Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

COVID-19 : दिल्ली में 18 साल से अधिक आयु वालों के लिए टीकाकरण शुरू

webdunia
सोमवार, 3 मई 2021 (18:06 IST)
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 टीकाकरण मुहिम का तीसरा एवं सबसे बड़ा चरण सोमवार सुबह शुरू हो गया, जिसके तहत 18 साल से 45 साल तक के आयु वर्ग के लोगों को टीका लगाया जाएगा।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि शहर के 76 स्कूलों में 301 केंद्र बनाए गए हैं। उन्होंने वेस्ट विनोद नगर में टीकाकरण केंद्र का दौरा किया। सिसोदिया ने ट्वीट किया, दिल्ली में युवाओं का टीकाकरण शुरू हो गया है। हमने 76 स्कूलों में 301 केंद्र बनाए हैं। हमारा लक्ष्य 300 स्कूलों में इस प्रकार के 3,000 केंद्र बनाना है, जो टीकों की उपलब्धता पर निर्भर करेगा।दिल्ली में करीब 90 लाख लोग इस चरण में टीकाकरण के लिए पात्र हैं।

एक अधिकारी ने बताया कि सरकार ने अधिक से अधिक लोगों के टीकाकरण के लिए स्कूलों को टीकाकरण केंद्र बनाया है। राष्ट्रीय राजधानी के करीब 500 केंद्रों में अभी तक 45 साल से अधिक आयु के लोगों को टीका लगाया जा रहा था।
ALSO READ: Coronavirus : कोरोना काल में अन्य स्वास्थ्य समस्या भी लोगों को कर रही हैं परेशान, जानिए
अधिकारी ने बताया कि 18 वर्ष से 45 वर्ष तक के आयुवर्ग में टीकाकरण के लिए पहले से पंजीकरण कराना अनिवार्य है। शहर के मैक्स अस्पताल ने 18 से 45 वर्ष के आयुवर्ग के लिए टीकाकरण शनिवार से ही सीमित केद्रों में शुरू कर दिया था और फोर्टिस हेल्थकेयर ने रविवार से टीकाकरण शुरू किया।
ALSO READ: CoronaVirus : घर से निकलें तो ये बातें ध्यान में रखें
दिल्ली सरकार ने टीकों की 1.34 करोड़ खुराक का ऑर्डर दिया था, जो आगामी तीन महीनों में मिलेगा। इनमें से कोविशील्ड टीके की 67 लाख खुराक पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से खरीदी गई हैं। अधिकारियों ने पहले बताया था कि तीन लाख खुराक की पहली खेप मई के पहले सप्ताह में दिल्ली पहुंचेगी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा था कि अगले तीन महीनों के अंदर सभी वयस्कों को कोरोनावायरस के टीके लगाने के लिए एक योजना तैयार की गई है।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

एक सीटी-स्कैन 300 एक्स-रे के बराबर, बार बार न कराए हो सकता है नुकसान