World Cup में पाकिस्तान की जबरदस्त जीत, द. अफ्रीका को 49 रनों से हराया

रविवार, 23 जून 2019 (23:17 IST)
लंदन। हारिस सोहैल (89) और बाबर आजम (69) के शानदार अर्द्धशतकों के बाद गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से पाकिस्तान ने करो या मरो के विश्वकप मुकाबले में रविवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 49 रन की जीत हासिल कर अपनी उम्मीदें कायम रखीं जबकि चोकर्स के नाम से मशहूर दक्षिण अफ्रीका की टीम विश्व कप से बाहर हो गई।
 
लॉर्ड्स मैदान पर पाकिस्तान ने 50 ओवर में 7 विकेट पर 308 रन का मजबूत स्कोर बनाया और दक्षिण अफ्रीका को 9 विकेट पर 259 रन पर रोक दिया। पाकिस्तान ने हालांकि इस मैच में 6 कैच टपकाए लेकिन उसके तेज और स्पिन गेंदबाजों ने बेहतर प्रदर्शन किया। ऑफ स्पिनर शादाब खान ने नियंत्रित गेंदबाजी करते हुए 50 रन पर 3 विकेट निकाले। बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों वहाब रियाज ने 46 रन पर 3 विकेट और मोहम्मद आमिर ने 49 रन पर 2 विकेट लिए।
पाकिस्तान की 6 मैचों में यह दूसरी जीत है और उसके 5 अंक हो गए हैं। पाकिस्तान को इस जीत के बाद न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से खेलना है। उसके पास सेमीफाइनल की उम्मीद बनी हुई है। दक्षिण अफ्रीका को 7 मैचों में पांचवीं हार का सामना करना पड़ा है और टूर्नामेंट में उसकी चुनौती समाप्त हो गई है।
 
पाकिस्तान इस जीत से अब तालिका में सातवें स्थान पर पहुंच गया है। सोहैल ने मात्र 59 गेंदों पर 89 रन में 9 चौके और 3 छक्के लगाए। आजम ने 80 गेंदों पर 69 रन में 7 चौके लगाए। पाकिस्तानी ओपनरों इमाम उल हक और फखर जमान ने 44-44 का योगदान दिया।
 
इमाम ने 57 गेंदों पर 6 चौके जड़े जबकि जमान ने 50 गेंदों पर 6 चौके और एक छक्का मारा। मोहम्मद हफीज ने 33 गेंदों पर एक छक्के की मदद से 20 रन बनाए। इमाद वसीम ने 15 गेंदों में 3 चौकों के सहारे 23 रन बनाए।
 
30 वर्षीय सौहेल का यह 11वां वनडे अर्द्धशतक था। उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ अपनी टीम के पहले मैच में आठ रन बनाने के बाद अगले चार मैचों में एकादश में जगह नहीं दी गई थी। इस मैच में उन्हें शोएब मलिक की जगह उतारा गया और उन्होंने खुद को साबित करते हुए पाकिस्तान को 300 के पार पहुंचा दिया।
24 वर्षीय आजम का यह 14वां अर्द्धशतक था और वे वनडे में 3000 रन पूरे करने के करीब पहुंच गए हैं। आजम के अब 2971 रन हो गए हैं। पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। इमाम और जमान ने पहले विकेट के लिए 81 रन जोड़कर इस फैसले को सही साबित किया। जमान टीम के 81 और इमाम 98 के स्कोर पर आउट हुए।
 
आजम और हफीज ने तीसरे विकेट के लिए 43 रन की साझेदारी की जिसके बाद आजम और सोहैल ने चौथे विकेट के लिए 81 रन जोड़े। सोहैल ने इमाद वसीम के साथ पांचवें विकेट के लिए 71 रन की साझेदारी की। इन साझेदारियों ने टीम को मजबूत स्कोर की तरफ अग्रसर कर दिया।
 
दक्षिण अफ्रीका की तरफ से तेज गेंदबाज लुंगी एनगिदी ने 64 रन पर 3 विकेट लिए जबकि लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने 41 रन देकर दोनों ओपनरों को अपना शिकार बनाया। आंदिले फेहलुकवायो और एडन मारक्रम ने एक-एक विकेट लिया।
 
लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज पाकिस्तानी फील्डरों के हाथों मिले जीवनदान का कोई फायदा नहीं उठा पाए। कप्तान फाफ डू प्लेसिस (63) ने अर्द्धशतक बनाया लेकिन वह इस पारी को बड़े शतक में नहीं बदल पाए। क्विंटन डी-कॉक ने 47, रैसी वान डेर डुसेन ने 36 और डेविड मिलर ने 31 रन बनाए लेकिन ये बल्लेबाज भी बड़ा स्कोर नहीं बना पाए।
 
डी कॉक ने 60 गेंदों में तीन चौके और दो छक्के, डू प्लेसिस ने 79 गेंदों में पांच चौके, डुसेन ने 47 गेंदों में एक चौका और एक छक्का तथा मिलर ने 37 गेंदों में तीन चौके लगाए। क्रिस मौरिस 10 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 16 रन बनाकर आउट हुए।
 
आंदिले फेहलुकवायो ने निचले क्रम में कुछ अच्छे शॉट खेले लेकिन अंत में लक्ष्य काफी बड़ा साबित हुआ। फेहलुकवायो ने 32 गेंदों में 6 चौकों की मदद से नाबाद 46 रन बनाए।
 
शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों में से किसी का बड़ी पारी न खेल पाना टीम को भारी पड़ा और अंत में वे चोकर्स साबित हो गए। दक्षिण अफ्रीका ने मुकाबले में संघर्ष करने का कोई जज्बा नहीं दिखाया और यही उसकी हार का बड़ा कारण रहा। दक्षिण अफ्रीका के लिए एकमात्र बड़ी साझेदारी दूसरे विकेट के लिए 87 रन की डी कॉक और डू प्लेसिस के बीच हुई।
 
शादाब खान ने 50 रन पर 3 विकेट, वहाब रियाज ने 46 रन पर 3 विकेट और मोहम्मद आमिर ने 49 रन पर दो विकेट लिए जबकि शाहीन आफरीदी ने 54 रन पर एक विकेट लिया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख विश्व कप में पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका मैच के हाईलाइट्‍स