पाकिस्तान आखिरी मैच जीतकर भी World Cup से बाहर, पहली बार बांग्लादेश को 94 रनों से हराया

शुक्रवार, 5 जुलाई 2019 (23:19 IST)
लंदन। ओपनर इमाम उल-हक (100) के शानदार शतक से पाकिस्तान ने बांग्लादेश के खिलाफ अपने आखिरी लीग मैच में शुक्रवार को 94 रन से जीत हासिल की लेकिन इस जीत के बावजूद उसे नेट रन रेट में न्यूजीलैंड से पिछड़कर आईसीसी विश्व कप से बाहर हो जाना पड़ा।
 
पाकिस्तान ने 9 विकेट पर 315 रन बनाए जबकि बांग्लादेश की टीम 44.1 ओवर में 221 रन ही बना सकी। पाकिस्तान को 315 रन बनाने के बाद यदि सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करना था तो उसे बांग्लादेश को 7 रन या उससे कम के स्कोर पर आउट करना था लेकिन बांग्लादेश के 2 ओवर में 8 रन बनाने के साथ ही पाकिस्तान आधिकारिक रूप से विश्व कप से बाहर हो गया। पाकिस्तान ने इसके बाद सांत्वनाभरी जीत हासिल करने की औपचारिकता पूरी की।
 
पाकिस्तान की 8 मैचों में यह 5वीं जीत रही और उसने 11 अंकों के साथ अपना अभियान समाप्त किया। उसके न्यूजीलैंड के बराबर 11 अंक रहे लेकिन न्यूजीलैंड का नेट रनरेट प्लस और पाकिस्तान का माइनस रहा। बांग्लादेश की 9 मैचों में यह 5वीं हार रही और उसने 7 अंकों के साथ अपना अभियान समाप्त किया।
 
ऑस्ट्रेलिया, भारत, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की टीमें सेमीफाइनल में पहुंच गईं और शनिवार को भारत तथा श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया तथा दक्षिण अफ्रीका के मैचों से यह फैसला होगा कि ऑस्ट्रेलिया और भारत में कौन सी टीम नंबर 1 और 2 पर रहेगी। इंग्लैंड की टीम तीसरे और न्यूजीलैंड की टीम चौथे स्थान पर रहेगी। सेमीफाइनल में नंबर 1 टीम का चौथे नंबर की टीम और नंबर 2 टीम का तीसरे नंबर की टीम से मुकाबला होगा।
पाकिस्तान के लिए सांत्वना की बात यही रही कि उसने अपने आखिरी मैच में 315 रन का सम्मानजनक स्कोर बनाया। पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज जहीर अब्बास ने पाकिस्तान की टीम के लिए कहा है कि उसने जिस तरह टूर्नामेंट में वापसी की थी, वह उसके लिए गौरव की बात थी और टूर्नामेंट को लेकर उसे निराश नहीं होना चाहिए।
 
इस मुकाबले में पाकिस्तान ने टॉस जीतकर इस उम्मीद के साथ पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया कि वह 400 से ऊपर का स्कोर बनाए और बांग्लादेश को 84 से नीचे आउट कर मुकाबला जीते लेकिन पाकिस्तान की टीम 315 रन ही बना सकी।
 
पाकिस्तान के लिए उनके ओपनर इमाम-उल-हक ने 100 गेंदों पर 7 चौकों की मदद से 100 रन बनाए और वे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान की गेंद पर हिट विकेट आउट हुए। इमाम उल-हक ने दूसरे विकेट के लिए बाबर आजम के साथ 157 रन की साझेदारी की। आजम ने 98 गेंदों पर 96 रन में 11 चौके लगाए।
 
मोहम्मद हफीज ने 25 गेंदों पर 3 चौकों की मदद से 27 रन और इमाद वसीम ने 26 गेंदों में 6 चौकों और 1 छक्के के सहारे 43 रन बनाए। बाद के बल्लेबाज कोई खास प्रदर्शन नहीं कर पाए।
 
मुस्ताफिजुर ने लगातार दूसरे मैच में 5 विकेट हासिल किए। उन्होंने 10 ओवर में 75 रन देकर 5 विकेट लिए। मुस्ताफिजुर ने अपना दूसरा विकेट लेते हुए वनडे में 54 मैचों में 100 विकेट पूरे कर लिए। मुस्ताफिजुर ने भारत के खिलाफ पिछले मुकाबले में ही 59 रन पर 5 विकेट लिए थे। मुस्ताफिजुर के अलावा मोहम्मद सैफुद्दीन ने 9 ओवर में 77 रन पर 3 विकेट हासिल किए।
 
बांग्लादेश ने जीत के साथ अपना अभियान समाप्त करने का जज्बा नहीं दिखाया और टीम 221 रन ही बना सकी। बांग्लादेश की तरफ से शाकिब अल हसन ने 77 गेंदों में 6 चौकों की मदद से 64 रन बनाए और इस टूर्नामेंट में वे 600 रन पूरे करने वाले पहले खिलाड़ी बने।
 
सौम्य सरकार ने 22, लिटन दास ने 32 और महमूदुल्लाह ने 32 रन बनाए। पाकिस्तान की तरफ से शाहीन आफरीदी ने अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए 35 रन पर 6 विकेट झटके जबकि शादाब खान को 59 रन पर 2 विकेट मिले। आफरीदी को 'प्लेयर ऑफ द मैच' का पुरस्कार मिला।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख विश्व कप में पाकिस्तान और बांग्लादेश मैच के हाईलाइट्‍स