भोपाल में पुलिस पर हमला, शिवराज बोले- न 'कचौड़ी' को बख्शेंगे न 'कबूतर' को

वार्ता

मंगलवार, 7 अप्रैल 2020 (12:13 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के तलैया थाना क्षेत्र के इस्लामपुरा में कुछ लोगों द्वारा पुलिस पर हमला कर दिया गया, जिससे दो पुलिस कर्मचारी घायल हो गए।
 
पुलिस सूत्रों के अनुसार सोमवार रात इस्लामपुरा क्षेत्र में कुछ लोगों के एकत्रित होने की सूचना पर पुलिस बल मौके पर पहुंचा, जहां लोगों ने पुलिस बल पर लाठी और धारदार हथियार से हमला कर दिया। इस घटना में पुलिस के दो आरक्षक घायल हो गए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
 
घटना के बाद पुलिस ने फरियादी आरक्षक की शिकायत पर सात नामजद सहित लगभग एक दर्जन लोगों पर मामला दर्ज कर लिया है। घटना के बाद मामले की जांच में पुलिस जुटी है, लेकिन इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।
 
शिवराज ने की हमले की निंदा : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में पुलिस बल पर हुए हमले की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए मंगलवार को कहा कि कोरोना की इस महामारी से बचाव में जुटे पुलिस बल पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
 
चौहान ने ट्वीट कर कहा कि दिन-रात एक कर जनता को इस महामारी से बचाने में लगे पुलिसकर्मियों पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ‘कबूतर’ हो या ‘कचौड़ी’, किसी को बख्शा नहीं जाएगा। अराजकता फैलाने वाले गुंडे-बदमाशों को सबक सिखाना अतिआवश्यक है। इन गुंडों पर रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी।
 
सतना में 100 से ज्यादा वाहन जब्त : दूसरी ओर, सतना जिले में सख्ती से लॉकडाउन का पालन कराने के बीच इसका उल्लंघन करने पर 100 से ज्यादा वाहन जब्त किए गए हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार जिले में बीते 24 घंटों के दौरान में 100 से ज्यादा वाहनों को जब्त किया गया है, जिनमें दुपहिया और चार पहिया वाहन शामिल हैं।
 
वहीं, 50 लोगों के विरुद्ध लॉकडाउन का पालन नहीं करने पर एफआईआर दर्ज की गई है। लॉकडाउन का गंभीरतापूर्वक पालन नहीं किए जाने पर पुलिस पिछले 24 घंटे में सख्त हुई है और पूरे जिले में ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए बेवजह सड़क पर घूम रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की है।

दो चिकित्सकों को नोटिस : इधर, मध्यप्रदेश के ही विदिशा जिले में कोरोना कार्य में लापरवाही बरतने मामले में दो चिकित्सकों को शोकॉज नोटिस जारी किया गया है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने सिरोंज तहसील मुख्यालय के चिकित्सक डॉ. अभिषेक उपाध्याय एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कस्बाताल सिरोंज के चिकित्सक डॉ. अमित भेदिया को कोरोना संक्रमण रोकने में लापरवाही करने पर शोकॉज नोटिस जारी किया है।
 
सीएमएचओ अहिरवार ने बताया कि कारण बताओ पत्र में उल्लेख किया है कि राष्ट्रीय आपदा घोषित कोरोना वायरस (कोविड-19) के प्रभावित क्षेत्रों से आए यात्रियों की स्क्रीनिंग एवं उनको 28 दिन होम क्वारंटाइन में रखा जाना था, किन्तु दोनों चिकित्सकों द्वारा राष्ट्रीय आपदा के निराकरण में सहयोग नहीं किया जा रहा है, जिससे उनके संस्था क्षेत्रांतर्गत स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ प्राप्त नही हो रहा है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Corona Virus Live Updates : राजस्थान में 24 नए मामले आए सामने, कुल संख्या बढ़कर 325 हुई