दद्दू का दरबार : क्या भारतीय आलसी होते हैं...

प्रश्न : दद्दूजी, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च की एक रिपोर्ट कहती है कि आधे से अधिक भारतीय सुस्ती और आलस का शिकार हैं। यह बात सच है और यदि सच है तो क्या इसका कोई सबूत है?
 
उत्तर : अमूमन बात सही लगती है और इसका सबूत यह है कि देश के किसी चुनाव में मतदान का प्रतिशत 60 तक पहुंच जाए उसे अच्छा मान लिया जाता है। यदि मतदान प्रतिशत 80-90% तक हो जाए तो कई सत्ताधारी दलों का पटिया उलाल हो सकता है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख अक्षय कुमार अब चीन में करने जा रहे हैं धमाका