Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Father's Day 2021 : पिता बनने के बाद छोड़ देना चाहिए ये बुरी आदतें....

webdunia
पिता बनने के बाद अक्सर पुरुष पहले से ज्यादा जिम्मेदार हो जाते हैं। वे अपने परिवार की तो ठीक से देखभाल करते ही हैं लेकिन साथ ही वे खुद के प्रति भी ज्यादा जागरुक हो जाते हैं। पिता बनने के बाद पुरुष नहीं चाहते कि उनकी कोई भी सेहत समस्या व बुरी आदत उनके बच्चे में आए। यदि आप भी अपने बच्चे में अच्छी आदतें डालना चाहते हैं, तो इसकी शुरुआत आपको खुद से ही करनी होगी। हर पुरुष को पिता बनने के बाद खुद की इन बुरी आदतों को छोड़ देना चाहिए-
 
1. धूम्रपान और शराब पीना छोड़ें :
आप एक पिता होने के नाते अपने बच्चे पर बहुत अधिक प्रभाव डालते हैं और आपकी आदतें भी। बच्चे केवल मां की ही नकल नहीं करते, वे पिता को देखकर भी उनके जैसा काम करने और बनने की कोशिश करते हैं। साथ ही धूम्रपान और शराब से आपकी सेहत को भी नुकसान होता है जिसका खामियाजा आगे चलकर आपके परिवार को ही उठाना पड़ेगा।
 
2. आलस करना छोड़ें और नियमित व्यायाम को अपनाएं :
इससे आप तो फिट रहेंगे ही साथ ही आपके बच्चे भी बचपन से ही व्यायाम करना सीख जाएंगे, जिससे आगे जाकर वे भी शारीरिक व मानसिक रूप से फिट रहेंगे और सेहत समस्याओं से दूर रहेंगे।
 
3. अनुचित आहार का सेवन करना छोड़ें :
आप पिता बनने से पहले कैसा आहार लेते थे, शादी के बाद आपका भोजन कैसा रहा व पिता बनने के दौरान वाले आहार का भी होने वाले बच्चे की सेहत पर असर होता है। जिस समय आपकी पत्नी ने गर्भधारण किया उस समय आपकी पत्नी व आप दोनों की सेहत व आहार का प्रभाव भी होने वाले बच्चे पर पड़ता है।
 
 
4. कम नींद लेना और चिड़चिड़ाना छोड़ें :
आपके लिए पर्याप्‍त नींद जरूरी है, तभी आप अपने ऑफिस के बाद अपने परिवार और बच्चे की सही तरह से देखरेख कर पाएंगे। कम नींद लेने से चिड़चिड़ापन आता है और ऐसा व्यवहार बच्चे पर बुरा असर डालता है।
 
5. गुस्सा करना और पत्नी से झगड़ना छोड़ें :
यदि आप गुस्‍सैल हैं और घर में बात-बात पर झगड़ने लगते हैं तो ऐसा व्यवहार छोड़ दें। आपको ऐसा करते दिख आपके बच्चे को गुस्सा आने पर लड़ना-झगड़ना सामान्य सा लगने लगेगा और घर से बाहर जाने पर वह यही सब करेगा।
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

चतुर्थी पर श्री गणेश को चढ़ाएं यह प्रसाद, प्रसन्न होकर देंगे आशीष