Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कैसा है Cryptocurrency का बाजार, इन 5 पर निवेशकों की नजर

webdunia
मंगलवार, 28 सितम्बर 2021 (16:14 IST)
क्रिप्टो करेंसी को डिजिटल करेंसी भी कहा जाता है। आज दुनियाभर में इसका चलन तेजी से बढ़ रहा है। यह केवल ऑनलाइन ही उपलब्ध है और इसमें हम फिजिकल लेन देन नहीं कर सकते। इन करेंसी में क्रिप्टोग्राफी का इस्तमाल होता है। इंटरनेट के माध्यम से सामान खरीदते समय या सर्विस लेते समय हम इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। दुनिया में इस समय करीब 1000 क्रिप्टोकरेंसी काम कर रही है लेकिन सबसे ज्यादा लोकप्रियता बिटकॉइन को ही मिली।
 
क्रिप्टो करेंसी डिसेंट्रलाइज्ड करेंसी है और इस पर किसी सरकार, बोर्ड या एजेंसी का हाथ नहीं होता। इस तरह इसके मूल्य को रेग्यूलेट नहीं किया जा सकता। अत: दुनियाभर के अधिकांश देशों में इसे सरकारों का समर्थन हासिल नहीं है। इस बाजार में काफी उतार चढ़ाव रहता है। अत: यह एक ऐसा बाजार है जो रंक को पल भर में राजा बना सकता है और कुछ ही सेंकड में राजा भी रंक बन जाता है।
 
बहरहाल अगर आप क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना चाहते हैं तो पर्याप्त रिसर्ज के बाद है कोई कदम उठाए। यह बाजार शेयर बाजार की तुलना में कई गुना ज्यादा रिस्की है अत: यहां ज्यादा धैर्य की आवश्यकता है। छोटे निवेश से शुरू करें और एक ही क्रिप्टोकरेंसी में निवेश कर धीरे धीरे आगे बढ़े।
 
क्रिप्टो करेंसी में कैसे कर सकते हैं निवेश : क्रिप्टकरेंसी में निवेश करना बेहद आसान है। इसके लिए आपको सही प्लेटफॉर्म का चयन करना होगा। क्रिप्टोकरेंसी में निवेश के लिए प्ले स्टोर पर कई तरह के एप्स मौजूद है। इनमें से एक वजीरेक्स है। जो भारतीय क्रिप्टोकरेंसी निवेशकों में काफी लोकप्रिय है।
 
बिटकॉइन : बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी है जि‍सका इस्तेमाल वैश्वि︂क स्तर पर लेन-देन के लिए किया जा सकता है। कम्प्यूटर नेटवर्कों के जरिए इस मुद्रा से बिना किसी मध्‍यस्‍थता के लेन-देन किया जा सकता है। बताया जाता है कि 2008-09 में सतोषी नाकामोतो नामक एक सॉफ्टवेयर डेवलपर बिटकॉइन को प्रचलन में लाया था। सरल शब्दों में यह आपका डिजिटल पर्स होता है जिसमें आपकी बिटकॉइन रखी होती है जिसे आप किसी दूसरे के पर्स में सीधे डाल सकते हैं। इसमें काफी उतार चढ़ाव रहता है। भारत में 1 बिटकॉइन की वैल्यू 30,95,289 रुपए हैं।
 
इथरियम (Eatherum) : बिटकॉइन की तरह ही इथरियम भी एक लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी है। इसे इथर भी कहा जाता है। 2015 में लांच होने के बाद, इथर की लोकप्रियता और इसकी वेल्यू दोनों ही काफी तेजी से बढ़ी। इसे 19 वर्ष के विटालिक बुटेरिन नामक बिटकॉइन प्रोग्रामर ने बनाया था। सन 2013 में यह सबसे पहले दुनिया के सामने आई और 2015 में इसे ऑफिशियली लांच किया गया। मात्र 6 वर्षों में इसमें लगभग 6,800 प्रतिशत से भी ज्यादा का इजाफा हुआ। भारत में 1 इथरियम का मूल्य 2,15,149 रुपए हैं।
 
करडानो (cardano) : करडानो भी एक लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी है। विशेषज्ञ इस वर्चुअल करेंसी में अपार संभावनाएं देखते हैं। अगस्त 2021 में यह दुनिया की तीसरी सबसे वैल्यूएबल क्रिप्टो करेंसी बन गई। वर्तमान में इसका मार्केट कैप लगभग $72 बिलियन (लगभग 5,31,416 करोड़ रुपए) होने का अनुमान है। 1 करडानो की कीमत करीब 168.60 रुपए हैं। 
 
डॉग कॉइन (Dogecoin) : डॉग कॉइन एक क्रिप्टो करेंसी है। इसकी शुरुआत 2013 में प्रसिद्‍ध सॉफ्टवेअर कंपनी IBM के दो सॉफ्टवेयर इंजीनियर बिली मार्कस और जैक्सन पामर ने की थी। शुरुआत में इसे क्रिप्टोकरेंसी पर मजाक माना गया पर धीरे-धीरे इसकी लोकप्रियता बढ़ने लगी। इसे क्रिप्टो करेंसी की दुनिया में चौथी सबसे लोकप्रिय करेंसी माना जाता है।
टिथर (Tither) : अप्रैल 2019 में टीथर ने वॉल्यूम के आधार पर बिटकॉइन को पहली दफा पीछे छोड़ दिया था। उस समय टीथर का दैनिक वॉल्यूम $21अरब प्रति दिन का था, जो बिटकॉइन से 18 फीसदी अधिक था। इसके बाद से यह क्रिप्टोकरेंसी की दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण करेंसी के रूप में जानी जाने लगी। वर्तमान में यह 5वें नंबर की सबसे लोकप्रिय करेंसी है। एक टीथर की कीमत करीब एक डॉलर है।
 
बहरहाल क्रिप्टोकरेंसी को भारत में सरकार ने अभी मान्यता नहीं दी है। अत: इसमें निवेश सोच समझकर ही करना चाहिए।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

क्रिकेटर से नेता बने सिद्धू के राजनीति में 'हिटविकेट' होने की कहानी