सतना में 20 दिन में दूसरी बार फिरौती के लिए अगवा मासूम की हत्या

विशेष प्रतिनिधि

बुधवार, 13 मार्च 2019 (20:18 IST)
सतना। मध्यप्रदेश के सतना में फिर एक बार फिरौती के लिए अगवा एक मासूम की बेरहमी से हत्या कर दी गई। मंगलवार को सतना के नागौद में रहिकवारा में पांच साल के मासूम शिवकांत का अपहरण उस वक्त हो गया था जब वो घर के बाहर खेल रहा था। बच्चे के घर के बाहर से दिनदहाड़े अपहरण के बाद इलाके में सनसनी फैल गई थी। परेशान परिवार वालों ने बच्चे की तलाश की, फिर पुलिस में शिकायत दर्ज की। 
 
दिनदहाड़े मासूम के अगवा होने की खबर से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। इसी बीच शाम को अगवा मासूम के पिता के मोबाइल पर अपहरणकर्ताओं ने 2 लाख रुपए फिरौती देने के लिए फोन किया। इसके बाद हड़ंकप मच गया था। पुलिस के आला अधिकारी सक्रिय हो गए। 
 
पुलिस की खोजबीन जारी थी कि इस बीच बुधवार को दिन में अगवा मासूम शिवकांत की लाश घर से कुछ दूरी पर स्थित तालाब से बोरी में बरामद हुई। पुलिस ने घटना में शामिल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
 
पुलिस के मुताबिक आरोपी, जो कि रिश्ते में मृतक का चाचा लगता था, आपसी रंजिश के चलते मासूम को अगवा को मौत के घाट उतार दिया, लेकिन 20 दिन में मासूम को अगवा कर मौत के घाट उतारने के दूसरे मामले ने पूरे पुलिस महकमे की कार्यप्रणाली सवाल उठ गए हैं।
 
24 घंटे बाद घर से कुछ ही कदम की दूरी पर मासूम की लाश मिलना पुलिस की पूरी कार्यप्रणाली को संदेह के घेरे में खड़ा कर रहा है। स्थानील लोगों का कहना है कि अगर पुलिस समय रहते सक्रिय हो जाती तो मासूम की हत्या नहीं होती इससे पहले सतना से लगे चित्रकूट में भी दिनदहाड़े स्कूल बस से अगवा मासूम की हत्या कर दी गई थी जिसमें पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठे थे, वहीं पूरे मामले पर सियासत शुरू हो गई।
 
बीजेपी प्रवक्ता नरेंद्र शिवाजी पटेल ने कमलनाथ सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि क्या यही है वक्त बदलाव का। पटेल का कहना है कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने के बाद जिस तरह हत्याएं हो रही हैं, उससे पूरी सरकार सवालों के घेरे में है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख 10 हजार फुट की ऊंचाई पर कश्यप को महसूस हो रही है पत्नी साइना की कमी