सोने की चोरी के मामले में पकड़ा गया बेटा, पिता ने की आत्महत्या

शुक्रवार, 15 फ़रवरी 2019 (11:37 IST)
नासिक (महाराष्ट्र)। महाराष्ट्र के नासिक में निगम के पार्षद के घर में सोने की चोरी के मामले में नाबालिग की गिरफ्तारी के बाद उसके पिता ने कथित तौर पर जहर खाकर आत्महत्या कर ली। व्यक्ति पार्षद के यहां नौकरी करता था।

नासिक पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने बताया कि श्रीपद तुकाराम म्हास्के (52) ने बुधवार देर रात यहां के भागुर बस-स्टैंड इलाके के पास जहर खा लिया। सरकारवाड़ा थाना निरीक्षक अशोक भगत ने कहा, म्हास्के आर्किटेक्ट शिवाजीराव पाटिल के बंगले में काम करता था, जो कांग्रेस पार्षद हेमलता पाटिल के ससुर हैं। यहां तिलकवाड़ी स्थित बंगले में उसके नाबालिग बेटे भी उसकी मदद करते थे।

उन्होंने बताया, पिछले महीने बंगले से 15 लाख रुपए मूल्य के दस तौला (10 ग्राम) वजन के सोने के पांच बिस्कुट और 10,000 रुपए नकद चोरी हो गए थे। मंगलवार को परिवार का ध्यान उस चोरी पर गया और पुलिस को बताया कि उन्हें म्हास्के के नाबालिग बेटे पर शक है। पुलिस जांच में नाबालिग बेटे और तीन अन्य लोगों को संलिप्त पाया गया, जिसमें एक सोनार शामिल है, जिसे बुधवार को परभणी जिले के सेलू से पकड़ा गया।

भगत ने कहा कि चोरी के मामले में अपने बेटे के शामिल होने के बारे में सुनकर स्तब्ध म्हास्के ने बुधवार रात जहर खा लिया और आत्महत्या कर ली। उन्होंने कहा, नाबालिग को एक सुधार गृह में भेजा गया है, जबकि विट्ठल बाहिवाल (34), शिवाजी खुदे (33) और विजय नाथभजन (18) के रूप में पहचाने गए तीन लोगों को गिरफ्तार कर नासिक लाया गया है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Pulwama Terror Attack : पीएम मोदी की कड़ी चेतावनी, पाक ने कर दी बहुत बड़ी गलती, भारी कीमत चुकानी होगी