Corona का केंद्र रहे वुहान में संक्रमण के नए मामले, स्थानीय अधिकारी निलंबित

सोमवार, 11 मई 2020 (21:21 IST)
बीजिंग। चीन में कोरोना वायरस (Corona virus) कोविड-19 संक्रमण का केंद्र रहे वुहान शहर में 30 दिन से ज्यादा समय के बाद कोविड-19 के नए मामले सामने आने पर सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी ने एक स्थानीय अधिकारी को खराब प्रबंधन के आरोप में बर्खास्त कर दिया है।

सरकारी समाचार समिति शिन्हुआ ने अपनी एक खबर में बताया कि सत्तारूढ़ चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के चांगक्विंग स्ट्रीट कार्य समिति के सचिव झांग यूजिन को वुहान के सनमिन आवासीय समुदाय में संक्रमण के मामले सामने आने के बाद पद से हटा दिया है।

संक्रमण के ये सभी मामले हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान के सनमिन आवासीय समुदाय में पाए गए हैं। यह इलाका चांगक्विंग के अधिकार क्षेत्र में आता है। खबर में कहा गया है कि झांग को आवासीय परिसर का सही प्रकार से प्रबंधन नहीं कर पाने की वजह से पद से हटाया गया है। इस स्थान में पहले संक्रमण के 20 मामले सामने आए थे।

वुहान में संक्रमण के पांच नए मामले रविवार को और एक मामला शनिवार को सामने आया। यहां 35 दिन से संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया था। डोंगशिहू जिला स्वास्थ्य ब्यूरो के निदेशक ली पिंग ने कहा कि नए मामलों के सामने आने के बाद करीब 20 हजार लोगों का न्यूक्लिक एसिड परीक्षण अलग-अलग बैच में कराया जाएगा।

जिन लोगों की जांच कराई जाएगी, उनमें से 5000 लोग सनमिन आवासीय समुदाय के आसपास रहने वाले हैं और अन्य 14 हजार लोग पास के बाजार दुओलुओकोउ से हैं। वुहान में 650 ऐसे मामले भी सामने आए हैं जिनमें लक्षण नहीं दिख रहे हैं।

हुबेई प्रांत की आबादी पांच करोड़ 60 लाख से ज्यादा है और उसे वायरस का प्रसार रोकने के लिए 23 जनवरी से ही बंद कर दिया गया था। यह बंद 24 मार्च को वापस लिया गया। वुहान शहर में बंद आठ अप्रैल को हटाया गया। शहर में करीब एक करोड़ 10 लाख लोग रहते हैं।

इस बीच चीन ने सभी क्षेत्रों में कोविड-19 के जोखिम के स्तर को और कम कर दिया तथा उसकी पूरी तरह रोकथाम के संकेत दिए। चीन में कारोबार और कारखानों के खुलने के साथ ही स्थिति लगभग पूरी तरह सामान्य हो रही है। चीन ने सोमवार को अपने सबसे प्रमुख थीम पार्क शंघाई डिज्नीलैंड को विषाणु संक्रमणरोधी उपायों के साथ खोल दिया।

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार, रविवार को देश में संक्रमण के 17 नए मामले सामने आए हैं जिनमें से सात मामले विदेश से आए लोगों से जुड़े हैं। इसी के साथ देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 82,918 हो गए हैं।(भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख RP Singh ने 2008 चयन विवाद पर कहा, धोनी निष्पक्ष कप्तान थे