Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अर्जेंटीना से मिली जीत का जश्न मना रही है सऊदी अरब की जनता, घोषित हुआ राष्ट्रीय अवकाश

हमें फॉलो करें webdunia
बुधवार, 23 नवंबर 2022 (16:05 IST)
फीफा की 3 रैंकिंग वाली अर्जेंटीना को मंगलवार को 51 वीं रैंक की साउदी अरब से हार का सामना करना पड़ा। कतर में खेले जा रहे विश्वकप में अर्जेंटीना का 36 मैचों का विजय रथ सऊदी अरब ने रोक दिया।पहले भाग में लियोनेल मेस्सी ने अर्जेंटीना की ओर से एकमात्र गोल किया लेकिन दूसरे भाग में अरब ने पासा ही पलट दिया।

सऊदी अरब ने कोई फाइनल नहीं जीता है, लेकिन सूत्रों के अनुसार इस जीत के बाद से सऊदी अरब में कल से जगह जगह जश्न देखने को मिल रहा है, बड़े बड़े कॉफी शॉप पर 50% डिस्काउंट, सिम कंपनी 24 घंटे के लिए डाटा फ्री कर दी है, बड़े बड़े रेस्टोरेंट में इंट्री करते ही कुछ ना कुछ फ्री मिल रहा है।
हुकूमत के आदेश पर आज सऊदी अरब में सरकारी छुट्टी मनाई जा रही है। सऊदी अरब की  आवाम राह चलते अजनबी लोगों को चाकलेट खिला खिला कर खुशियों का इजहार कर रही है।

सऊदी अरब ने अर्जेंटीना को हराकर मचा दिया था तहलका

सऊदी अरब ने मंगलवार को लियोनेल मेसी की अगुवाई वाली अर्जेंटीना की टीम को 2-1 से हराकर विश्वकप का सबसे बड़ा उलटफेर करते हुए दुनिया भर के फुटबॉल प्रेमियों को हतप्रभ कर दिया।

मेसी की टीम को शुरू में ही हार मिलने से इस स्टार स्ट्राइकर की पहली बार विश्व चैंपियन बनने की उम्मीदों को भी करारा झटका लगा। अर्जेंटीना की इस हार ने 1990 के विश्व कप में डियागो माराडोना की अगुवाई वाली टीम की कैमरून के हाथों पहले मैच में 1-0 से हार की यादें भी ताजा हो गई।
 

सऊदी अरब की तरफ से सालेह अलशहरी और सलेम अल्दावसारी ने दूसरे हाफ में पांच मिनट के अंतराल में दो गोल करके अर्जेंटीना के प्रशंसकों को निराश कर दिया। अर्जेंटीना की तरफ से मेसी ने 10वें मिनट में पेनल्टी को गोल में बदला था।

यह विश्वकप के सबसे बड़े उलटफेर में से एक है। इस फुटबॉल महासमर में इससे पहले भी कुछ बड़े उलटफेर हुए हैं, जैसे कि 2002 में सेनेगल की तत्कालीन मौजूदा चैंपियन फ्रांस पर 1-0 की जीत और 1950 में अमेरिका का इंग्लैंड को इसी अंतर से हराना।

 मेसी के पांचवें और संभवत: अंतिम विश्वकप में मिली इस हार से अर्जेंटीना का पिछले 36 मैचों से चला आ रहा अजेय अभियान भी थम गया। अर्जेंटीना को अपनी उम्मीदें बरकरार रखने के लिए मैक्सिको और पोलैंड के खिलाफ होने वाले मैचों में हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी।

फ्रांस के क्लब पेरिस सेंट जर्मेन की तरफ से खेलने वाले मेसी ने मैच समाप्त होने के बाद सऊदी अरब के कोचिंग स्टाफ से हाथ मिलाया लेकिन उनके चेहरे से निराशा साफ झलक रही थी। वह मैच समाप्त होने के बाद अपने हाथों को कूल्हों पर रखकर चुपचाप खड़े हो गए थे।

सऊदी अरब की असंभव जीत के नायक अल्दावसारी रहे जिन्होंने खेल के 53वें मिनट में पेनल्टी क्षेत्र के अंदर ऊंची गेंद को संभाल कर एक डिफेंडर को छकाया और फिर दूसरे डिफेंडर को चकमा देकर करारा शाट जमाया। अर्जेंटीना के गोलकीपर इमी मार्टिनेज ने गेंद पर हाथ लगाया लेकिन शॉट इतना करारा था कि वह उसे रोक नहीं पाए।
webdunia

मेसी के चेहरे से साफ लग रहा था कि वह गोल होने से सकते में हैं। दूसरी तरफ सऊदी अरब के दर्शकों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया था। सऊदी अरब के स्थानापन्न खिलाड़ी भी खुद को मैदान पर आने से नहीं रोक पाए थे।

इससे पहले अर्जेंटीना को वीडियो सहायक रेफरी की मदद से पेनल्टी मिली थी जिसे मेसी ने गोल में बदलने में कोई गलती नहीं की। तब सऊदी अरब के साद अब्दुल हमीद ने बॉक्स के अंदर अर्जेंटीना के मिडफील्डर लिएंड्रो परेडेस की जर्सी को खींचा था।

अर्जेंटीना ने मध्यांतर तक अपनी बढ़त बरकरार रखी थी लेकिन दूसरे हाफ में उसका खेल बेहद खराब रहा जिसका सऊदी अरब ने पूरा फायदा उठाया।सऊदी अरब ने गोल पर पहला शॉट 48वें मिनट में लगाया और सालेह अलशहरी के इस शॉट से उसने अर्जेंटीना की बराबरी भी की।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

890 की रेटिंग! T20I में नंबर 1 बनने के बाद भी सूर्या उदय की ओर