Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कोरोना काल में इस क्षेत्र में नौकरियों में हो रही है बेतहाशा बढ़ोतरी

webdunia
सोमवार, 2 नवंबर 2020 (15:58 IST)
नई दिल्ली। भारत के वाहन क्षेत्र में नियुक्तियों में सुधार जारी है और सितंबर महीने में इसमें 29 प्रतिशत की क्रमिक वृद्धि दर्ज की गई। हालांकि यह अब भी कोरोनावायरस महामारी से पहले के स्तर से नीचे है। रोजगार संबंधी ऑनलाइन सेवाएं देने वाले पोर्टल नौकरी डॉट कॉम ने इसकी जानकारी दी।
कंपनी ने एक बयान में कहा कि जून, 2020 से ही सकारात्मक रुख बना हुआ है और माह-दर-माह सुधार हो रहा है। उसने कहा कि जब हम कोविड से पहले और बाद के इस क्षेत्र के प्रदर्शन के स्तर की तुलना करते हैं। इसमें स्पष्ट सुधार दिखता है। हालांकि, यह अब भी कोविड से पहले के स्तर की तुलना में सितंबर में 25 प्रतिशत नीचे बना हुआ है। इस साल अप्रैल में यह कोविड से पहले के स्तर से 80 प्रतिशत नीचे था।
 
कंपनी ने कहा कि नियुक्तियों में पिछले कुछ महीने में क्रमिक सुधार हुआ। यह अगस्त में कोविड पूर्व स्तर से 42 प्रतिशत नीचे था। नौकरी डॉट कॉम के अनुसार, शीर्ष भूमिकाओं में उत्पादन प्रबंधक, औद्योगिक इंजीनियर, बिक्री/ व्यवसाय विकास प्रबंधक, सेवा रखरखाव इंजीनियर, डिजाइन इंजीनियर और अकाउंटेंट शामिल हैं। प्रोजेक्ट मैनेजर-मैन्युफैक्चरिंग, सर्विस मेंटेनेंस इंजीनियर और प्रोडक्शन मैनेजर जैसी भूमिकाओं में 57 फीसदी, 46 फीसदी और 22 फीसदी की वृद्धि देखी गई है।
ALSO READ: महामारी के चलते इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रसार में हो सकती है देरी
नवरात्र, दशहरा के साथ बाजार में त्योहारी मौसम की दस्तक के साथ अक्टूबर में वाहनों की बिक्री में बढ़त दर्ज की गई। ग्राहकों के बीच खरीदारी धारणा में सुधार और मांग बढ़ने से देश की दो प्रमुख कार कंपनी मारुति सुजुकी और हुंदै मोटर्स की बिक्री में इस दौरान दहाई अंक की वृद्धि दर्ज की गई। होंडा कार्स इंडिया, टोयोटा किर्लोस्कर मोटर और महिंद्रा एंड महिंद्रा की घरेलू बिक्री में भी अक्टूबर में बढ़त रही।
 
देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) की घरेलू बिक्री अक्टूबर 2020 में 19 8 प्रतिशत बढ़कर 1,72,862 इकाई पर पहुंच गई, जो अक्टूबर, 2019 में 1,44,277 इकाई थी। इस दौरान कंपनी की छोटी कार आल्टो और एस-प्रेसो की बिक्री मामूली घटकर 28,462 इकाई रह गई, जो एक साल पहले समान महीने में 28,537 इकाई थी। कॉम्पैक्ट खंड मसलन स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो और डिजायर की बिक्री 19 2 प्रतिशत बढ़कर 95,067 इकाई पर पहुंच गई, जो अक्टूबर, 2019 में 75,094 इकाई रही थी। हालांकि, कंपनी के यूटिलिटी वाहन विटारा ब्रेजा, एस-क्रॉस और एर्टिगा की बिक्री 9 9 प्रतिशत बढ़कर 23,108 इकाई से 25,396 इकाई पर पहुंच गई।
 
