दही हो जाता है ज़हर, जब उसमें डालते हैं नमक, पढ़ें हैरान कर देने वाला सच

हम में से कई लोगों को आदत होती है दही में नमक डाल कर खाने की... आयुर्वेद के विशेषज्ञ कहते हैं कि यह आदत खतरनाक है क्योंकि नमक डालने से दही ज़हर बन जाता है, आइए जानें विस्तार से क्या है इस दावे का सच... 

ALSO READ: दही के 10 बेमिसाल फायदे पढ़कर आप खुश होंगे...
 
पिछले दिनों दिनों एक ही चर्चा सामने आई है कि दही को अगर खाना है, तो हमेशा मीठी चीज़ों के साथ खाना चाहिए, जैसे चीनी, गुड़ या बूरे के साथ। 
 
आयुर्वेद कहता है कि इसे आप स्वयं जान सकते हैं कि क्यों दही नमक के साथ ज़हर हो जाता है....

जब दही को लैंस की सहायता से देखा जाता है तो उसमें असंख्य बैक्टेरिया चलते फिरते नजर आते हैं। यह बैक्टेरिया जीवित अवस्था में ही हमारे शरीर में जाने चाहिए, क्योंकि जब हम दही खाते हैं तो हमारे अंदर एंजाइम प्रोसेस सुचारू रूप से चलता है। 

ALSO READ: दही जमाने की तरक़ीब किसकी खोज है?
 
हम दही को केवल इन्हीं बैक्टेरिया के लिए खाते हैं। दही को आयुर्वेद की भाषा में जीवाणुओं का घर माना जाता है, एक कप दही में आपको करोड़ों जीवाणु नजर आएंगे। 
 
अगर आप दही में एक चुटकी नमक मिला लें तो एक मिनट में सारे बैक्टीरिया मर जाएंगे और उनके मृत शरीर हमारे भीतर जाएंगे जो हमारे किसी काम नहीं आएंगे। अगर आप 100 किलो दही में एक चुटकी नामक डालेंगे तो दही के सारे बैक्टीरियल गुण खत्म हो जाएंगे क्योंकि नमक में जो केमिकल्स है वह जीवाणुओं के दुश्मन है। 
 
आयुर्वेद में कहा गया है कि दही में ऐसी चीज़ मिलाएं, जो उसमें मौजूद जीवाणुओं की संख्या बढ़ाए ना कि खत्म करें।  
 
दही को गुड़ के साथ खाइये, गुड़ डालते ही जीवाणुओं की संख्या दो गुनी हो जाती है और वह सेहत के लिए फायदेमंद हो जाता है। 
 
अगर दही में मिश्री को डाला जाए तो यह सोने पर सुहागे का काम करेगी। 
 
भगवान कृष्ण भी दही को मिश्री के साथ ही खाते थे। 

ALSO READ: लाजवाब उड़द-भुट्‍टे के दही-बड़े बनाने की सरल विधि...

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख बालगीत : बचपन फिर बेताब हो रहा...