Pushya Nakshatra : आज और कल है खरीदी का महामुहूर्त, सोम और मंगल पुष्य में राशि अनुसार क्या लाएं घर में

प्रति वर्ष की तरह इस वर्ष भी दीपावली से पहले शुभ खरीदी के लिए दो बड़े महामुहूर्त हैं। दीपावली से एक सप्ताह पहले 21 अक्टूबर यानी आज  सोम पुष्य नक्षत्र के साथ सर्वार्थसिद्धि योग भी है और 22 अक्टूबर को भौम पुष्य नक्षत्र रहेगा। इस दिन भी सर्वार्थसिद्धि योग रहेगा। 
 
दो दिन अत्यंत शुभ योग रहेंगे। इन दो दिनों में व्यापार, खरीदारी या किसी तरह का निवेश धनतेरस और दीपावली के समान ही शुभ रहेगा।
 
दीपावली से पहले आने वाले पुष्य नक्षत्र में की जाने वाली हर प्रकार की खरीदी अक्षय फल प्रदान करने वाली होती है। पुष्य नक्षत्र का स्वामी शनि होता है। शनि वृद्धि करने वाला एवं लंबे समय तक रहने वाला ग्रह है, इसलिए इस नक्षत्र में खरीदी गई वस्तु लंबे समय तक साथ देती है और लाभ भी देती है।
 
 
कौन-कौन सी चीजें खरीद सकते हैं
इस नक्षत्र में वाहन, मकान, दुकान, वस्त्र, स्वर्ण, चांदी, बर्तन, भूमि आदि खरीद सकते हैं। पुष्य नक्षत्र में स्थाई लाभ देने वाली वस्तुएं जैसे सोना, भूमि, मकान, चांदी और धातुएं खरीदना ज्यादा लाभदायक रहता है। माना जाता है कि इस दिन सोना खरीदने से घर में सुख-समृद्धि आती है।
 
खरीदी के मुहूर्त
 
21 अक्टूबर 2019 - दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक और रात्रि 10.30 से 12 बजे तक। 
22 अक्टूबर 2019 सुबह 9 से दोपहर 1.30 बजे तक।
 
सोमवार को सोना-चांदी और मंगल को प्रॉपर्टी 
 
सोम पुष्य में सोने व चांदी की खरीदारी और निवेश लाभकारी माना गया है। इस दिन सोना या चांदी खरीदना शुभफलदायक होता है। वहीं, मंगल को भूमि और कृषि का कारक ग्रह माना गया है, इस वजह से मंगल पुष्य पर मकान, प्लॉट या कृषि भूमि की खरीदारी करना शुभ रहेगा। मंगलवार को वाहन की खरीदारी भी की जा सकती है।
 
राशिनुसार क्या खरीदें, कहां निवेश करें
 
मेष- इस राशि के लोगों को शेयर, केमिकल, चमड़े, लोहे से संबंधित काम में निवेश करने से बचना चाहिए। मंगलवार को हनुमानजी को सरसों के तेल का दीपक लगाएं।
 
वृषभ- इन लोगों को अनाज, कपड़ा, चांदी, शकर, चावल, सौन्दर्य सामग्री, परफ्यूम, दूध और उससे बने पदार्थ, प्लास्टिक, खाद्य तेल, आटो पार्टस, वाहन में लगने वाली चीजें, कपड़े संबंधी शेयर और रत्नों में निवेश करने या खरीदने से लाभ प्राप्त होगा। पूर्व का निवेश अटका हो तो चंद्रदेव के लिए घी का दीपक जलाएं।
 
मिथुन- इस राशि के लोगों के लिए सोने में निवेश करना लाभदायक होगा। इसके अलावा कागज, लकड़ी, पीतल, गेहूं, दालें, कपड़ा, स्टील, प्लास्टिक, तेल, सौंदर्य सामग्री, सीमेंट, खनिज पदार्थ, पशु, पूजन सामग्री, वाद्य यंत्र आदि का व्यापार, खरीदने या उसमें निवेश करने से लाभ होगा। पूर्व का निवेश अटका हो तो सफेद वस्त्र का दान करें।
 
कर्क- इस राशि वालों को चांदी, चावल, शकर और कपड़ा उत्पाद करने वाली कंपनियों के शेयर, प्लास्टिक, अनाज, लकड़ी, बैनर, केबल, तार, सिनेमा, खाद्य सामग्रियों, आधुनिक उपकरण, बच्चों के खिलौने खरीदने या फायनेंस कंपनियों में निवेश करना लाभदायी होगा। पूर्व का निवेश अटका हो तो गणेशजी को लड्डू का भोग लगाएं।
 
