श्रमिकों में रीवा-सीधी जिले के 36, छिंदवाड़ा के 72, शहडोल के 21, बैतूल के 97, रायसेन के 20, छतरपुर के 12, सतना के 107, गुना से 62, सीहोर के 120, धार के 67, देवास-आगर मालवा के 80, कटनी-जबलपुर-उज्जैन के 66, उमरिया-मंडला-बालाघाट के 24, दमोह के 13, भोपाल के 43, दतिया के 4, सागर के 249, राजगढ़ के 99, भिंड-ग्वालियर-शिवपुरी-श्योपुर-मुरैना और दतिया के 68, खरगोन-खंडवा के 3-3, विदिशा के 16, सीधी के 3, शाजापुर के 38, झाबुआ-अलीराजपुर- इंदौर के 27, नरसिंहपुर के 1 और इंदौर के दो श्रमिक शामिल हैं। विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत इन मज़दूरों में बड़े, बुजुर्ग, महिलाएं और बच्चे शामिल हैं।

इन सभी मज़दूरों और उनके परिवार के सभी सदस्यों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा की गई मदद के लिए आभार व्यक्त जताया। उन्होंने कहा की इस संक्रमण और महामारी के दौरान हमारा विशेष ध्यान रखते हुए हमें घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की गई है।

विशेष रेलगाड़ी से उत्तराखंड के लिए रवाना हुए प्रवासी : लॉकडाउन के कारण फंसे उत्तराखंड के लगभग ढाई हजार प्रवासियों को लेकर सोमवार को महाराष्ट्र के पुणे और गुजरात के सूरत से विशेष रेलगाडियां रवाना हुईं।

प्रदेश सरकार के अनुसार, सूरत से काठगोदाम हेतु विशेष रेलगाडी 1207 यात्रियों को लेकर तड़के रवाना हुई, जबकि पुणे से हरिद्वार के लिए एक अन्य विशेष रेलगाड़ी 1206 यात्रियों को लेकर रवाना हुई। इसके अलावा, कर्नाटक, गुजरात, तेलंगाना आदि राज्यों में फंसे व्यक्तियों को भी रेलगाड़ी से राज्य में लाने हेतु भी प्रक्रिया चल रही है।

अन्य राज्यों से उत्तराखंड आने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करने वालों की संख्या 1,93,064 हो गई है। कल रविवार तक विभिन्न राज्यों से 34,409 लोग राज्य में आ चुके हैं जिनमें हरियाणा से 13299, चंडीगढ से 6841, उत्तर प्रदेश से 6336, दिल्ली से 2999, राजस्थान से 2464, पंजाब से 1007, गुजरात से 813 तथा अन्य राज्यों से 650 व्यक्तियों को राज्य में लाया गया है।(भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख राजस्थान से विशेष ट्रेनों से 39,500 प्रवासी श्रमिकों और छात्रों को उनके घर भेजा