जानिए पर्यावरण बचाने के खास उपाय....

वर्तमान दौर में पर्यावरण असंतुलन की सबसे बड़ी समस्या ग्लोबल वॉर्मिंग है तथा जिसक‍ी वजह से पृथ्वी का तापमान बढ़ रहा है और मानव जीवन के कदम विनाश की ओर बढ़ रहे हैं। ऐसे समय में अगर हमने पर्यावरण को बचाने के लिए कोई बड़ा कदम नहीं उठाया तो वह दिन दूर नहीं, जब हमारा अस्तित्व ही खतरे में पड़ जाएगा।

 


आइए जानते हैं पर्यावरण बचाने के कुछ खास उपाय : - 


 
 


 


* बड़े-बड़े शहरों/गांवों में दिन-प्रतिदिन जलस्तर गिरता जा रहा है अत: आवश्यकता से अधिक बोरिंग का निर्माण न करना। 
 
* सरकार, नगर पालिका, गैरसरकारी संस्थानों द्वारा शहरी नागरिकों को पौधारोपण के लिए प्रोत्साहित करना।
 

 


 


* शहरों/गांवों में वाहनों का प्रयोग कम से कम हो तथा जोर से हॉर्न बजाने पर रोक जरूरी। 
 
* अंधाधुंध जंगलों की कटाई से प्रकृति का संतुलन बिगड़ रहा है अत: खेती, वन तथा जंगलों का योग्य तरीके से रखरखाव करना। 
 
 

 


* वन विभाग द्वारा पेड़ों को कटने से बचाना और लकड़ी माफिया पर नजर रखना, जो कई क्विंटल लकड़ी अवैध रूप से काटकर बेच देते हैं तथा सही समय पर उन्हें जेल तक पहुंचाना। 
 
* मकान या भवन बनाते समय पेड़-पौधारोपण के लिए अतिरिक्त जगह छोड़ना। 
 
 

 


* बड़ी-बड़ी मल्टियों का निर्माण करते समय एक बगीचे का निर्माण करना, चाहे जगह बहुत ज्यादा बड़ी न हो तब भी। 
 
* पर्यावरण को बचाने में कई हद तक पशु-पक्षियों का भी काफी महत्व है। अनावश्यक पेड़ कटने से पक्षियों का बसेरा खत्म हो गया है, इस वजह से उनकी बहुत-सी प्रजातियां विलुप्ति की कगार पर हैं अत: पशु-पक्षियों के जीवन की रक्षा करना मनुष्य का पहला कर्तव्य है। 
 
 


 


* खाना बनाने और सब्जियां धोने में उपयोग होने वाले पानी से पौधों का संरक्षण करना। 
 
* पॉलिथीन से प्रदूषण फैलता है अत: पॉलिथीन का उपयोग न करते हुए रद्दी-पेपर से बनी थैलियों और कपड़े से बनी थैली और बैग्स का उपयोग ज्यादा से ज्यादा करना। 
 
 

 



* घर-घर जाकर लोगों को पर्यावरण बचाने के प्रति जागरूक करना जिससे कि लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़ने से हमें प्रकृति की रक्षा करने में मदद मिलेगी। 

* 1,000 पौधे लगाने की बजाए 10 ही पौधे रोपकर उनकी विधिवत देखभाल करना। पौधारोपण करने की पहल करना, क्योंकि पौधे ही हमारे वातावरण को शुद्ध रख सकते हैं।


 

वेबदुनिया पर पढ़ें

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!