पश्चिम बंगाल में स्कूली शिक्षिका से बर्बरता, बांधकर घसीटा और कमरे में बंद किया

सोमवार, 3 फ़रवरी 2020 (15:29 IST)
बालुरघाट (पश्चिम बंगाल)। पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले में तृणमूल कांग्रेस के कथित समर्थकों ने गांव में सड़क बनाने के लिए हाई स्कूल की एक शिक्षिका की जमीन पर जबरन कब्जा करने की मंशा से उसे बांध कर कुछ दूर तक घसीटा, उसके साथ मारपीट की और फिर उसे एक मकान में बंद कर दिया।
ALSO READ: CAA और NRC को लेकर प. बंगाल में झड़प, 2 व्यक्तियों की मौत, 1 घायल
पुलिस ने सोमवार को बताया कि घटना गंगारामपुर ब्लॉक के नंदनपुर पंचायत में शुक्रवार को हुई। शिक्षिका की पहचान भाजपा समर्थक स्मृतिकण दास के रूप में हुई है। ग्राम पंचायत सदस्यों के नेतृत्व में आए इस समूह के लोगों ने शिक्षिका की मां और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ भी मारपीट की। अभी तक इस सिलसिले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।
 
पुलिस ने बताया कि घटना के तथाकथित वीडियो में स्पष्ट दिख रहा है कि उसमें नंदनपुर पंचायत के उपप्रधान अमल सरकार और अन्य लोग शामिल हैं। पार्टी सूत्रों ने बताया कि घटना में कथित संलिप्तता को लेकर तृणमूल कांग्रेस के जिला नेतृत्व ने सरकार को पार्टी से निकाल दिया है।
 
वीडियो में दिख रहा है कि हमलावरों ने शिक्षिका के हाथ पैर बांध दिए हैं, जिसकी वजह से वह गिर गई। उन्होंने शिक्षिका को करीब 30 फुट तक घसीटा और इस दौरान उसे पीटते रहे। फिर हमलावरों ने उसे ब्लॉक स्तर के एक कार्यकर्ता के मकान में बंद कर दिया। शिक्षिका की बहन सोमा ने जब उसे बचाने का प्रयास किया तो हमलावरों ने उसकी भी पिटाई कर दी।
 
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि स्थानीय अस्पताल से इलाज के बाद छुट्टी मिलने पर शिक्षिका ने सरकार और तृणमूल कांग्रेस के चार समर्थकों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। उन्होंने कहा कि हम मामले की जांच कर रहे हैं और प्रत्यक्षदर्शियों से बात कर रहे हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख SBI के ग्राहक हैं तो 28 फरवरी तक करवा लें KYC वरना बंद हो सकता है खाता