सिंह- इन्हें सोना, गेहूं, कपड़ा, औषधियों, रत्नों, सौंदर्य सामग्री, इत्र, शेयर और जमीन-जायदाद में निवेश से लाभ होगा। तकनीकी उपकरण, वाहन, सौंदर्य सामग्री, फिल्मों, प्लास्टिक, केबल तार, इलेक्ट्रॉनिक्स, कागज, खाद्य पदार्थ, लकड़ी और उससे बने उपकरण, सेना मे सप्लाई करने में भी यह लाभ अर्जन करता है। पूर्व का निवेश अटका हो तो हनुमानजी को चमेली का तेल का दीपक लगाएं।
 
कन्या- इन लोगों को शिक्षा, सोना, औषधियों, केमिकल, फर्टीलाइजर्स, चमड़े से बने सामान, खेती, खेती के उपकरणों के कार्य करने में सफलता मिलेगी। निवेश भी लाभदायी होगा। पूर्व का कोई निवेश उलझा हो तो गणेशजी को लड्डू का भोग लगाएं।
 
तुला- इस राशि वालों को लोहा, सीमेंट, स्टील, दवाइयों, केमिकल, चमड़े, फर्टीलाईजर्स, कपड़ा, तार, इस्पात, कोयला, रत्न, आधुनिक यंत्रों (कंप्यूटर, कैमरे, टेलिविजन आदि बनाने वाली कंपनी) तेल में निवेश करने या खरीदने से लाभ होगा। पूर्व का निवेश अटका हो तो सूर्य को दूध अर्पण करें।
 
वृश्चिक- इस राशि वालों को जमीन, मकान, दुकान, खेती, सीमेंट, रत्नों, खनीजों, खेती एवं मेडिकल के उपकरण पूजन सामग्री, कागज, वस्त्र में निवेश या खरीदने से लाभ हो सकता है। पूर्व का निवेश अटका हो तो मंगलवार को हनुमान चालीसा का पाठ करें।
 
धनु-इस राशि वालों को निवेश के लिए भी इन्हीं वस्तुओं पर ध्यान देना चाहिए। आभूषणों, रत्नों, सोना, अनाज, कपास, चांदी, शकर, चावल, औषधियों, सौंदर्य सामग्री, दूध से बने पदार्थ, पशुओं का व्यापार करने और उसमें निवेश करने या खरीदने से लाभ होगा। पूर्व का निवेश कहीं अटका हो तो सरसों का तेल दान करें।
 
मकर- इस राशि वालों को लोहा, इस्पात, केबल, तेल सभी प्रकार के, खाद्य सामग्री, इलेक्ट्रॉनिक्स सामान, यंत्र, खनिज पदार्थ, खेती उपकरण, वाहन, मेडिकल के उपकरण, वस्त्र, इत्र, स्टील, सौंदर्य सामग्री, फिल्मों, नाटकों आदि का व्यापार करने या उसमें निवेश करने या खरीदने से लाभ होता हैं। पूर्व का निवेश कहीं अटका हो तो इमली का दान करें।
 
कुंभ- इस राशि वालों को लोहा, इस्पात, केबल, तेल सभी प्रकार के खाद्य सामग्री, इलेक्ट्रॉनिक्स सामान, यंत्र, खनिज पदार्थ, खेती उपकरण, वाहन, मेडिकल के उपकरण, वस्त्र, इत्र, स्टील, सौंदर्य सामग्री, फिल्मों, नाटकों आदि का व्यापार करने, खरीदने या उसमें निवेश करने से लाभ होगा। पूर्व का निवेश कहीं अटका हो तो अदरक का दान करें।
 
मीन- आभूषण, रत्न, सोना, अनाज, कपास, चांदी, शकर, चावल, औषधियां, सौदर्य सामग्री, दूध से बने पदार्थ, पशुओं का व्यापार करने और उसमें निवेश करने या खरीदने से लाभ होता है। पूर्व का निवेश कहीं अटका हो तो दुर्गा चालीसा का पाठ करें।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख diwali : रंगोली या मांडना में क्या बनाते हैं और क्यों, जानिए दोनों का फर्क