Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Corona के कारण इंदौर में शॉपिंग मॉल और मैरिज गार्डनों पर 31 मार्च तक पाबंदी

webdunia

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

मंगलवार, 17 मार्च 2020 (18:45 IST)
इंदौर। दुनियाभर में तबाही मचाने वाले कोरोना वायरस के संक्रमण का असर मध्यप्रदेश की औद्योगिक राजधानी इंदौर पर न हो इसके लिए जिला प्रशासन ऐहतियात के तौर पर भीड़भाड़ वाले इलाकों को बंद करने का फैसला किया है। इस फैसले में 18 मार्च से सभी शॉपिंग मॉल, सुपर बाजार और मैरिज गार्डनों पर पाबंदी लगा दी है। यही नहीं, शहर के दिल में बसे सराफा और 56 बाजार भी शनिवार बंद रहेंगे। 
 
संभागायुक्त ने ली बैठक : संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने मंगलवार को कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए विभिन्न विभागों को संयुक्त प्रयास करने के निर्देश दिए। संभागायुक्त कार्यालय में आयोजित बैठक में उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के संदर्भ में सतर्कता और जागरूकता की अधिक आवश्यकता है क्योंकि विश्व में जिन देशों ने इस महामारी को हल्के ढंग से लिया, वहां इसका विस्तार हुआ। यदि हम अभी अधिक सतर्कता से इसका सामना करेंगे तो हमें इस पर नियंत्रण करने में आसानी होगी।  
 
31 मार्च तक सभी मांगलिक कार्य निरस्त : त्रिपाठी ने बताया कि बैठक में फैसला लिया गया है कि 31 मार्च तक सभी मैरिज गार्डनों में होने वाले मांगलिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है क्योंकि ऐसे कार्यक्रमों में बड़ी संख्या में लोग एकत्रित होते हैं। यही नहीं, किसी भी स्थान पर 20 से ज्यादा लोग एकत्र नहीं हो सकेंगे। 
webdunia
सराफा और 56 सप्ताहांत बंद रहेंगे : संभागायुक्त ने बताया कि इंदौर का सराफा जहां बड़ी संख्या में खाने पीने के शौकिनों का देर रात तक जमघट रहता है, वह शनिवार और रविवार को चालू नहीं रहेगा। यहां के सभी फूड झोन को बंद रखा जाएगा। इसी तरह पूरे शहर के लिए आकर्षण का केंद्र बना छप्पन भी सप्ताहांत बंद रहेगा। हाल ही में 5 करोड़ की लागत से इसका नवीनीकरण किया गया है, जो पूरे शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है।
 
दुबई से इंदौर आने वाले यात्री आइसोलेशन में : बैठक में यह भी फैसला किया गया कि दुबई से इंदौर आने वाले विमानयात्रियों को 24 घंटे आइसोलेशन में रखा जाएगा, ताकि यह जांच हो सके कि कहीं कोई यह बिमारी परदेस से तो लेकर नहीं आ रहा है। बैठक में उपस्थित एयरपोर्ट डायरेक्टर श्रीमती आर्यमा सान्याल ने बताया कि दुबई से आने वाले यात्रियों की स्वास्थ्य विभाग के समन्वय से मेडिकल स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई है। 
webdunia
सिर्फ रेलवे 27 फ्लेटफॉर्म टिकट बिके : इंदौर रेलवे स्टेशन पर आमतौर पर करीब 4 हजार के आसपास रेलवे फ्लेटफॉर्म टिकट बिकते हैं लेकिन मंगलवार को जब अनावश्यक भीड़ को कम करने के लिए प्लेटफार्म की टिकट की दर 50 रुपए कर दी, तब सिर्फ 27 टिकट ही बिके।
 
कोचिंग संस्थान बंद करवाए : जिला प्रशासन ने पहले ही 31 मार्च तक सभी कोचिंग संस्थानों को बंद करने का आदेश दिया था लेकिन इसके बाद भी कई चालू थे। प्रशासन की टीम ने सुरक्षा की दृष्टि से 28 ऐसे संस्थानों को बंद करवाया, जहां कोचिंग क्लासेस चल रहीं थी। प्रशासन का कहना है कि कोचिंग संस्थानों में पढ़ने वाले छात्र भी एक दूसरे के संपर्क में आकर संक्रमित हो सकते हैं, इसलिए यह कार्रवाई करनी पड़ी है।
 
बाहर से आने वाली ट्रेंनों पर नजर : जहां इस बीमारी का प्रकोप अधिक देखा गया है, उन राज्यों से इन्दौर आने वाली ट्रेन के यात्रियों की स्क्रीनिंग की व्यवस्था भी की जाएगी। साथ ही इंदौर से प्रारंभ होने वाली ट्रेन और आने वाली ट्रेन की क्लीनिंग भी स्वास्थ्य के मापदंडों के अनुरूप की जाएगा। इन्दौर मैं लगभग 900 ट्रेन कोच हैं, जिन पर अब सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।
 
कोरोना वायरस की जांच इंदौर में ही : कोरोना जांच के लिए अब मरीज का सैंपल पुणे या अन्य स्थानों की लैब में भेजने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी क्योंकि इसकी जांच के लिए मेडिकल किट प्राप्त हो गई है। अगले 2 दिनों में यहां कोरोना संक्रमण की जांच प्रारंभ हो जाएगी। इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज में स्थापित वायरोलॉजी लैब में यह जांच होगी। इसके लिए मेडिकल स्टाफ को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 
webdunia
स्कूल, कॉलेज, स्वीमिंगपूल बंद : बैठक में कलेक्टर लोकेश जाटव ने बताया कि इंदौर में स्कूल, कॉलेज, पुस्तकालय, जिम, वॉटर पार्क, मनोरंजन पार्क, संगीत संस्था, मैरिज हाल, पब, डिस्कोथेक और मेघदूत गार्डन, रीजनल पार्क जैसे सार्वजनिक पार्क को आगामी आदेश तक बंद किया जा रहा है।

इंदौर नगर निगम का नेहरूपार्क और महू नाका तरण पुष्कर 15 मार्च से 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। यही नहीं, देव स्थलों पर ज्यादा भीड़ होती है, लिहाजा यहां भी गर्भगृह में जाने पर रोक लगा दी गई है। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

हमें भारतीय क्रिकेट टीम में विराट जैसे आक्रामक कप्तान की जरुरत है : मदन लाल