मारुति की प्रतिद्वंदी हुंदै मोटर इंडिया के लिए भी अक्टूबर माह सर्वश्रेष्ठ मासिक बिक्री वाला रहा। देश की दूसरी बड़ी कार कंपनी हुंदै मोटर ने पिछले महीने 56,605 कार की बिक्री की। यह अक्टूबर 2019 की 50,010 वाहन की बिक्री से 13 2 प्रतिशत अधिक है। इससे पहले कंपनी की सर्वाधिक मासिक बिक्री अक्टूबर 2018 में 52,001 वाहन थी।
 
कंपनी के निदेशक (बिक्री, विपणन एवं सेवा) तरुण गर्ग ने कहा कि अक्टूबर महीने की बिक्री ने पूरी कारोबारी धारणा के लिए सकारात्मक माहौल तैयार किया है।कंपनी अर्थव्यवस्था, समुदाय एवं सेवा की टिकाऊ वृद्धि में ठोस योगदान देती रहेगी। होंडा कार्स इंडिया की थोक घरेलू बिक्री अक्टूबर में 8 3 प्रतिशत बढ़कर 10,836 वाहन रही। पिछले साल इसी माह में कंपनी ने 10,010 कारों की बिक्री की थी।
 
कंपनी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और निदेशक (विपणन एवं बिक्री) राजेश गोयल ने कहा कि हमने बाजार धारणा के अनुरूप सही बिक्री की है। अक्टूबर की बिक्री हमारी योजनाओं के मुताबिक है। टोयोटा किर्लोस्कर मोटर की घरेलू बिक्री अक्टूबर में 4 27 प्रतिशत बढ़कर 12,373 वाहन रही। पिछले साल इसी माह में कंपनी ने 11,866 वाहन बेचे थे। इस बारे में कंपनी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष (बिक्री एवं सर्विस) नवीन सोनी ने कहा कि त्योहारी मौसम मांग में वृद्धि के लिहाज से बेहतर रहा।
 
इसी तरह महिंद्रा एंड महिंद्रा की घरेलू बाजार में यात्री वाहन बिक्री एक प्रतिशत बढ़कर 18,622 इकाई रही। पिछले साल कंपनी ने इसी माह में 18,460 वाहन की बिक्री की थी। महिंद्रा एंड महिंद्रा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (वाहन खंड) विजय राम नाकरा ने कहा कि हम आपूर्ति की कुछ बाधाओं के बाद भी यूटिलिटी वाहनों में चार प्रतिशत की वृद्धि दर्ज कर उत्साहित हैं।

स्कॉर्पियो, बोलेरो और एक्सयूवी 300 जैसे ब्रांड ने अच्छा प्रदर्शन जारी रखा है। हाल ही में पेश थार ने एक महीने के भीतर बुकिंग का रिकॉर्ड बनाया है। एमजी मोटर इंडिया की खुदरा बिक्री अक्टूबर में छह प्रतिशत बढ़कर 3,750 इकाई पर पहुंच गई। एक साल पहले समान महीने में कंपनी ने 3,536 वाहन बेचे थे। 
 
दोपहिया वाहन श्रेणी में देश की सबसे बड़ी कंपनी हीरो मोटोकॉर्प के लिए मासिक बिक्री के लिहाज से अक्टूबर सबसे अच्छा महीना रहा। कंपनी की बिक्री पिछले महीने 34 64 प्रतिशत बढ़कर 8,06,848 इकाई रही। जबकि पिछले साल अक्टूबर में कंपनी ने 5,99,248 वाहन की बिक्री की थी। इस दौरान रॉयल एनफील्ड बिक्री सात प्रतिशत कम होकर 66,891 इकाइयों पर आ गई। साल भर पहले कंपनी ने समान महीने में 71,964 वाहनों की बिक्री की थी। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

BMW ने भारत में लांच की एक्स3 एम एसएवी, कीमत 99.9 लाख रुपए